scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

200 से ज्यादा रैली, 80 इंटरव्यू... 75 दिन तक चला PM मोदी का चुनावी प्रचार खत्म, इस बार क्या रहा खास

PM Modi Lok Sabha Polls Campaign: प्रधानमंत्री चुनाव प्रचार के अंत में आध्यात्मिक यात्रा करने के लिए जाने जाते हैं। इसी क्रम में वे आज (30 मई) कन्याकुमारी पहुंचेंगे और 1 जून तक वहीं रहेंगे।
Written by: न्यूज डेस्क
नई दिल्ली | Updated: May 30, 2024 17:27 IST
200 से ज्यादा रैली  80 इंटरव्यू    75 दिन तक चला pm मोदी का चुनावी प्रचार खत्म  इस बार क्या रहा खास
PM Modi Lok Sabh Polls Campaign: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (एक्सप्रेस फाइल)
Advertisement

PM Modi Lok Sabha Polls Campaign: लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण का प्रचार अभियान आज थम गया। पीएम मोदी ने शनिवार को होने वाले आम चुनाव के लिए गुरुवार को पंजाब के होशियारपुर में अपना चुनाव अभियान समाप्त किया। भाजपा अपने तीसरे कार्यकाल की ओर देख रही है और प्रधानमंत्री मोदी ने देश भर में अपनी पार्टी के लिए बड़े स्तर पर प्रचार किया। अपने लोकसभा चुनाव अभियान को समाप्त करने के बाद पीएम मोदी 30 मई से 1 जून तक तमिलनाडु के कन्याकुमारी का दौरा करने वाले हैं, जहां वह प्रसिद्ध विवेकानंद रॉक मेमोरियल जाएंगे।

प्रधानमंत्री मोदी ने 30 मई की शाम से 1 जून की शाम तक ध्यान मंडपम में ध्यान करने की योजना बनाई है । यह वही स्थान जहां स्वामी विवेकानंद ने एक बार ध्यान किया था। यह भारत का सबसे दक्षिणी छोर है। इसके अलावा, यह वह स्थान है जहां भारत की पूर्वी और पश्चिमी तटरेखाएं मिलती हैं। यह हिंद महासागर, बंगाल की खाड़ी और अरब सागर का मिलन बिंदु भी है। पीएम मोदी कन्याकुमारी जाकर राष्ट्रीय एकता का संकेत दे रहे हैं।प्रधानमंत्री चुनाव प्रचार के अंत में आध्यात्मिक यात्रा करने के लिए जाने जाते हैं। इसी क्रम में वे 30 मई को कन्याकुमारी पहुंचेंगे और 1 जून तक वहीं रहेंगे।

Advertisement

2019 में उन्होंने केदारनाथ और 2014 में शिवाजी के प्रतापगढ़ का दौरा किया था। पीएम ने इस साल 16 मार्च को कन्याकुमारी में चल रहे लोकसभा चुनाव के लिए अपने चुनाव अभियान की शुरुआत की थी। प्रधानमंत्री ने 75 दिनों में 200 से अधिक चुनाव अभियान कार्यक्रमों में भाग लिया। जिनमें 2024 में होने वाले लोकसभा चुनावों के लिए उनकी रैलियां और रोड शो शामिल हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने लोकसभा चुनाव के सात चरणों के लिए विभिन्न निर्वाचन क्षेत्रों में रैलियां कीं। जिन प्रमुख राज्यों में उन्होंने सबसे अधिक रोड शो और रैलियां कीं, उनमें उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र और ओडिशा शामिल हैं।

Advertisement

पीएम मोदी ने विभिन्न मीडिया संगठनों को रिकॉर्ड संख्या में इंटरव्यू भी दिए और केंद्र में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार द्वारा किए गए विकास कार्यों पर प्रकाश डाला। उन्होंने धर्म के आधार पर आरक्षण, नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए), अयोध्या में राम मंदिर, जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को हटाने और अन्य सहित विभिन्न मुद्दों पर विपक्ष की आलोचना की ।

Advertisement

न्यूज एजेंसी ANI के साथ एक इंटरव्यू में पीएम मोदी ने 2024 के लोकसभा चुनावों में पश्चिम बंगाल में अपनी पार्टी के प्रदर्शन के बारे में बात की और कहा कि पार्टी अच्छे मार्जिन से जीत हासिल करेगी।

पीएम मोदी ने कहा था कि बंगाल चुनाव में टीएमसी पार्टी अस्तित्व की लड़ाई लड़ रही है। आपने पिछले विधानसभा चुनाव में देखा होगा, हमारे पास तीन सीटें थीं। बंगाल के लोगों ने हमें तीन से 80 तक पहुंचाया। पिछले चुनाव में हमें लोकसभा में बहुत समर्थन मिला था। इस बार भारत में सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाला राज्य पश्चिम बंगाल होने जा रहा है। भाजपा को पश्चिम बंगाल में सबसे ज्यादा सफलता मिल रही है।

कांग्रेस और गांधी परिवार पर उनके कार्यकाल के दौरान संविधान में संशोधन करने का आरोप लगाते हुए पीएम मोदी ने कहा कि जब तक वे जीवित हैं, वे किसी को भी संविधान के मूल सिद्धांतों के साथ खिलवाड़ नहीं करने देंगे।

इंडिया टुडे के साथ एक इंटरव्यू में विपक्ष के इस दावे के बारे में पूछे जाने पर कि अगर भाजपा सत्ता में आती है तो संविधान को फिर से लिखा जाएगा, प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, "जो सवाल पूछा जाना चाहिए वह यह है कि संविधान के साथ सबसे पहले किसने खिलवाड़ किया? पंडित नेहरू ने किया। वे पहला संशोधन लाए, जिसका उद्देश्य अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को प्रतिबंधित करना था। फिर उनकी बेटी (इंदिरा गांधी) ने संशोधन लाकर कोर्ट के फैसले को पलट दिया। फिर उनके बेटे (राजीव गांधी) ने आकर शाहबानो के फैसले को पलट दिया। उन्होंने संविधान को बदल दिया।"

मोदी ने कहा कि उन्होंने मीडिया को प्रतिबंधित करने के लिए एक कानून बनाया। विपक्ष मजबूत था और मीडिया भी मजबूत हो रहा था। उन्होंने कहा कि वे एक और आपातकाल लागू नहीं होने देंगे। इससे वे डर गए और उन्हें वापस लेना पड़ा। कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर अध्यादेश की एक प्रति फाड़ने के लिए भी हमला किया, जिसे 2013 में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पारित किया था। बाद में मनमोहन सिंह के नेतृत्व वाली सरकार ने अध्यादेश वापस ले लिया।

मोदी ने कहा कि फिर उनके बेटे (राहुल गांधी) आए, उस समय रिमोट कंट्रोल सरकार चल रही थी और उनके पास अपनी पसंद का प्रधानमंत्री था। संविधान के अनुसार गठित मंत्रिमंडल ने एक निर्णय लिया और एक 'शहजादा' आया और सार्वजनिक रूप से मंत्रिमंडल के निर्णय की धज्जियां उड़ा दीं। बाद में मंत्रिमंडल ने भी अपने निर्णय को पलट दिया।"

पीएम मोदी ने यह भी कहा कि 'एक राष्ट्र, एक चुनाव' का कार्यान्वयन, जो उनकी पार्टी, भाजपा द्वारा अपने चुनावी घोषणापत्र में किए गए प्रमुख वादों में से एक है, उनकी सरकार की "प्रतिबद्धता" है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एएनआई को दिए इंटरव्यू में कहा कि पूर्व राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की अध्यक्षता में वन नेशन, वन इलेक्शन पर रिपोर्ट तैयार करने के लिए गठित समिति को बहुत सकारात्मक और अभिनव सुझाव मिले हैं।

उन्होंने कहा कि वन नेशन, वन इलेक्शन हमारी प्रतिबद्धता है। हमने संसद में भी इस बारे में बात की है। हमने एक समिति भी बनाई है। समिति ने अपनी रिपोर्ट भी सौंप दी है। इसलिए वन नेशन, वन इलेक्शन के संदर्भ में देश में बहुत से लोग जुड़े हैं। कई लोगों ने समिति को अपने सुझाव दिए हैं। समिति को बहुत सकारात्मक और अभिनव सुझाव मिले हैं और अगर हम इस रिपोर्ट को लागू करने में सक्षम होते हैं तो देश को बहुत लाभ होगा।

बता दें, आठ राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में फैले 57 लोकसभा क्षेत्रों के मतदाता शनिवार को सातवें और अंतिम चरण के मतदान में अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे, जो लगभग 44 दिनों तक चले मतदान की समाप्ति है। 543 लोकसभा सीटों के लिए चुनाव 19 अप्रैल से शुरू होकर सात चरणों में हो रहे हैं। मतों की गिनती 4 जून को होगी।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 चुनाव tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो