scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

ED ने केजरीवाल और AAP को भी बनाया आरोपी, चार्जशीट में बताया कैसे शराब घोटाले से पार्टी को हुआ 45 करोड़ का फायदा

प्रवर्तन निदेशालय ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आरोप विनोद चौहान के व्हाट्सएप चैट की पूरी जानकारी दी।
Written by: न्यूज डेस्क
नई दिल्ली | July 10, 2024 15:56 IST
ed ने केजरीवाल और aap को भी बनाया आरोपी  चार्जशीट में बताया कैसे शराब घोटाले से पार्टी को हुआ 45 करोड़ का फायदा
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (इमेज-पीटीआई)
Advertisement

Delhi Excise Policy Case: द‍िल्‍ली के कथित शराब घोटाले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने चार्जशीट दाखिल कर दी है। ईडी ने अपनी चार्जशीट में केजरीवाल को आरोपी नंबर 37 बनाया गया है और आरोपी नंबर 38 पर आम आदमी पार्टी को रखा गया है।

Advertisement

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, चार्जशीट में प्रवर्तन निदेशालय ने कहा कि आम आदमी पार्टी ने कथित शराब घोटाले से मिले 100 करोड़ की रिश्वत में से 45 करोड़ रुपये हवाला के जरिये गोवा विधानसभा चुनाव में इस्तेमाल के लिए भेजा गया। चार्जशीट में कहा गया कि अरविंद केजरीवाल किंगपिन है और साजिशकर्ता हैं। गोवा चुनाव में इस्तेमाल हुए पैसों की उन्हें पूरी तरह से जानकारी थी और वे खुद भी इसमें शामिल थे।

Advertisement

ईडी ने व्‍हाट्सऐप चैट का दिया हवाला

प्रवर्तन निदेशालय ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आरोपी विनोद चौहान के व्‍हाट्सऐप चैट की पूरी जानकारी दी। आरोप है कि बीआरएस नेता के कविता के पीए विनोद के जरिये 25.5 करोड़ रुपये गोवा चुनाव के जरिये आम आदमी पार्टी तक पहुंचाए थे। चैट से यह साफ है कि विनोद चौहान के अरविंद केजरीवाल के साथ में अच्छे संबंध थे।

इस चार्जशीट में सबसे बड़ी बात यह है कि ईडी ने प्रोसीड ऑफ क्राइम के बारे में भी बताया है। इसमें कहा गया कि आरोपी विनोद चौहान के फोन से हवाला नोट नंबर के काफी सारे स्क्रीन शॉट बरामद हुए हैं। इतना ही नहीं ईडी ने कहा कि इनकम टैक्स ने भी इन्हें पहले बरामद किया था। यह सभी स्क्रीन शॉट इस बात की तरफ इशारा करते हैं कि कैसे विनोद चौहान ने प्रोसीड ऑफ क्राइम से मिली हुई रकम को दिल्ली से गोवा हवाला के जरिये ट्रांसफर कर रहा था। इन सब पैसों का इस्तेमाल गोवा के चुनाव में किया जाना था।

Advertisement

हवाला के जरिये गोवा पहुंचे पैसे

प्रवर्तन निदेशालय ने खुलासा करते हुए कहा कि जो भी पैसे गोवा में पहुंचे थे वहां पर इसका सभी मैनेजमेंट चनप्रीत सिंह कर रहा था। हवाला के जरिये जो पैसे गोवा में पहुंचे उन्हें लेकर विनोद चौहान और अभिषेक बॉन पिल्लई के बीच में जो बातचीत हुई उसके सबूत भी प्रवर्तन निदेशालय के पास में मौजूद हैं। अशोक कौशिक ने ही बॉन पिल्लई के कहने पर दो अलग-अलग तारीख पर विनोद के पास पैसे पहुंचाए। ईडी ने उसका बयान भी लिया है।

Advertisement

ईडी ने कहा कि विजय नायर की भी शराब नीति बनाने में अहम भूमिका थी। वह अरविंद केजरीवाल का काफी करीबी माना जाता है। वह केजरीवाल के इशारे पर ही काम कर रहा था। समीर महेंदू से पूछताछ में उसने बताया कि विजय नायर ने उसे बताया था कि शराब नीति के पीछे पूरा का पूरा खेल सीएम अरविंद केजरीवाल का ही है। प्रवर्तन निदेशालय ने कहा कि अरविंद केजरीवाल आप के राष्ट्रीय संयोजक हैं और इसीलिए पूरी जिम्मेदारी उन्हीं की है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 खेल tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो