scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

राष्ट्रीय अधिवेशन से कैसे बदलेगी BJP की तस्वीर, पार्टी कार्यकर्ताओं को मिला ये बड़ा संदेश

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राष्ट्रीय अधिवेशन में ना सिर्फ कार्यकर्ताओं को जीत का मंत्र दिया बल्कि अधिवेशन में बीजेपी में संगठनात्मक स्तर पर भूमिका को लेकर भी तस्वीर साफ कर दी गई है।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Kuldeep Singh
नई दिल्ली | Updated: February 19, 2024 16:22 IST
राष्ट्रीय अधिवेशन से कैसे बदलेगी bjp की तस्वीर  पार्टी कार्यकर्ताओं को मिला ये बड़ा संदेश
पीएम मोदी ने बीजेपी नेताओं से अगले 100 दिनों तक नए जोश के साथ काम करने को कहा। (Photo Source: @BJP4India)
Advertisement

लोकसभा चुनाव से पहले दिल्ली के भारत मंडपम में हुए बीजेपी के राष्ट्रीय अधिवेशन में पार्टी के विजन को लेकर चर्चा की गई। लोकसभा चुनाव के बाद पार्टी का अगले पांच साल तक क्या करेगी इसकी रूपरेखा तैयार हो गई है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ना सिर्फ कार्यकर्ताओं को जीत का मंत्र दिया बल्कि अधिवेशन में बीजेपी में संगठनात्मक स्तर पर भूमिका को लेकर भी तस्वीर साफ कर दी गई है।

सीट बंटवारे में संगठन के लोगों को प्रमुखता

बीजेपी के राष्ट्रीय अधिवेशन में लोकसभा टिकट की उम्माए लगाए बैठे मौजूदा सांसदों को भी स्पष्ट संदेश दे दिया गया है। BJP ने साफ कर दिया है कि संगठन के निष्ठावान कार्यकर्ताओं को टिकट बंटवारे में तरजीह दी जाएगी। पार्टी मौजूदा सांसदों को नई भूमिका दे सकती है। पार्टी पहले ही स्थिति स्पष्ट कर चुकी है कि कुछ मौजूदा सांसदों के टिकट कटने तय हैं। इस फैसले से ना सिर्फ संगठन में काम कर रहे कार्यकर्ताओं का मनोबन बढ़ेगा बल्कि जिन सांसदों के टिकट कटने तय हैं उन्हें भी पार्टी नई जिम्मेदारी देने का भरोसा दे चुकी है।

Advertisement

अकेले दम पर 370 सीटें जीतने का मंत्र

राष्ट्रपति के अभिभाषण के दौरान प्रधानमंत्री ने लोकसभा में बीजेपी के अकेले दम पर 370 सीटें जीतने की बात कही थी। राष्ट्रीय अधिवेशन में भी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने इस बात को दोहराया। राष्ट्रीय अधिवेशन के बहाने पीएम मोदी ने कार्यकर्ताओं को स्पष्ट संदेश दे दिया है कि लोकसभा चुनाव में पार्टी एक बार फिर बहुमत के साथ सरकार बनाने में कामयाब होगी।

संसदीय बोर्ड का बढ़ा कद

राष्ट्रीय अधिवेशन में बीजेपी के संसदीय बोर्ड को लेकर बड़ा फैसला लिया गया है। बीजेपी ने इसमें शीर्ष संगठनात्मक निकाय या संसदीय बोर्ड को आपात स्थिति में अपने अध्यक्ष से जुड़े फैसले लेने की अनुमति दी गई है। इसमें अध्यक्ष के कार्यकाल और कार्यकाल के विस्तार से जुड़े फैसले लेने की शक्ति भी दे दी गई है। इस बदलाव का प्रस्ताव महासचिव सुनील बंसल ने दिया था जिसे सर्वसम्मति से स्वीकृति भी मिल गई है। बीजेपी के संविधान में अचानक हुए बदलाव के चलते अब बीजेपी में अध्यक्ष बदलने के लिए किसी प्रकार के चुनाव की कोई आवश्यकता ही नहीं पड़ेगी।

Advertisement

भारत मंडपम से दुनियाभर को संदेश

पीएम मोदी ने भारत मंडपम में कार्यकर्ताओं से कहा कि दुनिया भारत की ओर अपेक्षा के साथ देख रही है। अगर विश्व में शांति चाहिए तो इसके लिए भारत का सशक्त होना जरूरी है। पीएम ने कहा कि अभी चुनाव का ऐलान भी नहीं हुआ और उनके पास अगस्त तक से विदेशी दौरे से निमंत्रण आ चुके हैं। पीएम मोदी ने कहा कि दुनियाभर के देश इस बात को लेकर आश्वस्त हो चुके हैं कि बीजेपी एक बार फिर सत्ता में वापसी करने जा रही है। पीएम मोदी ने इस बयान के बहाने ये दिखाने की कोशिश की है कि पिछले 10 साल में भारत ने कूटनीतिक स्तर पर कितने अहम काम किए हैं। दुनियाभर में भारत का कद बढ़ा है।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो