scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Bharat Shakti: अग्नि-5 की टेस्टिंग के बाद आज पोखरण जाएंगे PM मोदी, जानें क्या है वजह

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को पोखरण फायरिंग रेंज पहुंचेंगे। पीएम के आगमन पर सेना के तीनों अंग स्वदेशी हथियारों से 50 मिनट तक ताबड़तोड़ गोलीबारी करेंगे।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: shruti srivastava
नई दिल्ली | Updated: March 12, 2024 09:02 IST
bharat shakti  अग्नि 5 की टेस्टिंग के बाद आज पोखरण जाएंगे pm मोदी  जानें क्या है वजह
भारतीय सेना (फोटो : पीटीआई)
Advertisement

राजस्थान के पोखरण में आज जल, थल और वायु तीनों सेनाएं अपनी स्वदेशी रक्षा क्षमताओं का प्रदर्शन करेंगी। तीनों सेनाओं के लाइव फायर और युद्धाभ्यास के रूप में स्वदेशी रक्षा क्षमताओं के समन्वित प्रदर्शन को 'भारत शक्ति' नाम दिया गया है। भारतीय थल सेना, भारतीय जल सेना और वायु सेना लगभग 50 मिनट तक युद्धाभ्यास करके मेक इन इंडिया प्रोजेक्ट के तहत निर्मित हथियारों का प्रदर्शन करेंगी।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी इस कार्यक्रम में शामिल होंगे।

प्रधानमंत्री कार्यालय ने कहा कि 'भारत शक्ति' अभ्यास में देश की शक्ति के प्रदर्शन के रूप में स्वदेशी हथियार प्रणालियों और प्लेटफार्मों की एक श्रृंखला प्रदर्शित की जाएगी, जो आत्मानिर्भारत भारत की पहल पर आधारित है। सेना डिजाइन ब्यूरो के अतिरिक्त महानिदेशक मेजर जनरल सी एस मान ने बताया कि भारत शक्ति अभ्यास में सेना की तीनों इकाइयां स्वदेश निर्मित रक्षा उपकरणों की क्षमता का भी प्रदर्शन करेंगी। मेजर जनरल मान ने कहा कि यह अभ्यास स्वदेशी रक्षा उपकरणों के माध्यम से युद्धक अभियानों में सेवाओं के संयुक्त अभियान का प्रदर्शन करेगा।

Advertisement

रक्षा क्षेत्र में भारत की आत्मनिर्भरता का प्रदर्शन

इस अभ्यास के दौरान भारत में निर्मित हथियार प्रणालियां, अर्जुन टैंक, धनुष होवित्जर, तेजस लड़ाकू विमान और एएलएच ध्रुव हेलीकॉप्टर अपनी मारक क्षमता का प्रदर्शन करेंगे। इस प्रदर्शन को देखने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल अनिल चौहान, सेना प्रमुख जनरल मनोज पांडेय भी होंगे।

इन हथियारों का होगा प्रदर्शन

इसमें लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट तेजस, हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर प्रचंड, लाइट यूटिलिटी हैलिकॉप्टर (ALH) ध्रुव, नौ-सेना की लाइट वेट टॉरपीडो, पिनाका मल्टी बैरल रॉकेट लॉन्चर, युद्धक टैंक T (T 90), अर्जुन टैंक, K-9 वज्र सेल्फ प्रोपेल्ड हॉवित्जर, धनुष, सारंग तोपें, लॉयटरिंग म्यूनिशन सहित अत्याधुनिक ड्रोन और यूएवी सहित रोबोटिक डॉग ‘म्यूल’ भी युद्ध क्षेत्र में अपनी ताकत का परिचय देंगे।

Advertisement

ब्रह्मोस मिसाइल सिस्टम भी दिखाएंगे दमखम

प्रदर्शित किए जाने वाले महत्वपूर्ण उपकरणों में मोबाइल एयर डिफेंस सिस्टम, इंटीग्रेटेड ड्रोन डिटेक्शन एंड न्यूट्रलाइजेशन सिस्टम, सर्वत्र ब्रिजिंग सिस्टम, माइनफील्ड प्लॉ, आकाश एयर डिफेंस सिस्टम और एके-203 असॉल्ट राइफलें शामिल हैं। हथियार का पता लगाने वाले रडार स्वाति और ब्रह्मोस मिसाइल प्रणाली भी होगी। अभ्यास के दौरान भारत में निर्मित पिनाका मल्टी बैरल रॉकेट लॉन्चर, अर्जुन टैंक, धनुष होवित्जर, तेजस लड़ाकू विमान और एएलएच ध्रुव हेलीकॉप्टर के विभिन्न संस्करण अपनी मारक क्षमता का प्रदर्शन करेंगे।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो