scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

कर्नाटक बीजेपी में बढ़ी टेंशन, अमित शाह से नहीं मिल पाए केएस ईश्वरप्पा, अब की निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा

बीएस येदियुरप्पा को टारगेट करते हुए केएस ईश्वरप्पा ने कहा कि एक परिवार के पास राज्य बीजेपी की सारी शक्तियां हैं।
Written by: न्यूज डेस्क
नई दिल्ली | Updated: April 04, 2024 16:05 IST
कर्नाटक बीजेपी में बढ़ी टेंशन  अमित शाह से नहीं मिल पाए केएस ईश्वरप्पा  अब की निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा
केएस ईश्वरप्पा। (इमेज-twitter/ikeshwarappa)
Advertisement

Lok Sabha Elections: लोकसभा चुनाव से पहले कर्नाटक राज्य में लगातार टेंशन बनी हुई है। राज्य के पूर्व उपमुख्यमंत्री और बीजेपी नेता केएस ईश्वरप्पा (KS Eshwarappa) ने निर्दलीय चुनाव लड़ने की घोषणा की है। उनका कहना है कि वह पूर्व सीएम बीएस येदियुरप्पा के बेटे और मौजूदा सांसद बी वाई राघवेंद्र के खिलाफ शिवमोगा से चुनाव लड़ेंगे। वह केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से मिलना चाह रहे थे लेकिन वह उनसे मिल नहीं पाए।

कर्नाटक के पूर्व डिप्टी सीएम केएस ईश्वरप्पा ने बगावत के तेवर अभी नरम नहीं किए हैं। उन्होंने शिवमोगा लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि अब वह अपनी लड़ाई को अंत तक लेकर जाएंगे।

Advertisement

बीजेपी नेतृत्व के सामने रखी ये शर्त

ईश्वरप्पा ने बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व के सामने यह शर्त रखी है कि राज्य के प्रदेश अध्यक्ष बीवाई विजयेंद्र को अध्यक्ष पद से हटाया जाना चाहिए। इसके बाद ही वह शिवमोगा में चुनाव नहीं लड़ने के अपने फैसले को वापस लेने पर सहमत होंगे। बीएस येदियुरप्पा को टारगेट करते हुए उन्होंने कहा कि एक परिवार के पास राज्य बीजेपी की सारी शक्तियां हैं। यह कार्यकर्ताओं की भावना को ठेस पहुंचाती हैं।

ईश्वरप्पा ने कहा कि उनकी लड़ाई कर्नाटक में एक परिवार के खिलाफ है। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी कहते थे कि कांग्रेस पार्टी में परिवारवाद है। इसी तरह कर्नाटक में बीजेपी एक परिवार के हाथों में है। परिवार को उस पार्टी से मुक्त कर देना चाहिए। मैं कार्यकर्ताओं के दुख को कम करन के लिए चुनाव लड़ूंगा। बीजेपी नेता ने कहा कि मैं गड़बड़ी को ठीक करने के लिए चुनाव लड़ रहा हूं। मैं इस फैसले से वापस नहीं हटूंगा। मैं आपका सम्मान करूंगा और दिल्ली आऊंगा। ईश्वरप्पा ने कहा कि उनके बेटे ने उनसे कहा था कि भले ही राजनीति में उनका भविष्य रहे या ना रहे लेकिन पार्टी में सफाई रहनी चाहिए।

Advertisement

कर्नाटक में कब होंगे लोकसभा इलेक्शन

कर्नाटक में दो चरणों में चुनाव होने वाले हैं। बता दें कि यहां 28 लोकसभा सीट हैं, इनमें से 14 लोकसभा सीट पर दूसरे चरण में चुनाव 26 अप्रैल को होगा। वहीं, बाकी के 14 लोकसभा सीटों पर तीसरे चरण में 7 मई को मतदान होगा। कर्नाटक में में कुल 5.21 करोड़ वोटर्स हैं। इसमें पुरुष मतदाता 2.62 करोड़ और 2.59 करोड़ महिला वोटर्स हैं।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो