scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

इससे अच्छा Meditation कुछ नहीं! साइंस भी मानता है रोजाना बस 12 मिनट तक मौन रहने के फायदे

12 मिनट मौन रहने के फायदे: हम में से बहुत से लोग दिनभर बात करते रहते हैं। हम अगर दूसरों से बात नहीं भी करते हैं तो अपने मन में बात करते रहते हैं। पर आपको जानकर हैरानी हो सकती है कि इससे हम सिर्फ कुछ एनर्जी लॉस ही नहीं करते बल्कि, कई चीजों को खोने लगते हैं। ऐसे में जानें 12 मिनट मौन रहने के फायदे
Written by: pallavi kumari
नई दिल्ली | Updated: May 09, 2024 11:04 IST
इससे अच्छा meditation कुछ नहीं  साइंस भी मानता है रोजाना बस 12 मिनट तक मौन रहने के फायदे
12 मिनट मौन रहने के फायदे (12 minutes of silence benefits for health) के बारे में आपको जानना चाहिए क्योंकि ये आपके शरीर में गहरी भूमिका निभा सकती है। (P.C. Freepik)
Advertisement

12 मिनट मौन रहने के फायदे: जाने-अनजाने में हम सभी सबसे ज्यादा अपने दिमाग से परेशान रहते हैं। हमारा दिमाग ही है जो हमें नींद की कमी, ओवरथिंकिंग, एंग्जायटी, हार्मोनल असंतुलन और एंग्जायटी की ओर ले जा रहा है। ऐसी स्थिति में जरूरी है कि हम अपने दिमाग को शांत रखें और इसके लिए दिनभर में बस 12 मिनट तक चुप रहना (12 minutes of silence benefits) कारगर तरीके से काम कर सकता है। दरअसल, ये मेडिटेशन की एक थ्योरी है जिसमें 12 मिनट तक लगातार मौन रहने से दिमाग खुद को रिलैक्स कर पाता है और ब्रेन डिटॉक्स करने में मदद मिलती है। इसके अलावा इसके कई फायदे हैं। आइए, जानते हैं इस बारे में विस्तार से।

मौन रहने से क्या फायदा होता है-Benefits of Silence

माइंड रिलैक्स करता है

PubMed Central में छपी एक रिपोर्ट की मानें तो मौन रहना आपने मानसिक मनोबल को बढ़ाता है। दरअसल, जब आप 12 मिनट लगातार चुप बैठते हैं तो आपका दिमाग शांत हो जाता है और रिलैक्स मूड में चला जाता है। इसी दौरान शरीर रेस्टोरेशन मोड में काम करता है और ब्रेड डिटॉक्स में मदद मिलती है। इससे ओवरथिंकिंग और एंग्जायटी कंट्रोल करने में मदद मिलती है।

Advertisement

स्ट्रेस हॉर्मोन में कमी लाता है

आपने देखा होगा कि कुछ लोग बहुत ज्यादा स्ट्रेस में रहते हैं। यही खराब हार्मोनल हेल्थ और नींद के असंतुलन का कारण बनता है। ऐसे में रोजाना बस 12 मिनट तक मौन बैठना स्ट्रेस हॉर्मोन कोर्टिसोल (cortisol) के लेवल को कम करता है। साथ ही आपके नींद को बढ़ाता है और हार्मोन हेल्थ को बेहतर बनाता है। साथ ही बीपी बैलेंस करने में भी मददगार है।

क्रिएटिविटी और कंसंट्रेशन बढ़ाता है

क्रिएटिविटी और कंसंट्रेशन बढ़ाने में मौन रहना मददगार हो सकता है। दरअसल, जब आप 12 मिनट तक रोजाना मौन रहते हैं तो ये आपके क्रिएटिविटी और कंसंट्रेशन को एक्टिवेट करके इसे बढ़ावा देने में मदद करता है।

Advertisement

कैसे रखें 12 मिनट का मौन-How to do 12 mint silence

आपको करना ये है कि एक तय समय और जगह का चुनाव कर लें। ये समय सुबह और शाम में से कोई भी हो सकता है और जगह आप अपनी पसंद से तय कर लें। इसके बाद चुपचुप 12 मिनट तक मौन बैठें। जब आप इसकी शुरुआत कर रहे होंगे तो मुश्किल आएगी तो इसलिए इस दौरान आंख बंद करके मौन न बैठें। फिर कुछ दिनों के बाद आंख बंद करके मौन रखना शुरू करें। इस प्रकार से आप 12 मिनट तक चुपचाप आसानी से बैठ पाएंगे।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 चुनाव tlbr_img2 Shorts tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो