scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Bharat Bandh 2024: भारत बंद के दौरान क्या-क्या रहेगा बंद, मेट्रो-स्कूल और दुकानें खुलेंगी या नहीं?

Bharat Bandh 2024 Latest News in Hindi: 16 फरवरी को संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) ने भारत बंद का ऐलान किया है। जानिए इस दौरान क्या खुला रहेगा और क्या बंद।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Jyoti Gupta
चंडीगढ़ | Updated: February 15, 2024 14:01 IST
bharat bandh 2024  भारत बंद के दौरान क्या क्या रहेगा बंद  मेट्रो स्कूल और दुकानें खुलेंगी या नहीं
Bharat Bandh 2024 Date: 16 फरवरी को भारत बंद। (express)
Advertisement

Bharat Band Announced on 16 Feb 2024: किसानों के आंदोलन के बीच 16 फरवरी को भारत बंद रहेगा। संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) ने केंद्रीय ट्रेड यूनियनों के साथ मिलकर 16 फरवरी को भारत बंद का ऐलान किया है। भारत बंद के लिए संयुक्त किसान मोर्चा ने इसके लिए दिशा निर्देश जारी की है। 16 फरवरी को भारत सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक बंद रहेगा। टाइमिंग के हिसाब से दोपहर 12 बजे से शाम 4 बजे तक हजारों किसान देशभर की प्रमुख सड़कों पर चार घंटे के लिए चक्का करेंगे।

भारत बंद उस समय किया जा रहा है, जब पंजाब से मार्च कर रहे किसानों को हरियाणा के बार्डर पर ही रोक दिया गया है। भारत बंद इसलिए बुलाया गया है ताकि केंद्र सरकार पर मांगों को लेकर कुछ दवाब बनाया जा सके।

Advertisement

हमारे सहयोगी इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार, पंजाब में विरोध के दौरान कई नेशनल हाइवे चार घंटे के लिए बंद रहेंगे। दरअसल, लुधियाना में बैठक के समय बीकेयू लाखोवाल के महासचिव हरिंदर सिंह लाखोवाल ने भारत बंद की घोषणा की।

क्या रहेगा बंद, क्या रहेगा खुला

इस संबंध में एसकेएम एनसीसी के सदस्य डॉ. दर्शन पाल ने कहा, “दिसंबर में ही ग्रामीण भारत बंद की योजना बनाई गई थी। इस दिन सभी कृषि गतिविधियों, मनरेगा और ग्रामीण कामों के लिए गांव बंद रहेंगे। उस दिन कोई भी किसान, कृषि श्रमिक या ग्रामीण श्रमिक काम नहीं करेगा।

Advertisement

पाल ने आगे कहा, "हम एम्बुलेंस, मृत्यु, विवाह, मेडिकल शॉप, न्यूजपेपर और बोर्ड परीक्षा देने जा रहे छात्रों के लिए रास्ता खुला रखेंगे। वहीं एयरपोर्ट जाने वाले लोग जा सकते हैं। इमरजेंसी सेवाएं चालू रहेंगी।

Advertisement

बंद रहेंगी दुकानें

उन्होंने आगे कहा कि सब्जियों और अन्य फसलों की खरीद रोकी जाएगी। गांव की दुकानें, अनाज बाजार, सब्जी बाजार, सरकारी, गैर सरकारी ऑफिस बंद रहेंगे। ग्रामीण औद्योगिक और सेवा क्षेत्र के संस्थान के साथ निजी क्षेत्र के उद्यमों को बंद रखने का अनुरोध किया गया है। इसके अलावा हड़ताल के दौरान गांवों के नजदीकी कस्बों की दुकानें और प्रतिष्ठान बंद रहेंगे।

एनसीसी सदस्य पटियाला ने आगे कहा, सार्वजनिक गाड़ियों पर रोक रहेगी। रोडवेज कर्मचारी यूनियन भी इस विरोध प्रदर्शन का हिस्सा हैं। उन्होंने आगे कहा कि दरअसल, 10वीं कक्षा के छात्रों को 16 फरवरी को पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड विज्ञान का पेपर देना है इसलिए डेमोक्रेटिक टीचर्स फ्रंट ने राज्य सरकार से परीक्षा स्थगित करने के लिए कहा है।

डेमोक्रेटिक टीचर्स फ्रंट, पंजाब ने ग्रामीण भारत बंद को अपना समर्थन दिया है। उन्होंने आगे कहा कि छात्रों और शिक्षकों को अपने केंद्रों तक पहुंचने में समस्या हो सकती है।

एसकेएम एनसीसी के सदस्यों ने कहा कि सड़कों पर विरोध रैलियों के दौरान किसानों और श्रमिकों की दुर्दशा को उजागर करने वाले नाटक, नुक्कड़ नाटक (नुक्कड़ नाटक), कविता, गीत आदि का भी मंचन किया जाएगा।

बता दें कि एसकेएम ने भारत बंद की ऐलान किया मगर यह'दिल्ली चलो' विरोध प्रदर्शन में भाग नहीं ले रहा है। एसकेएम की मांग भी लगभग वही हैं जो दूसरे किसान यूनियन की हैं।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो