scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

'विभाजन से भी बड़ा होगा CAA से होने वाला पलायन…', अरविंद केजरीवाल बोले- टैक्स के पैसे पर सिर्फ देशवासियों का हक

पाकिस्तान से आए हिंदू शरणार्थियों ने CAA पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की टिप्पणी को लेकर उनके आवास के बाहर विरोध प्रदर्शन किया।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: shruti srivastava
नई दिल्ली | Updated: March 14, 2024 13:01 IST
 विभाजन से भी बड़ा होगा caa से होने वाला पलायन…   अरविंद केजरीवाल बोले  टैक्स के पैसे पर सिर्फ देशवासियों का हक
दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल। (इमेज- एएनआई)
Advertisement

मोदी सरकार ने मंगलवार को नागरिकता संशोधन कानून (CAA) का नॉटिफिकेशन जारी कर दिया। इसी के साथ देश में अब CAA लागू हो गया है। CAA लागू हो जाने के बाद अब बांग्लादेश, पाकिस्तान और अफगानिस्तान से आए गैर मुस्लिम अल्पसंख्यकों को भारतीय नागरिकता मिलने का रास्ता साफ हो गया है। वहीं, विपक्ष इसे लेकर केंद्र सरकार पर हमलावर है। केरल, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल राज्यों ने अपने यहां CAA लागू करने से इनकार कर दिया है। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल भी CAA को लेकर मोदी सरकार पर हमलावर हैं। उन्होंने इसे पलायनकारी बताया।

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सीएए लागू होने से देश असुरक्षित हो जाएगा, अव्यवस्था की स्थिति पैदा हो जाएगी। अन्य देशों के अल्पसंख्यकों पर करदाताओं का पैसा खर्च करना स्वीकार्य नहीं। उन्होंने कहा, “सीएए के हिस्से के रूप में, पड़ोसी देशों के अल्पसंख्यकों को भारत की नागरिकता दी जाएगी। इन देशों में 2.5 करोड़ से ज्यादा अल्पसंख्यक हैं और नागरिकता पाना उनके लिए किसी सपने के सच होने जैसा होगा। उनमें से आधे भी भारत आ गए तो हम उन्हें कहां ठहराएंगे? पहले घुसपैठिये हमारी सीमा पार करने से डरते थे, अब वे खुलेआम घुस जायेंगे।”

Advertisement

केजरीवाल ने सवाल उठाया कि पाकिस्तान से आए शरणार्थियों को रोजगार और आवास कैसे देंगे

सीएए पर अपने बयान पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की प्रतिक्रिया के जवाब में अरविंद केजरीवाल ने कहा, "गृह मंत्री ने अपने बयान में मेरे द्वारा उठाए गए किसी भी सवाल का जवाब नहीं दिया लेकिन उन्होंने कहा कि केजरीवाल भ्रष्ट हैं। मैं महत्वपूर्ण नहीं हूं। उनसे पूछिए जब हम अपने ही लोगों को रोजगार देने में सक्षम नहीं हैं तो पाकिस्तान से आए शरणार्थियों को रोजगार और आवास कैसे देंगे? सीएए के कारण जो पलायन होगा, वह विभाजन के दौरान हुए पलायन से भी बड़ा होगा।''

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बयान पर दिल्ली CM अरविंद केजरीवाल ने कहा, "मैं आपसे पूछना चाहता हूं कि आज सारी सरकार मिलकर अपने देश के बच्चों को रोजगार देने में असमर्थ हैं, आप भारी संख्या में पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान के लोगों को बसाना चाहते हो उनको कहां से नौकरियां देंगे? पहले अपने बच्चों के लिए नौकरियों का इंतजाम करें। उनके लिए घर कहां से आएंगे? अपने देश में लोगों के पास नौकरी और घर नहीं हैं।"

Advertisement

सीएम केजरीवाल के घर के बाहर प्रदर्शन

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के CAA पर बयान के बाद हिंदू शरणार्थियों ने उनके घर के सामने विरोध-प्रदर्शन किया। इस प्रदर्शन में महिलाएं और बच्चे भी शामिल रहे। सभी प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने बैरिकेडिंग के जरिए केजरीवाल के घर के सामने रोककर रखा।

Advertisement

सीएए पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की टिप्पणी पर बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने कहा, "सीएए का विरोध करके अरविंद केजरीवाल ने साबित कर दिया है कि वह हिंदुओं, सिखों, ईसाइयों, बौद्धों, जैनियों और पारसियों के बहुत बड़े दुश्मन हैं। सीएए कानून का मतलब है नागरिकता दीजिए लेकिन अरविंद केजरीवाल झूठ और नफरत फैला रहे हैं। शरणार्थियों को आपकी तरह 'राज महल' नहीं मिलेगा लेकिन उन्हें पीएम आवास योजना के तहत आवास मिलेगा क्योंकि उनका भी अधिकार है।"

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो