scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Farmers Protest: कई रास्तों पर रोका गया आवागमन, चंडीगढ़, पंजाब और हरियाणा से आने-जाने के लिए जान लें वैकल्पिक रूट

किसान यूनियनों ने 13 फरवरी को विरोध प्रदर्शन का आह्वान किया है। कई सीमाओं को बंद करने से लोगों को आने-जाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में वैकल्पिक रास्तों के बारे में पहले से जान लें।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: संजय दुबे
नई दिल्ली | Updated: February 11, 2024 11:08 IST
farmers protest  कई रास्तों पर रोका गया आवागमन  चंडीगढ़  पंजाब और हरियाणा से आने जाने के लिए जान लें वैकल्पिक रूट
अंबाला में 13 फरवरी को होने वाले किसानों के दिल्ली मार्च से पहले कड़ी सुरक्षा के लिए तैनात अर्धसैनिक बल के जवान। (ANI Photo)
Advertisement

पंजाब, हरियाणा और यूपी के किसान संगठनों के आंदोलन को देखते हुए कई रास्तों को ब्लॉक किया जा रहा है। इससे आम लोगों को आवागमन में दिक्कतें हो सकती हैं। सब्जियों की कीमतें बढ़ने की भी आशंका तेज हो गई है। तीनों राज्यों के किसान संघों ने 13 फरवरी (मंगलवार) को विरोध प्रदर्शन का आह्वान किया है, जिसमें वे दिल्ली की ओर मार्च करेंगे। आंदोलनकारी किसानों के NH-44 के रास्ते अंबाला से दिल्ली की ओर बढ़ने की संभावना है।

दिक्कतों से बचने के लिए आम लोगों की जानकारी के लिए उन रास्तों की सूची यहां दी गई है, जिससे वे आसानी से आ जा सकते हैं।

Advertisement

दिल्ली से चंडीगढ़ यात्रा

दिल्ली से सोनीपत-पानीपत-करनाल-इंद्री-लाडवा (कुरुक्षेत्र) से उमरी चौक से लाडवा से रादौर से एनएच-344ए पर यमुनानगर से मुलाना से शहजादपुर से बरवाला से पंचकुला और फिर चंडीगढ़ के रास्ते जाएं। कोई भी व्यक्ति कुरूक्षेत्र से शाहबाद, साहा, शहजादपुर से पंचकुला और फिर चंडीगढ़ तक जा सकता है।

दिल्ली से पंजाब के शहरों- पटियाला, लुधियाना, जालंधर, अमृतसर आदि की यात्रा

दिल्ली से सोनीपत से पानीपत से करनाल से पिपली चौक और बायीं ओर मुड़कर कुरूक्षेत्र शहर से पेहोवा से चीका से पटियाला से लुधियाना से जालंधर और फिर आगे अमृतसर तक जा सकते हैं।

पंजाब के अमृतसर, जालंधर, पटियाला, लुधियाना आदि से दिल्ली की ओर

अमृतसर से जालंधर तक लुधियाना से चीका से पेहोवा तक और फिर NH-152D पर पहुंचें और आगे दिल्ली की ओर बढ़ें।

Advertisement

चंडीगढ़ से दिल्ली की यात्रा

चंडीगढ़ से पंचकुला तक रामगढ़ से बरवाला से शहजादपुर से मुलाना तक और फिर एनएच 344 पर चढ़कर यमुनानगर और फिर आगे रादौर से लाडवा से इंद्री से करनाल और एनएच 44 पर जाकर, पानीपत से सोनीपत और दिल्ली तक पहुंचें। दूसरा रास्ता चंडीगढ़ से पंचकुला, रामगढ़ से बरवाला, शहजादपुर, साहा, शाहबाद, पिपली, करनाल और एनएच 44 पर जाकर पानीपत, सोनीपत से दिल्ली पहुंच सकते हैं।

Advertisement

हिसार से चंडीगढ़ की यात्रा

हिसार से बरवाला, नरवाना, कैथल, चीका से पटियाला का रास्ता अपनाएं और फिर चंडीगढ़ पहुंचें। चंडीगढ़ से हिसार तक यात्रा करते समय भी यही मार्ग अपनाया जा सकता है।

नारनौल या रोहतक से चंडीगढ़ की ओर

एनएच 152डी के रास्ते से जाएं। पिहोवा क्रॉसिंग पर पहुंचें, वहां से चीका से पटियाला जाने वाली सड़क पर जाएं और चंडीगढ़ पहुंचें। चंडीगढ़ से नारनौल या रोहतक जाने के लिए भी यही रास्ता अपनाया जा सकता है।

अंबाला से चंडीगढ़ की यात्रा

अंबाला शहर से अंबाला छावनी की ओर जाएं, फिर कैपिटल चौक की ओर जाएं और फिर साहा से शहजादपुर, रामगढ़ से पंचकुला और फिर चंडीगढ़ पहुंचें। चंडीगढ़ से अंबाला तक यात्रा करते समय भी यही मार्ग अपनाया जा सकता है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो