scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

आधी रात बुलडोजर से ढहा दी गई दरगाह, 1000 से अधिक पुलिसकर्मी रहे तैनात

गुजरात के जूनागढ़ में इस दरगाह को 20 साल पहले भी तोड़ने की कोशिश की गई थी। तब भारी बवाल होने के बाद कार्रवाई को रोक दिया गया था।
Written by: न्यूज डेस्क
अहमदाबाद | March 10, 2024 16:47 IST
आधी रात बुलडोजर से ढहा दी गई दरगाह  1000 से अधिक पुलिसकर्मी रहे तैनात
बुलडोजर (Source- Representational Image/ Financial Express)
Advertisement

गुजरात के जूनागढ़ में देर रात पुलिस और प्रशासन की और बड़ी कार्रवाई की गई है। करीब 20 साल पुरानी एक दरगाह को पुलिस ने आधी रात में ढहा दिया गया। इस दौरान भारी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा है। सुबह जब लोग सोकर उठे तो उन्हें नजारा और बदला हुआ नजर आया। प्रशासन की ओर से दरगाह के अलावा दो मंदिरों पर भी कार्रवाई की गई है। प्रशासन ने पिछले साल भी इस दरगाह को तोड़ने की कोशिश की थी लेकिन भारी बवाल होने के बाद कार्रवाई को रोकना पड़ा था।

पिछले साल हुआ था बवाल

जूनागढ़ के मजवेड़ी गेट में आधी रात 2 बजे करीब 1000 से अधिक पुलिसकर्मियों के साथ प्रशासन की टीम बुलडोजर लेकर पहुंची। पुलिस ने पूरे इलाके को घेर लिया और बुलडोजर से दरगाह को ढहा दिया गया। प्रशासन की यह कार्रवाई सुबह 5 बजे तक चली। करीब 3 घंटे की इस कार्रवाई में दरगाह का मलबा मौके से हटा दिया गया।

Advertisement

पिछले साल जब प्रशासन की टीम यहां कार्रवाई के लिए पहुंची तो हिंसक भीड़ ने पत्थरों से अटैक कर कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया था। इस हिंसा में कई लोग घायल भी हो गए थे। प्रशासन के मुताबिक यह दरगाह अवैध जमीन पर बनी थी।

बता दें कि पिछले दिनों उत्तराखंड के हल्द्वानी में भी एक अवैध मदरसे को तोड़ने को लेकर भारी बवाल हुआ था। इस दौरान भीड़ ने पुलिस पर पत्थर और पेट्रोल बम से हमला कर दिया। इस हिंसा में 5 लोगों की मौत हो गई थी। पुलिस ने इस हिंसा के मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक को गिरफ्तार कर लिया है। उत्तराखंड सरकार उपद्रवियों से सरकारी और निजी संपत्ति को हुए नुकसान को लेकर एक अध्यादेश भी लेकर आई है।

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो