scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

महुआ मोइत्रा पर लग रहे आरोपों पर आखिर ममता की TMC चुप क्यों? समझिए इनसाइड स्टोरी

TMC: टीएमसी और ममता बनर्जी की तरफ से दूरी बनाने को लोग महुआ मोइत्रा के साथ बिगड़ते समीकरण के तौर पर देख रहे हैं।
Written by: न्यूज डेस्क
Updated: October 20, 2023 12:35 IST
महुआ मोइत्रा पर लग रहे आरोपों पर आखिर ममता की tmc चुप क्यों  समझिए इनसाइड स्टोरी
TMC: टीएमसी सांसद महुआ मोइत्रा पर लग रहे आरोपों पर अभी तक पार्टी की तरफ से कोई बयान सामने नहीं आया है। (सोशल मीडिया)
Advertisement

Mahua Moitra: ममता बनर्जी की सांसद महुआ मोइत्रा पर रिश्वत लेकर सवाल पूछने का आरोप लगा है। माना जा रहा है कि इन आरोपों से महुआ मोइत्रा की मुश्किलें बढ़ सकती हैं, लेकिन इन सबके बीच उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस का अभी तक कोई बयान सामने नहीं आया है। पार्टी के किसी नेता ने भी उनके समर्थन में कोई बयान नहीं दिया है। महुआ मोइत्रा पर आरोप लगे हैं कि उन्होंने कारोबारी दर्शन हीरानंदानी से पैसे लेकर संसद में अडानी ग्रुप से सवाल पूछे थे। बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने इस संबंध में लोकसभा स्पीकर ओम बिरला से शिकायत की थी। अब इस शिकायत को एथिक्स कमेटी के पास भेज दिया गया है।

कहा यह भी जा रहा है कि अगर आरोप सही पाए गए तो महुआ मोइत्रा की संसद सदस्यता भी जा सकती है, लेकिन टीएमसी की तरफ से किसी नेता का बयान न आना हैरान कर रहा है। इस मामले को लेकर जब एक मीडिया हाउस ने टीएमसी के दो सीनियर नेताओं से बात करनी चाहिए तो उन्होंने कुछ भी कहने से मना कर दिया।

Advertisement

टीएमसी के एक सांसद ने कहा, 'पार्टी ने इस मामले में कुछ भी न बोलने का फैसला किया है।' एक अन्य नेता ने कहा कि पार्टी इस मामले में कुछ नहीं बोलेगी। महुआ मोइत्रा खुद इस मामले में अपना बयान जारी कर चुकी हैं।

कारोबारी दर्शन हीरानंदानी की तरफ से यह मान लिया गया है कि उन्होंने महुआ मोइत्रा को सवाल पूछने के एवज में कैश दिया था। इस पर महुआ मोइत्रा का कहना है कि हीरानंदानी के सिर पर बंदूक तान कर हलफनामे पर साइन करवाए गए हैं।

चर्चा है कि महुआ और ममता के रिश्ते में कुछ खटास आ गई

टीएमसी और ममता बनर्जी की तरफ से दूरी बनाने को लोग महुआ मोइत्रा के साथ बिगड़ते समीकरण के तौर पर देख रहे हैं। इससे पहले देवी काली महुआ मोइत्रा ने कुछ महीने पहले आपत्तिजनक टिप्पणियां की थीं, जिस पर बीजेपी भड़क गई थी। महुआ के खिलाफ बीजेपी ने कई जगहों पर रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

Advertisement

उस मामले से भी टीएमसी ने पल्ला झाड़ लिया था और महुआ के बयान को उनकी निजी राय बताया था। पार्टी की तरफ से कहा गया था कि देवी काली पर महुआ का बयान उनका निजी है। इससे पार्टी का कोई लेनादेना नहीं है। इतना ही नहीं महुआ मोइत्रा ने बाद में सोशल मीडिया पर पार्टी को अनफॉलो तक कर दिया था।

ममता दे चुकी हैं महुआ मोइत्रा को नसीहत

बता दें, अपनी स्पीच के चलते महुआ मोइत्रा अक्सर मीडिया की सुर्खियों में रहती हैं। वो आए दिन कुछ न कुछ ऐसा बयान देती हैं, जिससे विवाद खड़ा हो जाता है। खुद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उन्हें भरे मंच पर नसीहत दी थी कि वह अपने लोकसभा क्षेत्र पर ही फोकस करें। ममता बनर्जी ने यह नसीहत पार्टी में गुटबाजी और महुआ मोइत्रा के दूसरे क्षेत्रों में दखल को लेकर दी थी।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो