scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

कूनो उद्यान से भटक कर चीता राजस्थान के करौली पहुंचा

करौली के सिमारा गांव के खेतों में शनिवार को ग्रामीणों ने चीते को देखा और वन विभाग को इसकी सूचना दी। सूचना पर चीते को बचाने और मानव-पशु संघर्ष को रोकने के लिए राजस्थान एवं मध्यप्रदेश के वन विभाग की टीमों ने मौके पर पहुंच कर उसे पकडने की कार्रवाई शुरू की।
Written by: जनसत्ता | Edited By: Bishwa Nath Jha
नई दिल्ली | Updated: May 05, 2024 14:44 IST
कूनो उद्यान से भटक कर चीता राजस्थान के करौली पहुंचा
प्रतीकात्मक तस्वीर। फोटो -(इंडियन एक्सप्रेस)।
Advertisement

मध्यप्रदेश के कूनो राष्ट्रीय उद्यान से एक चीता भटक कर करीब 50 किलोमीटर दूर राजस्थान के करौली जिले में पहुंच गया। वन विभाग के एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। करौली के सिमारा गांव के खेतों में शनिवार को ग्रामीणों ने चीते को देखा और वन विभाग को इसकी सूचना दी। सूचना पर चीते को बचाने और मानव-पशु संघर्ष को रोकने के लिए राजस्थान एवं मध्यप्रदेश के वन विभाग की टीमों ने मौके पर पहुंच कर उसे पकडने की कार्रवाई शुरू की।

करौली के वन्यजीव उप वन संरक्षक पीयूष शर्मा ने बताया ‘सिमारा गांव में एक जंगली जानवर के बारे में जानकारी मिली थी। जानवर की पहचान नर चीता के रूप में की गई है।’ उन्होंने बताया कि चीता मध्यप्रदेश के श्योपुर और सबलगढ़ से होते हुए गांव तक पहुंचा है। मध्यप्रदेश के ये दोनों शहर चंबल नदी से सटे हुए हैं और करौली का सिमारा गांव भी चंबल के किनारे स्थित है। चीते के खेतों में पहुंचने पर ग्रामीणों में दहशत फैल गई।

Advertisement

Also Read

इंडियन एयरफोर्स के घायल जवानों को किया गया एयरलिफ्ट; पुंछ में गरुड़ स्पेशल फोर्स तैनात

यह पहला मौका नहीं है जब कूनो राष्ट्रीय उद्यान से चीता भटककर राजस्थान में आ गया है। चार महीने पहले भी मध्यप्रदेश के कूनो राष्ट्रीय उद्यान से से लापता चीता प्रदेश के बारां जिले के जंगल में मिला था। इस पर कूनो की टीम बारां पहुंची और उसे बेहोश कर उसे पकड़ा गया था ।

प्याज का न्यूनतम निर्यात मूल्य 550 डालर प्रति टन निर्धारित

जनसत्ता: सरकार ने शनिवार को प्याज निर्यात पर प्रतिबंध हटा दिया, लेकिन साथ ही न्यूनतम निर्यात मूल्य (एमईपी) 550 डालर प्रति टन तय किया है। सरकार ने न्यूनतम निर्यात मूल्य (एमईपी) 550 डालर प्रति टन (लगभग 46 रुपए प्रति किलोग्राम) और साथ ही 40 फीसद निर्यात शुल्क लगाया है।शुल्क को ध्यान में रखते हुए, निर्यात खेप को 770 डालर प्रति टन (लगभग 64 रुपए प्रति किलोग्राम) से नीचे भेजने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

Advertisement

केंद्र ने पिछले साल आठ दिसंबर को उत्पादन में गिरावट की चिंताओं के बीच खुदरा कीमतों को नियंत्रित करने के लिए प्याज के निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया था। पिछले 4-5 साल के दौरान देश से सालाना 17 लाख से 25 लाख टन प्याज का निर्यात हुआ। विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) ने एक अधिसूचना में कहा, ‘प्याज की निर्यात नीति को संशोधित कर तत्काल प्रभाव से और अगले आदेश तक 550 डालर प्रति टन के एमईपी के तहत प्रतिबंध से मुक्त किया गया है।’

Advertisement

सरकार ने कल रात प्याज के निर्यात पर 40 फीसद शुल्क लगाया था। यह निर्णय इस मायने में अहम है क्योंकि यह महाराष्ट्र के नासिक, अहमदनगर और सोलापुर जैसे प्रमुख प्याज क्षेत्रों में असर डालेगा। इस क्षेत्र के किसान प्रतिबंध हटाने की मांग कर रहे थे, ताकि उन्हें अपनी पैदावार का बेहतर मूल्य मिल सके।

अप्रैल में नासिक की लासलगांव मंडी में प्याज की माडल कीमत 15 रुपए प्रति किलोग्राम थी। उन्होंने कहा कि यह निर्णय रबी सत्र में 191 लाख टन प्याज उत्पादन के नवीनतम अनुमान पर विचार करने के बाद लिया गया है। यह निर्णय लेते समय वैश्विक बाजारों में प्याज की उपलब्धता और कीमतों को भी ध्यान में रखा गया।

उधर, केंद्र सरकार के शनिवार को प्याज के निर्यात पर प्रतिबंध हटाने के बाद महाराष्ट्र के नासिक जिले के लासलगांव मंडी में इसकी कीमतें औसतन 200 रुपए प्रति कुंतल बढ़ गर्इं। लासलगांव में कृषि उत्पादन बाजार समिति (एपीएमसी) को भारत में सबसे बड़ा थोक प्याज बाजार बताया जाता है। सूत्रों ने बताया कि दिन के दौरान लगभग 200 कुंतल प्याज एपीएमसी में पहुंचा। उन्होंने कहा कि गुणवत्ता के आधार पर कीमतें 801 रुपए, 2,551 रुपए और 2,100 रुपए प्रति कुंतल के बीच थीं।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 चुनाव tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो