scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

CAA Rules Notification: CAA के तहत नागरिकता के लिए कैसे करना होगा अप्लाई? इन स्टेप्स के जरिये समझें पूरी प्रक्रिया

CAA Rules Notification: सीएए पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से आए बिना दस्तावेज वाले गैर-मुस्लिम प्रवासियों को नागरिकता देने के लिए है।
Written by: न्यूज डेस्क
नई दिल्ली | Updated: March 12, 2024 11:22 IST
caa rules notification  caa के तहत नागरिकता के लिए कैसे करना होगा अप्लाई  इन स्टेप्स के जरिये समझें पूरी प्रक्रिया
नागरिकता संशोधन अधिनियम। (इमेज- फाइल फोटो)
Advertisement

CAA Rules Notification: केंद्र सरकार ने आगामी लोकसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान से पहले ही देश में नागरिकता संशोधन कानून लागू कर दिया है। इस कानून के लागू होने से पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश के गैर-मुस्लिम शरणार्थियों को भारतीय नागरिकता मिल सकेगी। इसके साथ ही नागरिकता के इंतजार में बैठे शरणार्थियों में खुशी का माहौल है। हालांकि, सिटिजन अमेंडमेंट एक्ट के लिए कड़े नियम भी है, जिनके तहत नागरिकता हासिल करने की कोशिश कर रहे लोगों कौ गौर करने की जरूरत है।

जो व्यक्ति धार्मिक उत्पीड़न के कारण पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से 31 दिसंबर 2014 से पहले भारत चले आए और छह धार्मिक अल्पसंख्यकों- हिंदू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी और ईसाई से संबंधित हैं। वे लोग नागरिकता हासिल करने के लिए आवेदन दे सकते हैं। CAA कानून से भारतीय नागरिकों के अधिकारों पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा।

Advertisement

सीएए नियमों के तहत क्या है प्रक्रिया

  • कानून की धारा 6 के अनुसार रजिस्ट्रेशन के लिए केंद्र सरकार की तरफ से जिला स्तरीय समिति को आवेदन देना होगा।
  • नामित अधिकारी की अध्यक्षा वाली कमेटी आवेदन के साथ आवेदक के द्वारा दिए गए डॉक्यूमेंट्स की जांच करेगी।
  • अधिकारी आवेदन करने वाले व्यक्ति को नागरिकता अधिनियम 1955 की दूसरी अनुसूची में मौजूद निष्ठा की शपथ दिलाएगा। फिर शपथ पर साइन करेगा।
  • अगर कोई भी आवेदन करने वाला व्यक्ति निष्ठा की शपथ लेने के समय पर गायब रहता है तो जिला स्तरीय कमेटी ऐसे आवेदन पर विचार करने से इनकार करने के लिए अधिकार प्राप्त कमेटी को भेजेगी।
  • नियम 11 ए के तहत कमेटी धारा 6 बी के तहत आवेदक द्वारा किए गए प्रस्तुत रजिस्ट्रेशन नागरिकता प्रदान करने के लिए आवेदन की जांच कर सकती है। ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि आवेदन सभी तरह से पूरा है और इसमें सभी शर्तों को पूरा किया गया है।
  • साथ ही, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने एक पोर्टल indiancitizenshiponline.nic.in भी बनाया है। इस पर जाकर भी रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं।

कौन अप्लाई नहीं कर सकते हैं

  • धारा 6 बी के तहत अगर संबंधित शख्स भारतीय मूल का है।
  • संबंधित व्यक्ति का विवाह भारतीय नागरिक से हुआ हो
  • भारतीय नागरिक की नाबालिग संतान होने पर
  • माता-पिता के भारत के नागरिक के रूप में रजिस्टर होने पर
  • वह व्यक्ति या उसके माता-पिता में से कोई एक स्वतंत्र भारत का नागरिक रहा हो

आवेदन करने के लिए जरूरी डॉक्यूमेंट्स

नए नियमों के मुताबिक, भारत की नागरिकता लेने के लिए सिर्फ दो डॉक्यूमेंटस जमा करने होंगे-

भारत की नागरिकता लेने के लिए आवेदक के चरित्र के बारे में हलफनामा देना होगा।

Advertisement

आवेदक को संविधान की आठवीं अनुसूचि में दी गई भाषाओं में से किसी एक का ज्ञान होना जरूरी है।

Advertisement

अब सवाल है कि नागरिकता कानून से कितने लोगों का फायदा मिलेगा। इस पर सरकार के पास आंकड़े हैं। 2016 से 2020 तक पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बांग्लादेश समेत दूसरे देशों से आए 10 हजार 645 लोगों ने नागरिकता के लिए आवेदन दिया था। पिछले 6 साल में 5 हजार 950 लोगों को ही नागरिकता मिली है। अगर रिलीजियस माइनॉरिटी के संदर्भ में देखा जाए तो 2018 से 2021 तक 3 हजार 117 विदेशी भारत के नागरिक बने।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो