scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

सिसोदिया की न्यायिक हिरासत 18 अप्रैल तक बढ़ी, तिहाड़ जेल से लिखी चिट्ठी में कहा था- जल्द बाहर आऊंगा

सिसोदिया शराब नीति केस में 26 फरवरी 2023 से तिहाड़ जेल में बंद हैं।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: संजय दुबे
नई दिल्ली | Updated: April 06, 2024 12:16 IST
सिसोदिया की न्यायिक हिरासत 18 अप्रैल तक बढ़ी  तिहाड़ जेल से लिखी चिट्ठी में कहा था  जल्द बाहर आऊंगा
दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के नेता मनीष सिसोदिया। (फाइल फोटो)
Advertisement

दिल्ली शराब घोटाले के आरोप में पिछले एक साल से जेल में बंद दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की न्यायिक हिरासत 18 अप्रैल तक बढ़ा दी गई है। इससे पहले शनिवार की सुबह उन्हें दिल्ली के राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश किया गया। यहां पर उनकी जमानत याचिका पर सुनवाई हुई। इससे पहले 2 अप्रैल को हुई सुनवाई में कोर्ट ने उन्हें 6 अप्रैल तक ज्यूडिशियल कस्टडी में भेज दिया था। सिसोदिया ने एक दिन पहले ही अपने विधानसभा क्षेत्र पटपड़गंज के लोगों को एक पत्र लिखकर कहा था कि जल्द ही बाहर आऊंगा। सिसोदिया शराब नीति केस में 26 फरवरी 2023 से तिहाड़ जेल में बंद हैं। इस मामले में हाल ही में जमानत हासिल करने वाले आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह भी अदालत में मौजूद हैं। वह भी इस मामले में आरोपी हैं। उनकी भी आज ही राउज एवेन्यू कोर्ट में पेशी है।

सिसोदिया के खिलाफ CBI और ED जांच कर रही हैं

मनीष सिसोदिया के खिलाफ सीबीआई के साथ-साथ ईडी ने भी आरोप लगाया था कि दिल्ली आबकारी शुल्क नीति को संशोधित करते समय अनियमितताएं की गईं, लाइसेंस धारकों को अनुचित लाभ दिया गया, लाइसेंस शुल्क माफ कर दिया गया या कम कर दिया गया और सक्षम प्राधिकारी की मंजूरी के बिना लाइसेंस बढ़ा दिए गए।

Advertisement

जांच एजेंसियों ने आरोप लगाया कि लाभार्थियों ने कथित तौर पर "अवैध" लाभ को आरोपी अधिकारियों तक पहुंचाया और जांच से बचने के लिए अपने खाते की किताबों में गलत प्रविष्टियां कीं।

28 फरवरी, 2023 को सिसोदिया ने कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया था

सिसोदिया को "घोटाले" में उनकी कथित भूमिका के लिए 26 फरवरी, 2023 को केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने गिरफ्तार किया था। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने 9 मार्च, 2023 को सीबीआई की एफआईआर से जुड़े मनी-लॉन्ड्रिंग मामले में सिसोदिया को गिरफ्तार किया। 28 फरवरी, 2023 को सिसोदिया ने दिल्ली कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया।

अपनी चिट्ठी में मनीष सिसोदिया ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने लिखा, ‘अंग्रेजों को भी अपनी सत्ता का बहुत घमंड था, अंग्रेज भी झूठे आरोप लगाकर लोगों को जेल में बंद करते थे, अंग्रेजों ने कई सालों तक गांधी और नेल्सन मंडेला को भी जेल में रखा। अंग्रेजों की तानाशाही के बाद भी आजादी का सपना सच हुआ।’

Advertisement

मनीष सिसोदिया ने इस चिट्ठी में लिखा कि विकसित देश होने के लिए अच्छी शिक्षा, स्कूल का होना जरूरी है। मुझे खुशी है अरविंद केजरीवाल जी के नेतृत्व में दिल्ली में शिक्षा क्रांति आई। अब पंजाब शिक्षा क्रांति की खबर पढ़कर सुकून मिलता है। वैसे ही एक दिन हर बच्चे को सही और अच्छी शिक्षा मिलेगी। चिट्ठी में उन्होंने लिखा, “शिक्षा क्रांति जिंदाबाद, Love You All”।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 चुनाव tlbr_img2 Shorts tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो