scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

रविवारी दाना- पानी: बिना तेल के बनाएं चटपटा जायका

आजकल अधिकांश लोग तैलीय खाद्य पदार्थों के सेवन से बचना चाहते हैं, लेकिन चटपटा जायका भी उन्हें चाहिए। ऐसे में यदि पकौड़े भी बिना तले यानी तेल रहित अथवा कम तेल के मिल जाएं तो क्या ही कहने।
Written by: जनसत्ता | Edited By: Bishwa Nath Jha
October 22, 2023 13:00 IST
रविवारी दाना  पानी  बिना तेल के बनाएं चटपटा जायका
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर। फोटो- (इंडियन एक्‍सप्रेस)।
Advertisement

पकौड़े

झमाझम बरसात हो या कड़ाके की सर्दी, गुनगुनी सुबह हो या अलसायी शाम चाय के साथ प्याजी पकौड़े मिल जाएं तो मजा ही आ जाए। पकौड़े प्याज वाले हों या आलू वाले, बनते हैं घने तेल में भून कर ही। इसका मतलब है खाने में भरपूर तेल शरीर में पहुंचना, जो सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है। अमूमन तैलीय व्यंजन स्वादिष्ट तो लगते हैं, लेकिन वजन बढ़ाने से लेकर कोलेस्ट्राल में वृद्धि जैसी समस्याएं भी पैदा करते हैं। इसलिए इसका विकल्प है बिना तेल वाले पकौड़े।

सामग्री

दो प्याज, बेसन, चावल का आटा, अदरक, बारीक कटी हुई हरी मिर्च, हल्दी, लाल मिर्च, एक चुटकी खाने का सोडा और हरा धनिया या पुदीना।

Advertisement

बनाने की विधि

सबसे पहले एक कटोरे में प्याज काटकर उसमें बेसन, चावल आटा, नमक, हल्दी, लाल मिर्च पाउडर, अदरक और हरी मिर्च मिला लें। इसके बाद उसमें चुटकी भर खाने का सोडा और थोड़ा सा तेल डालकर अच्छी तरह मिला लें।सबसे पहले कढ़ाही में जैसे तेल गर्म किया जाता है, उसकी जगह पानी उबाल लें। खूब खौलते हुए पानी में हाथ से या चम्मच से एक-एक कर पकौड़े डालते जाएं।

जब पकौड़े का रंग बदलने लगे तो समझ जाइए कि वह पकने लगे हैं। थोड़ा और पकाकर इन्हें बाहर निकाल लें। इनके ऊपर चाट मसाले के साथ-साथ चटनी डालकर परोसें। अप्पम मेकर में भी बिना तेल के पकौड़े बनाए जा सकते हैं। इसके लिए पकौड़े की सामग्री तैयार कर लें। फिर अप्पम मेकर के सभी सांचों में घी या तेल डालकर इन्हें चिकना कर लें, ताकि पकौड़ों की सामग्री इनमें चिपके नहीं।

Advertisement

हर सांचे में पकौड़े का घोल डालकर धीमी आंच पर लगभग दस मिनट तक पकने दें। जब पकौड़े एक तरफ से भूरे होने लगें तो पलट दें और उधर से भी भूरे होने तक पकने दें। तैयार होने पर उतार लें और चटनी के साथ पेश करें। इसके अलावा, नान स्टिक पैन में भी बिना तेल के पकौड़े आसानी से बन जाते हैं।

Advertisement

बूंदी का रायता बढ़ा दे स्वाद

ने में सलाद के साथ-साथ यदि बूंदी का रायता मिल जाए तो भोजन का स्वाद दोगुना हो जाए। आप इसे घर पर आसानी बनाकर अपने मेहमानों को परोस सकते हैं। इसे बनाने के लिए बहुत ज्यादा सामग्री की आवश्यकता नहीं होती। इसके लिए दो कम दही और एक चम्मच चीनी लें। इसके अलावा, भुना जीरा पाउडर, काला नमक, चुटकी भर सफेद नमक, बेसन की फीकी बूंदी, हींग और तेल ले लें।

कैसे बनाएं

बूंदी का रायता बनाने के लिए सबसे पहले दही को एक बर्तन में निकाल लें और इसे बहुत अच्छी तरह फेंट लें। मिक्सी या जार के बजाय इसे हाथ से फेंटें और चार-पांच मिनट बाद इसमें आधा कप पानी मिला दें। फिर एक चम्मच चीनी डालें। फेंट कर तैयार की गई दही में आधा चम्मच भूना हुआ जीरा पाउडर, काला और सफेद नमक डाल दें। ध्यान रहें नमक स्वाद अनुसार ही रहे। फिर सभी चीजों को अच्छी तरह मिला लें।

इसके बाद इसमें आधा कप बूंदी डालें। इस पूरे मिश्रण को पांच मिनट तक ढक कर रख दें। इतने में बूंदी फूल जाएंगीं। स्वाद बढ़ाने के लिए इसमें हरे धनिए की पत्तियां भी डाल सकते हैं। मट्ठा हो या दही-बूंदी, बिना तड़के के बेकार। इसलिए बड़े चम्मच में तेल गर्म कर जीरा, हींग और साबुत लाल मिर्च डालें। जब ये चीजें अच्छी तरह जल जाएं और तेल काला पड़ने लगें तो बूंदी में छोंक लगा दें और ढक्कन लगाकर बंद कर दें ताकि धुएं के साथ इसकी महक बाहर न निकले। इस तरह स्वादिष्ट रायता तैयार।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो