scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

इतिहास बन जाएगी कोलकाता की ऐतिहासिक ट्राम? तीन रूट्स पर बंद करने का लिया गया फैसला, जानिए वजह

परिवहन विभाग की ओर से ऐतिहासिक ट्राम को संरक्षित करने के लिए केवल दो रूटों पर ही जोर दिया जा रहा है। पढ़िए शंकर जालान की यह रिपोर्ट।
Written by: न्यूज डेस्क
November 10, 2023 19:11 IST
इतिहास बन जाएगी कोलकाता की ऐतिहासिक ट्राम  तीन रूट्स पर बंद करने का लिया गया फैसला  जानिए वजह
इसी साल ट्राम सेवा के 150 साल पूरे हुए हैं। (File Photo- Express/Partha Paul)
Advertisement

कोलकाता महानगर में अनावश्यक ट्राम लाइनों को हटाने संबंधी पत्र कोलकाता पुलिस ने परिवहन विभाग को लिखा है। पुलिस ने पत्र में शहर में ट्रामलाइनों की मौजूदगी के कारण दुर्घटनाएं बढ़ने, यातायात संचालन धीमा पड़ने की बात कही गई है। जाम की समस्या से निपटने के लिए अप्रयुक्त और अनावश्यक ट्राम लाइनों को हटाने को भी कहा है। इसके साथ ही उन सड़कों की सूची भी दे दी है, जिनसे ट्राम लाइनें हटाने को कहा गया है।

परिवहन विभाग के मुताबिक, कोलकाता पुलिस की ओर से भेजे गए पत्र में शामिल सड़कों की सूची से ट्राम लाइनें हटाने पर इस ऐतिहासिक सेवा के तीनों रूट बंद हो जाएंगे। कोलकाता की विरासत का पहिया थम जाएगा। हालांकि, परिवहन मंत्री स्नेहाशीष चक्रवर्ती ने आश्वस्त किया है कि शहर से किसी भी तरह से ट्राम को पूरी तरह से नहीं हटाया जाएगा। अप्रयुक्त लाइनें जिन पर ट्राम नहीं चलती हैं या भविष्य में चलाने की योजना नहीं है, उन्हें हटाने में समस्या नहीं हैं।

Advertisement

इधर, परिवहन विभाग की ओर से ऐतिहासिक ट्राम को संरक्षित करने के लिए केवल दो रूटों पर ही जोर दिया जा रहा है। विभाग खिदिरपुर-धर्मतला और धर्मतला-नोनापुकुर मार्ग (रूट) पर ही ट्राम सेवाओं के संचालन का पक्षधर है। इन दोनों रूटों पर अभी ट्राम नहीं चल रही हैं। चक्रवाती तूफान अम्फान के बाद से खिदिरपुर-धर्मतला मार्ग बंद है। इसी साल ट्राम सेवा के 150 साल पूरे हुए हैं। कोलकाता की ऐतिहासिक ट्रामों को संरक्षित करने का आदेश कलकत्ता उच्च न्यायालय ने भी दिया है।

सड़क दुर्घटना को कम करना मकसद

परिवहन मंत्री स्नेहाशीष चक्रवर्ती ने बताया कि सड़क दुर्घटनाओं को कम करना है। इसके साथ ही ट्रामों को भी संरक्षित करना है। ट्राम सेवा कभी बंद नहीं की जाएगी। ट्राम सेवा के रूट की जानकारी विस्तृत रूप से अदालत को दी जाएगी। कोलकाता नगर निगम, यातायात पुलिस, परिवहन विभाग बैठक कर रूटों पर चर्चा कर अंतिम निर्णय लेंगे।

Advertisement

कलकत्ता ट्राम यूजर्स एसोसिएशन के देवाशीष भट्टाचार्य ने कहा कि ट्राम लाइनें हटाने के लिए पुलिस की ओर से बताए जा रहे कारणों का आधार नहीं है। ट्राम लाइनों से दुर्घटनाएं बढ़ती हैं, इसका आंकड़ा नहीं दिया गया है। विरासत के संरक्षण के लिए लोगों को एक मंच पर आना चाहिए।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो