scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

BSF जवान पर टीएमसी ने लगाया छेड़छाड़ का आरोप, FIR के बाद अब हुआ ये बड़ा एक्शन

उलूबेरिया लोकसभा क्षेत्र में बीएसएफ जवान पर एक महिला के साथ छेड़छाड़ का आरोप लगा था। टीएमसी ने इस मामले में थाने में एफआईआर दर्ज कराई थी।
Written by: न्यूज डेस्क
कोलकाता | May 22, 2024 15:09 IST
bsf जवान पर टीएमसी ने लगाया छेड़छाड़ का आरोप  fir के बाद अब हुआ ये बड़ा एक्शन
प्रतीकात्मक तस्वीर (फोटो : एक्सप्रेस)
Advertisement

पश्चिम बंगाल में एक महिला के साथ दुर्व्यवहार करने के मामले में बीएसएफ जवान के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की गई है। छेड़छाड़ के आरोपों के बाद उसे निलंबित कर दिया गया है। टीएमसी ने आरोप लगाया कि जवान ने पांचवें चरण के मतदान से एक दिन पहले उलूबेरिया लोकसभा क्षेत्र में एक महिला से छेड़छाड़ की घटना को अंजाम दिया था। इसके बाद पार्टी ने पुलिस पर्यवेक्षक को पत्र लिखकर उचित कार्रवाई की मांग की थी। जवान के खिलाफ उलूबेरिया थाने में एफआईआर भी दर्ज कराई गई थी।

Advertisement

क्या है मामला?

उलूबेरिया में मतदान से एक दिन पहले एक महिला ने बीएसएफ जवान पर आरोप लगाया कि सुबह 6 बजे मॉर्निंग वॉक के दौरान सुनसान सड़क में दो जवानों ने उसे देखकर अश्लील इशारे किए। महिला ने जब इसरा विरोध किया तो आरोपी जवान ने जबरन उसे चूमते हुए गले लगा लिया। महिला ने जब शोर मचाया तो ग्रामीणों ने जवान को पकड़ लिया। हालांकि दूसरा जवान भागने में सफल रहा। इस मामले में आरोपी जवान के खिलाफ आईपीसी के धारा 341, 354 और 506 में मुकदमा दर्ज कराया गया।

Advertisement

बंगाल को बदनाम करने की साजिश

इस घटना के बाद पश्चिम बंगाल की महिला एवं बाल विकास मंत्री देबाश्री चौधरी ने कहा कि 'केंद्रीय फोर्स के जवान महिलाओं के साथ छेड़छाड़ जैसी घटना को अंजाम दे रहे हैं। यह बिल्कुल अशोभनीय है। हम जवान के ऊपर कठोर करवाई की मांग करते हैं। ये बंगाल और महिलाओं को बदनाम करने की साज़िश है। अगर उन्हें ये लगता है कि वर्दी के आड़ में बच जायेगे तो ऐसा नहीं होगा।'

इस मामले में बीएसएफ के डीआईजी एके आर्य द्वारा जारी बयान में कहा गया कि 'मामला संज्ञान में आने के बाद जवान को निलंबित कर दिया गया है। मामले की जांच के लिए एक कमेटी का गठन किया गया है। दोषी पाये जाने पर जवान के ऊपर कठोर कार्रवाई की जाएगी। हम भारत में सम्मानित पेशेवर बल हैं। हम अपने कर्मियों द्वारा अनुशासनहीनता की किसी कर्तव्य को माफ नहीं कर सकते।'

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 खेल tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो