scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Male Contraceptive: अब पुरुष भी ले सकेंगे अनचाही प्रेग्नेंसी से बचने के लिए कॉन्ट्रासेप्टिव, ICMR ने किया खुलासा, रिसर्च से जानिए कितना सफल है ये तरीका

जिन पुरुषों को RISUG का इंजेक्शन लगाया गया वो लम्बे समय तक अपने पार्टनर की प्रेग्नेंसी रोकने में कामयाब रहे।
Written by: लाइफस्टाइल डेस्क | Edited By: Shahina Noor
Updated: October 19, 2023 15:20 IST
male contraceptive  अब पुरुष भी ले सकेंगे अनचाही प्रेग्नेंसी से बचने के लिए कॉन्ट्रासेप्टिव  icmr ने किया खुलासा  रिसर्च से जानिए कितना सफल है ये तरीका
ICMR के मुताबिक अनचाहे गर्भ से बचने के लिए RISUG (Reversible Inhibition of Sperm under Guidance) एक सुरक्षित और असरदार तरीका है। pic-freepik
Advertisement

अनचाही प्रेग्नेंसी से बचने के लिए अभी तक महिलाएं ही कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स का सेवन करती थी, लेकिन अब पुरुष भी गर्भनिरोधक का सेवन करके अपने पार्टनर को अनचाही प्रेग्नेंसी से बचा सकते हैं। जी हां भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (Indian Council of Medical Research) ने खुलासा किया है कि अब पुरुष भी सफल कॉन्ट्रासेप्टिव इंजेक्शन का इस्तेमाल कर सकते हैं। ICMR के मुताबिक अनचाहे गर्भ से बचने के लिए RISUG (Reversible Inhibition of Sperm under Guidance) एक सुरक्षित और असरदार तरीका है।

अंतर्राष्ट्रीय ओपन एक्सेस जर्नल एंड्रोलॉजी में प्रकाशित ओपन-लेबल और नॉन रेंडोमाइज्ड फेस-III के परिणामों के अनुसार, इस रिसर्च में 303 हेल्दी युवाओं को शामिल किया गया। रिसर्च में शादीशुदा सेक्सुअली एक्टिव पुरुषों को शामिल किया गया जिनकी उम्र 25 से 40 साल की थी। इन पुरुषों को 60 मिलीग्राम RISUG का इंजेक्शन लगाया गया। रिसर्च में पाया गया कि जिन पुरुषों को ये इंजेक्शन दिया गया वो लम्बे समय तक अपने पार्टनर की प्रेग्नेंसी रोकने में कामयाब रहे।

Advertisement

रिसर्च में पाया गया कि जिन पुरुषों को ये इंजेक्शन दिया गया वो 99.02 फीसदी तक अपने पार्नर की प्रेग्नेंसी रोकने में कामयाब रहे। रिसर्च के मुताबिक इंजेक्शन का सेवन करने वाले पुरुषों और महिलाओं पर इस इंजेक्शन का कोई साइड इफेक्ट देखने को नहीं मिला।

कैसे काम करता है RISUG का इंजेक्शन

रिसर्च के मुताबिक RISUG इंजेक्शन ने 97.3% एजोस्पर्मिया हासिल किया। एजोस्पर्मिया एक मेडिकल टर्म है जो ये बताती है कि पुरुष के सीमन में कोई एक्टिव स्पर्म मौजूद नहीं है। इस इंजेक्शन को स्पर्म डक्ट में लगया गया जहां से स्पर्म पेनिस तक पहुंचता है। इस इंजेक्शन को लगाने के लिए पहले उस जगह को सुन्न किया जाता है, फिर स्पर्म डक्ट्स में इंजेक्शन लगाया जाता है। इस इंजेक्शन को लगाने के बाद शारीरिक संबंध बनाने के बाद भी गर्भाशय में अंडे को फर्टिलाइज नहीं कर पाते हैं ।

Advertisement

इस कॉन्ट्रासेप्टिव पर 20 साल तक रिसर्च की गई है। रिसर्च के मुताबिक जिन पुरुषों को ये इंजेक्शन दिया जाता है उन्हें बुखार,जलन और यूरीन में इंफेक्शन की परेशानी हो सकती है जिसका आराम से उपचार हो सकता है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो