scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Happy Bakrid, Eid-al-Adha Mubarak 2024 Wishes, Shayari: ईद-उल-अज़हा के मौके पर चांद देखते ही दोस्तों और साथियों को भेजें ईद की मुबारकबाद

Happy Bakrid Mubarak 2024 Wishes Shayari in Hindi, Happy Eid-al-Adha 2024 Wishes Hindi, Images, Quotes, Status: ईद-उल-अजहा के मौके पर बकरा,दुंबा और हलाल जानवरों की कुर्बानी की जाती है।
Written by: Shahina Noor
नई दिल्ली | June 17, 2024 06:28 IST
happy bakrid  eid al adha mubarak 2024 wishes  shayari  ईद उल अज़हा के मौके पर चांद देखते ही दोस्तों और साथियों को भेजें ईद की मुबारकबाद
हजरत इब्राहिम ने अल्लाह की रजा के लिए अपनी सबसे अजीज और सबसे प्यारे एक लौते बेटे को कुर्बान करने के लिए तैयार हो गए तभी एक दुम्बे हाजिर हुआ और उसकी कुर्बानी हो गई तभी से बकरा ईद मनाने का चलन शुरु हुआ।
Advertisement

Happy Bakrid Eid-al-Adha Mubarak 2024 Hindi Wishes, Shayari, Images, Quotes, Status: आज यानी 17 जून को ईद-उल-अज़हा का त्योहार मनाया जा रहा है। ईद-उल-अजहा इस्लामिक कैलेंडर का आखिरी महीना है। जिस दिन ईद-उल-अजहा का चांद दिखाई देता है उसके दस दिन बाद ईद-उल-अज़हा की नमाज अदा की जाती है और कुर्बानी की जाती है। बकरा ईद के दिन कुर्बानी करने का खास मकसद है। माना जाता है कि एक दिन हजरत इब्राहीम ने ख्वाब में अल्लाह से उनकी सबसे प्यारी चीज को अल्लाह की राह में कुर्बान करने को कहा। हजरत इब्राहिम ने अपने ख्वाब को सच जाना और अल्लाह की राह में अपनी सबसे अज़ीज चीज अपने बेटे को अपने रब की रजा के लिए कुर्बान करने की ठान ली। हजरत इब्राहिम ने अल्लाह की रजा के लिए अपनी सबसे अजीज और सबसे प्यारे एक लौते बेटे को कुर्बान करने के लिए तैयार हो गए।

Advertisement

हजरत इब्राहीम ने जैसे ही छुरी अपने बेटे की गर्दन पर चलाना शुरू की वैसे ही जन्नत से एक जानवर जमीन पर आ गया और हजरत इब्राहीम ने अपने बेटे की जगह उस जानवर की कुर्बानी की। हजरत इब्राहीन में एक दुम्बे की कुर्बानी की और उनका बेटा सही सलामत खड़ा था। हजरत इब्राहीम की इस सुन्नत को ही सारी दुनिया के मुसलमान हर साल पूरा करते हैं और जानवर की कुर्बानी करते हैं।

Advertisement

हर साल अल्लाह की रजा के खातिर लोग तीन दिनों तक कुर्बानी करते हैं। गल्फ देशों में ये त्योहार 7 दिनों तक मनाया जाता है। ईद के मौके पर बकरा,दुंबा और हलाल जानवरों की कुर्बानी की जाती है। ईद के मौके पर आप भी अपने परिवार, दोस्तों और साथियों को इस दिन की मुबारकबाद देना चाहते हैं तो इन बधाई संदेश को भेज सकते हैं और ईद मुबारक कह सकते हैं।

चांद को चांदनी मुबारक
फ़लक को सितारे मुबारक
सितारों को बुलंदी मुबारक
और आपको हमारी तरह से
ईद मुबारक !

चुपके से चांद की रोशनी छू जाए आपको
धीरे से ये हवा कुछ कह जाए आपको
दिल से जो चाहते हो मांग लो खुदा सेहमारी दुआ हैं इस ईद पर वो मिल जाए आपको!
ईद-उल-अज़हा मुबारक को आपको !

Advertisement

xr:d:DAFWTpM_ha0:1319,j:3712515896405868451,t:24040509

समंदर को उसका किनारा मुबारक,
चांद को सितारा मुबारक,
फूलों को उसकी खुशबू मुबारक,
दिल को उसका दिलदार मुबारक,
आपको ईद-उल-अज़हा का त्योहार मुबारक !

Advertisement

हर ख्वाहिश हो मंजूर-ए-खुदा,
मिले हर कदम पर रजा-ए-खुदा
फ़ना हो लब्ज-ए-गम यही है दुआ,
बरसती रहे सदा रहमत-ए-खुदा
ईद-उल-अज़हा मुबारक !

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 खेल tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो