scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

भारत बना चैंपियन: कहीं आतिशबाजी कहीं ढोल नगाड़े… 4 महीने पहले आई दिवाली, जश्न में डूबे देशवासी

बात चाहे मुंबई के एयरपोर्ट की हो या फिर दिल्ली के इंडिया गेट, नजारे चाहे जोधपुर के हों या फिर पटना की गलियों के, हर तरफ बस जीत का जश्न है, एक अलग सी उमंग है और पूरा देश सातवें आसमान पर दिखाई दे रहा है।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Sudhanshu Maheshwari
नई दिल्ली | Updated: June 30, 2024 02:36 IST
भारत बना चैंपियन  कहीं आतिशबाजी कहीं ढोल नगाड़े… 4 महीने पहले आई दिवाली  जश्न में डूबे देशवासी
भारत की जीत पर देश में जश्न
Advertisement

भारतीय क्रिकेट टीम ने इतिहास रचते हुए टी20 वर्ल्ड कप अपने नाम कर लिया है। 17 साल बाद विश्व विजेता का तमगा और ट्रॉफी दोनों भारत आ गई है। रोहित ब्रिगेड ने सिर्फ विश्व कप नहीं जीता बल्कि देशवासियों का दिल जीता है। भारतीय टीम तो शायद अब जश्न मनाना शुरू करेगी, लेकिन देश में चार महीने पहले ही दिवाली आ चुकी है। जैसे ही हार्दिक की आखिरी गेंद पड़ी, हर गली में पटाखों के शोर और ढोल-नगाड़े की थाप ने दुनिया को संदेश दे दिया था- भारत विश्व चैंपियन बन चुका है, 17 साल का वनवास अब जाकर समाप्त हुआ है।

Advertisement

पूरे देश से इस समय इतने वीडियो, इतनी तस्वीरें सामने आ रही हैं, हर किसी के चेहरे पर खुशी है, हर कोई झूम रहा है, हर कोई बस भारतीय टीम की तारीफ करता नहीं थक रहा। किसी की आंखों में आंसू है, किसी के चेहरे पर गर्व वाली मुस्कान तो कोई बस मस्त नाच रहा है। इस समय सही मायनों में देश बोल रहा है- JOSH IS HIGH SIR! बात चाहे मुंबई के एयरपोर्ट की हो या फिर दिल्ली के इंडिया गेट, नजारे चाहे जोधपुर के हों या फिर पटना की गलियों के, हर तरफ बस जीत का जश्न है, एक अलग सी उमंग है और पूरा देश सातवें आसमान पर दिखाई दे रहा है।

Advertisement

यहां देखिए जश्न के सारे वीडियो-

यह जश्न के वीडियो बताने के लिए काफी है कि देश इस समय बहुत ज्यादा खुश है, वो अपनी भारतीय क्रिकेट टीम पर गर्व महसूस कर रहा है। वैसे गर्व करने वाली बात इसलिए है क्योंकि भारत ने एक हारी हुई बाजी को पलटकर जीत दर्ज की है। उसने इस बार यह खिताब जो जाता है, इसके लिए उसे काफी पापड़ बेलने पड़े। यहां जानिए आखिर फाइनल मुकाबले में हुआ क्या था-

बारबाडोस के ब्रिजटाउन के केंसिंग्टन ओवल स्टेडियम में भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। भारत ने 20 ओवर में 7 विकेट पर 176 रन बनाए। विराट कोहली ने 76, अक्षर पटेल ने 47 और शिवम दुबे ने 27 रन बनाए। साउथ अफ्रीका के लिए केशव महाराज और एनरिक नॉर्खिया ने 2-2 विकेट लिए। मार्को यानसेन और कगिसो रबाडा ने 1-1 विकेट लिए। रोहित शर्मा ने प्लेइंग 11 में बदलाव नहीं किया। एडेन मार्कराम ने भी प्लेइंग 11 में बदलाव नहीं किया।

Advertisement

177 रन के टारगेट के जवाब में साउथ अफ्रीका ने 20 ओवर में 8 विकेट पर 169 रन बनाए। हेनरिक क्लासेन ने 52 रन बनाए। क्विंटन डिकॉक ने 39 रन बनाए। ट्रिस्टन स्टब्स ने 31 रन बनाए। डेविड मिलर ने 21 रन बनाए। हार्दिक पंड्या ने 3 विकेट लिए। अर्शदीप सिंह और जसप्रीत बुमराह ने 2-2 विकेट लिए। अक्षर पटेल ने 1 विकेट लिए।

Advertisement

हेनरिक क्लासेन ने अक्षर पटेल के ओवर में 24 रन ठोके। साउथ अफ्रीका ने 15 ओवर में 4 विकेट पर 147 रन बना लिए थे। जीत के लिए 5 ओवर में 30 रन चाहिए थे। इसके बाद भारत ने जबरदस्त वापसी की। अगले ओवर में जसप्रीत बुमराह ने सिर्फ 4 रन दिए। 24 गेंद पर 26 रन चाहिए थे। हार्दिक पंड्या ने हेनरिक क्लासेन को पवेलियन भेजा। इसके बाद मैच पलटा। डेविड मिलर क्रीज पर थे। आखिरी ओवर में 16 रन चाहिए थे। डेविड मिलर का बाउंड्री पर सूर्यकुमार यादव ने शानदार कैच लपका। इसके बाद भारत चैंपियन बना। कोच राहुल द्रविड़ की विदाई वर्ल्ड कप के साथ हुई।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 खेल tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो