scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

कविता के वकील ने गिरफ्तारी को बताया अवैध, BRS नेता बोलीं- हम पूरी ताकत से अदालत में लड़ेंगे

के. कविता के वकील ने ईडी पर उन्हें गिरफ्तार करते समय सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों का उल्लंघन करने का आरोप लगाया।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Nitesh Dubey
नई दिल्ली | Updated: March 16, 2024 14:47 IST
कविता के वकील ने गिरफ्तारी को बताया अवैध  brs नेता बोलीं  हम पूरी ताकत से अदालत में लड़ेंगे
के. कविता को ED ने गिरफ्तार कर लिया है। (PTI PHOTO)
Advertisement

तेलंगाना के पूर्व मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर की बेटी के. कविता को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने गिरफ्तार कर लिया है। दिल्ली शराब नीति घोटाले में ये गिरफ्तारी हुई है। ईडी ने शनिवार को बीआरएस नेता के. कविता को दिल्ली की अदालत में पेश किया। इस दौरान के. कविता ने कहा कि हम इसके खिलाफ अदालत में लड़ेंगे।

के. कविता के वकील ने ईडी पर उन्हें गिरफ्तार करते समय सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों का उल्लंघन करने का आरोप लगाया। के. कविता के वकील ने दिल्ली की अदालत से कहा कि ईडी द्वारा उनकी गिरफ्तारी अवैध है। वहीं ईडी ने कहा कि उसने सुप्रीम कोर्ट समेत किसी भी अदालत में ऐसा कोई बयान नहीं दिया है कि कविता के खिलाफ कोई दंडात्मक कार्रवाई नहीं की जाएगी। ईडी ने के. कविता पर सबूत नष्ट करने का आरोप लगाया।

Advertisement

शुक्रवार को ईडी और आयकर विभाग ने उनके हैदराबाद स्थित आवास पर तलाशी ली थी। आईटी और ईडी ने पिछले दिनों कविता को अपना बयान दर्ज कराने के लिए पेश होने के लिए नोटिस जारी किया था, लेकिन उन्होंने नोटिस के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील की थी और पेश होने से इनकार कर दिया था।

ईडी ने अपनी चार्जशीट में आरोप लगाया है कि कविता एक 'साउथ ग्रुप' का हिस्सा थी, जिसने दिल्ली उत्पाद शुल्क नीति के तहत अनुचित लाभ के बदले में आम आदमी पार्टी के नेताओं को 100 करोड़ रुपये का भुगतान किया था। हालांकि कविता ने आरोपों से इनकार किया है और ईडी के नोटिस को 'मोदी नोटिस' बताया है। इस मामले में आम आदमी पार्टी के तीन प्रमुख नेता मनीष सिसोदिया, संजय सिंह और विजय नायर पहले से ही जेल में हैं।

Advertisement

शराब नीति घोटाला से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को शनिवार को राउज एवेन्यू कोर्ट से बड़ी राहत मिली है। अरविंद केजरीवाल को 15 हजार रुपये के जमानती बॉन्ड और एक लाख रुपये के निजी मुचलके पर जमानत मिली है। अरविंद केजरीवाल को प्रवर्तन निदेशालय (ED) अब तक 8 समन जारी कर चुका है। जांच एजेंसी ने कोर्ट में सीएम केजरीवाल के खिलाफ दो शिकायतें दर्ज करवाईं हैं। इसी मामले में उनकी पेशी थी। ED की याचिका पर कोर्ट ने उन्हें 7 मार्च को समन जारी किया था।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो