scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Chinese Visa Case: कार्ति चिदंबरम को कोर्ट का समन, मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ED ने बनाया है आरोपी

Chinese Visa Case: मनी लॉन्ड्रिंग केस में ईडी ने अपनी चार्जशीट में कार्ति चिदंबरम का नाम भी दर्ज किया है, जिसको लेकर अब कोर्ट ने कार्ति चिदंबरम क पेश होने के आदेश दिए हैं।
Written by: न्यूज डेस्क
Updated: March 19, 2024 16:54 IST
chinese visa case  कार्ति चिदंबरम को कोर्ट का समन  मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ed ने बनाया है आरोपी
कार्ति चिदंबरम को 5 अप्रैल 2024 को राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश होना होगा। (सोर्स - एक्सप्रेस फोटो/फाइल)
Advertisement

कांग्रेस के लोकसभा सांसद और पी चिदंबरम (P Chidambaram) के बेटे कार्ति चिदंबरम को बड़ा झटका लगा है। दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने उन्हें चाइनीज वीजा केस (Chinese Visa Case) से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में कोर्ट में पेशी का आदेश दिया है। ईडी ने अभियोजन की शिकायत पर कार्ति समेत कई लोगों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया था और दायर चार्जशीट में भी उनका नाम था। इसके चलते अब कार्ति चिदंबरम को 5 अप्रैल को कोर्ट में पेश होना होगा।

जानकारी के मुताबिक दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने इस मामले में पर संज्ञान लिया और कांग्रेस नेता कार्ति चिदंबरम समेत मामले में आरोपी बताए गए सभी लोगों को समन जारी किया है। राउज एवेन्यू कोर्ट ने सभी आरोपियों को 5 अप्रैल 2024 को कोर्ट में पेश होने का निर्देश दिया है।

Advertisement

गौरतलब है कि प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) ने आरोप पत्र दाखिल किया था, जिसमें कार्ति चिदंबरम, एस. भास्कररमन और कई कंपनियों के लोगों को आरोपी बनाया था। कार्ति चिदंबरम ने पहले दिल्ली हाईकोर्ट में भी अग्रिम जमानत याचिका दाखिल की थी, जहां ईडी की ओर से एएसजी एसवी राजू ने मौखिक रूप से कोर्ट को आश्वासन दिया थआ कि मामला लंबित रहने तक कोई दंडात्मक कार्रवाई नहीं की जाएगी।

कपिल ने कोर्ट में रखी थी दलील

सुनवाई के दौरान कार्ति चिदंबरम की तरफ से कोर्ट में दलील दे रहे वकील वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल (Kapil Sibal) ने दलील दी थी कि आरोपी के खिलाफ कोई सामग्री नहीं है। इस मामले में धन शोधन (Money Laundering) का कोई मामला नहीं बनता है, क्योंकि ऐसा कोई आरोप नहीं है कि कार्ति चिदंबरम को कोई पैसा दिया गया हो। यदि पैसा नहीं है तो उसका शोधन नहीं किया जा सकता है।

Advertisement

कपिल सिब्ब्ल का कहना था कि उनके खिलाफ कोई आरोप नहीं बनता है। ईसीआईआर दर्ज कर लिया। आरोपी जांच में शामिल हो गया है और इसमें सहयोग कर रहा है। अधिवक्ता ने यह भी तर्क दिया था कि कथित लेन-देन वर्ष 2011 का है और ईडी ने मामला 2022 दर्ज किया है।

गौरतलब है कि उन्होंने यह भी संकेत दिया था कि उनके खिलाफ ये केस एक साजिश के तहत बनाया गया है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 चुनाव tlbr_img2 Shorts tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो