scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Lok Sabha Elections: पहले दूसरे दलों के नेता जोड़ बीजेपी ने पंजाब में बढ़ाया कुनबा, अब जमीन पर बेस बनाने के लिए इस प्लान पर कर रही काम

Punjab Politics: भारतीय जनता पार्टी पंजाब में पार्टी के विस्तार के लिए कई योजनाओं पर काम कर रही है, जिनमें केंद्र सरकार की योजनाएं प्रमुख हैं।
Written by: नवजीवन गोपाल
Updated: November 15, 2023 14:28 IST
lok sabha elections  पहले दूसरे दलों के नेता जोड़ बीजेपी ने पंजाब में बढ़ाया कुनबा  अब जमीन पर बेस बनाने के लिए इस प्लान पर कर रही काम
Punjab Politics: बीजेपी पंजाब में विस्तार के लिए केंद्र की योजनाओं का सहारा ले रही है। (एक्सप्रेस फाइल)
Advertisement

Punjab Politics: लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पंजाब में अपना विस्तार करने की योजना पर काम कर रही है। इसके लिए भाजपा हाईकमान को केंद्र सरकार की प्रमुख कल्याणकारी योजनाओं पर काफी भरोसा है।

मंगलवार को सुनाम में राज्य भाजपा संगठन सचिव मंथरी श्रीनिवासुलु की अध्यक्षता में एक बैठक हुई। बैठक में संगरूर संसदीय क्षेत्र के पार्टी नेतृत्व को केंद्र की कल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों तक पहुंचने और आगामी लोकसभा चुनावों के लिए उनका समर्थन मांगने के लिए कहा गया।

Advertisement

भगवंत मान का गढ़ रहा है संगरूर

सुनाम विधानसभा क्षेत्र संगरूर में पड़ता है, जो मुख्यमंत्री भगवंत मान का गढ़ रहा है, जिन्होंने लोकसभा में दो बार इसका प्रतिनिधित्व किया। पिछले साल विधानसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी की भारी जीत के बाद मान ने सीएम पद संभालने के लिए लोकसभा से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद हुए उपचुनाव में यह सीट शिरोमणि अकाली दल (अमृतसर) के सिमरनजीत सिंह मान ने जीती।

मंगलवार को हुई बैठक इस निर्वाचन क्षेत्र में लगभग एक महीने के बाद दूसरी बैठक थी, जहां भाजपा उन क्षेत्रों में मतदाताओं को लुभाने के लिए अपना खाका तैयार कर रही है, जहां वो पूरी तरह से लगभग निष्क्रिय थी, क्योंकि उसकी पूर्व सहयोगी शिरोमणि अकाली दल वहां सक्रिय थी। पहली बैठक पिछले महीने संगरूर में हुई थी और अगली बैठक संगरूर लोकसभा सीट के तहत एक अन्य विधानसभा क्षेत्र बरनाला में होने वाली है।

सुनाम में हुई बैठक में संगरूर लोकसभा सीट से भाजपा नेतृत्व ने भाग लिया, जिसमें मालेरकोटला, संगरूर-1 और संगरूर-2 संसदीय सीट के संयोजक जतिंदर कालरा और लगभग एक दर्जन अन्य नेताओं के जिला अध्यक्ष शामिल थे।

Advertisement

बीजेपी पहली बार ग्रामीण क्षेत्रों में बना रही पकड़

राज्य में बीजेपी पहली बार ग्रामीण क्षेत्रों में पैर जमाने की कोशिश कर रही है, जो राज्य में बड़े पैमाने पर शहरी क्षेत्रों तक ही सीमित थी। इस बार बीजेपी वोट बैंक को मजबूत करने की कोशिश करने में लगी है। जिसके लिए वो जमीनी स्तर (बूथ स्तर) पर काम करने में जुटी है।

बैठक में शामिल हुए भाजपा संगरूर-2 के जिला अध्यक्ष ऋषि पाल खेड़ा ने कहा कि पार्टी ने उन्हें बूथ स्तर पर ध्यान केंद्रित करने के लिए कहा है। उदाहरण के लिए, सुनाम विधानसभा में 209 बूथ हैं और हमारे पास पांच मंडल प्रधान (ब्लॉक अध्यक्ष) हैं, जो लगभग 40 बूथों की जिम्मेदारी संभालते हैं। उन्होंने कहा कि हमें शक्ति केंद्र स्थापित करने के लिए कहा गया है, जिसका नेतृत्व एक पार्टी कार्यकर्ता करेगा, जो दो गांवों पर ध्यान केंद्रित करेगा और चुनाव के लिए लगभग 15 से 20 पार्टी स्वयंसेवकों की एक टीम बनाएगा।

खेड़ा ने कहा कि संगरूर के पार्टी नेताओं को केंद्र प्रायोजित योजनाओं के लाभार्थियों तक पहुंचने के लिए कहा गया है। उन्होंने कहा, "हमने पहले ही ऐसे लाभार्थियों की सूची प्राप्त कर ली है और हमारे कार्यकर्ता उनसे संपर्क करेंगे।"

बैठक में शामिल हुए भाजपा मालेरकोटला जिला अध्यक्ष जगत कथूरिया ने कहा, “प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, आयुष्मान भारत जैसी कई योजनाएं हैं। केंद्र उर्वरकों पर सब्सिडी भी देता है। कथूरिया ने कहा, हम समाज के हर वर्ग से संपर्क करेंगे।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो