scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Haldwani Violence: हल्द्वानी हिंसा का मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक गिरफ्तार, उत्तराखंड पुलिस ने दिल्ली से दबोचा

हल्दानी हिंसा के चलते देवभूमि में कई दिनों तक कर्फ्यू लगाया गया था। हालांकि अब वहां पर हालत कंट्रोल में हैं।
Written by: न्यूज डेस्क
नई दिल्ली | Updated: February 24, 2024 16:55 IST
haldwani violence  हल्द्वानी हिंसा का मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक गिरफ्तार  उत्तराखंड पुलिस ने दिल्ली से दबोचा
उत्तराखंड पुलिस लंबे वक्त से उसकी तलाश कर रही थी और अब उसे दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया गया है। (सोर्स - PTI)
Advertisement

उत्तराखंड के हल्द्वानी में कुछ हफ्ते पहले भीषण हिंसा देखने को मिली थी। नगर निगम की टीम बनभूलपुरा में अवैध मस्जिद और मदरसा गिराने गई थी और इसके चलते आक्रामक भीड़ ने नगर निगम टीम और पुलिसकर्मियों पर जोरदार हमला हुआ था। इस हिंसा का मुख्य आरोपी अब्दुल मलिक था जो कि लंबे वक्त से फरार था। आज उत्तरखंड पुलिस ने उसे दिल्ली से गिरफ्तार किया है। आरोपी के वकील अजय बहुगुणा और शलभ पांडे ने दावा किया है कि 8 फरवरी से फरार अब्दुल मलिक को उत्तराखंड पुलिस ने ही गिरफ्तार किया है।

बता दें कि हल्द्वानी के बनभूलपुरा कांड के मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक की गिरफ्तारी के बाद जमानत याचिका दाखिल की गई है। सेशन कोर्ट में एडीजे फर्स्ट की कोर्ट में अब्दुल मलिक की अग्रिम जमानत याचिका दाखिल हुई है। इस याचिका पर 27 फरवरी को अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई होगी। गौरतलब है कि उत्तराखंड पुलिस ने हल्द्वानी हिंसा केस में मुख्य आरोपी अब्दुल मलिक और उसकी पत्नी समेत 6 लोगों को धोखाधड़ी करने और आपराधिक साजिश रचने के आरोप में केस दर्ज किया था।

Advertisement

हल्द्वानी में हुई हिंसा के बाद अब्दुल मलिक फरार चल रहा था और पुलिस ने उसकी प्रॉपर्टी को भी कुर्क किया गया था। नैनीताल पुलिस ने हल्द्वानी के बनभूलपुरा हिंसा के मुख्य आरोपियों के पोस्टर जारी किए गए थे। इसमें 9 उपद्रवियों की पहचान की गई थी। हिंसा के इन आरोपियों की बात करें तो इसमें अब्दुल मलिक के अलावा तस्लीम, वसीम, अयाज अहमद, अब्दुल मोईद, रईस, शकील अंदासी और मौकिन सैफी और जिया उल रहमान का नाम शामिल था।

बनभूलपुरा में अतिक्रमण हटाने के दौरान अपद्रवियों ने पुलिस प्रशासन और मीडियाकर्मियों पर हमला कर दिया था। इस हिंसा में 6 लोगों की जान चली गई थी। इस हिंसा के चलते 300 लोग से ज्यादा घायल हो गए थे। हिंसा के बाद पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर 42 उपद्रवियों को दबोच लिया था। इनके पास से अवैध हथियार और कारतूस भी बरामद किए गए थे।

Advertisement

खास बात यह है कि हिंस के बाद जब पुलिस ने इसकी जांच की थी, तो सामने आया था कि अब्दुल मलिक के कहने पर ही इलाके में रहने वाले लोग भड़क उठे थे। पुलिस ने हिंसा के बाद अलग-अलग आरोपों में कुल 75 लोगों के खिलाफ एक्शन लेते हुए उन्हें गिरफ्तार कर लिया था।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो