scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

गैंगस्टर अनंत सिंह को मिली 15 दिन की पैरोल, बाहर आते ही दिया बड़ा बयान; RJD ने कहा- यह NDA की बेचैनी का संकेत

13 मई को मुंगेर लोकसभा सीट पर मतदान भी होना है। मोकामा विधानसभा क्षेत्र मुंगेर लोकसभा के अंतर्गत आता है। अपने समर्थकों में छोटे सरकार के नाम से मशहूर अनंत सिंह के इस समय जेल से बाहर आने को लेकर सियासी मायने भी निकाले जा रहे हैं।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: संजय दुबे
नई दिल्ली | Updated: May 05, 2024 14:21 IST
गैंगस्टर अनंत सिंह को मिली 15 दिन की पैरोल  बाहर आते ही दिया बड़ा बयान  rjd ने कहा  यह nda की बेचैनी का संकेत
रविवार, 5 मई, 2024 को पटना की बेऊर जेल से बाहर निकलने पर कार्यकर्ताओं के साथ अनंत सिंह। (पीटीआई फोटो)
Advertisement

बिहार के गैंगस्टर से नेता बने और मोकामा से पांच बार विधायक रहे अनंत सिंह 15 दिन की पैरोल पाकर जेल से बाहर आ गए हैं। वह अलग-अलग मामलों में पटना के बेऊर जेल में सजा काट रहे हैं। बताया जा रहा है कि राज्य सरकार के गृह मंत्रालय ने अनंत को अपनी पुश्तैनी जमीन के बंटवारे के लिए 15 दिनों की पैरोल पर रिहा करने का निर्देश दिया है। इस बीच 13 मई को मुंगेर लोकसभा सीट पर मतदान भी होना है। मोकामा विधानसभा क्षेत्र मुंगेर लोकसभा के अंतर्गत आता है। अपने समर्थकों में छोटे सरकार के नाम से मशहूर अनंत सिंह के इस समय जेल से बाहर आने को लेकर सियासी मायने भी निकाले जा रहे हैं।

मृत्युंजय तिवारी बोले- पूरी सरकार ही पैरोल पर है

आरजेडी के प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा, "सरकार ने पैरोल देकर साबित कर दिया उसमें बेचैनी है। अब सरकार बाहुबल, धनबल का प्रयोग कर रही है और बाहुबल धनबल के भरोसे किसी तरह से कुछ सीट जीतना चाह रही है, लेकिन ये संभव नहीं क्योंकि जनबल तेजस्वी यादव के साथ है। जनता का बल लोकतंत्र में सबसे बड़ी ताकत है। सरकार चाहे किसी को भी पैरोल दे, कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है। सरकार दूसरों को क्या पैरोल देगी, खुद ही पैरोल पर है।"

Advertisement

बेऊर जेल से बाहर निकलते ही दिया बड़ा बयान

बेऊर जेल से बाहर आते ही अनंत सिंह ने मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि मुंगेर में ललन सिंह पांच लाख वोटों से जीत रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि विरोधी प्रत्याशी अशोक महतो को तो कोई जानता तक नहीं है।

उनके जेल से बाहर आने की सूचना मिलने पर बेउर जेल के बाहर उनके समर्थकों की भारी भीड़ जमा हो गई, जिसके बाद किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए पुलिस ने सुरक्षा उपाय बढ़ा दिए। पटना और मोकामा के बीच अनंत के काफिले में 100 से ज्यादा एसयूवी मौजूद रहीं। समर्थकों की भीड़ पर अनंत सिंह ने कहा कि लोग हमारे हैं तो यहां आएंगे ही।

Advertisement

पटना की एमपी/एमएलए कोर्ट ने अनंत सिंह को आर्म्स एक्ट के एक मामले में 10 साल की जेल की सजा सुनाई थी। इसमें अगस्त 2019 में छापेमारी के दौरान उनके आवास से एक एके -47 असॉल्ट राइफल, दो हथगोले और जिंदा कारतूस तथा अन्य हथियार जब्त किए गए थे। उनके खिलाफ जबरन वसूली, हत्या के प्रयास और आपराधिक साजिश के दो दर्जन से अधिक मामले हैं।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 चुनाव tlbr_img2 Shorts tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो