scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Jharkhand Governor Profile: 1974 में जनसंघ सदस्‍य बन गए थे झारखंड के राज्‍यपाल राधाकृष्‍णन, सामंतवाद के पतन पर की है Ph.D

Who Is Jharkhand Governor C.P. Radhakrishnan: सी. पी. राधाकृष्‍णन राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ के नगर, तालुक और ज‍िला स्‍तर पर प्रमुख रहे हैं।
Written by: स्पेशल डेस्क
नई दिल्ली | Updated: February 02, 2024 14:08 IST
jharkhand governor profile  1974 में जनसंघ सदस्‍य बन गए थे झारखंड के राज्‍यपाल राधाकृष्‍णन  सामंतवाद के पतन पर की है ph d
झारखंड के राज्‍यपाल सी.पी. राधाकृष्‍णन (PC- FB/CP Radhakrishnan)
Advertisement

सी.पी. राधाकृष्‍णन झारखंड के राज्‍यपाल हैं। 31 जनवरी को बतौर मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन के इस्‍तीफे और उनकी ग‍िरफ्तारी के बाद सभी की नजर राज्‍यपाल पर ही ट‍िक गई थीं। हेमंत के इस्‍तीफे के तत्‍काल बाद झामुमो नेता चंपाई सोरेन की ओर से सरकार बनाने का दावा पेश क‍िया गया। चंपाई सोरेन एक फरवरी की शाम लगातार दूसरे द‍िन राज्‍यपाल से म‍िले, लेक‍िन उन्‍हें तत्‍काल सरकार बनाने का न्‍यौता नहीं द‍िया गया। देर रात गवर्नर का फैसला आया और यह साफ हुआ क‍ि झारखंड में अब चंपाई सरकार बनेगी। 2 फरवरी को उन्‍होंने राज्‍य के 12वें मुख्‍यमंत्री के रूप में शपथ ली।

चंपाई सोरेन को मुख्‍यमंत्री पद की शपथ द‍िलाने वाले सी.पी. राधाकृष्‍णन फरवरी 2023 से झारखंड के राज्‍यपाल हैं। वह पुराने भाजपाई हैं। उन्‍होंने बाल‍िग होने से पहले ही (17.5 साल की उम्र में) भारतीय जनसंघ की सदस्‍यता ले ली थी। यह द‍िसंबर, 1974 की बात है। तब वह पढ़ाई कर रहे थे।

Advertisement

संघ के जिला प्रमुख रहे हैं झारखंड के राज्यपाल

राधाकृष्‍णन त‍िरुप्‍पुर (तम‍िलनाडु) में राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ के नगर, तालुक और ज‍िला स्‍तर पर प्रमुख रहे। 1996 में वह तम‍िलनाडु भाजपा के सच‍िव बने और 2004 से 2007 के बीच तम‍िलनाडु भाजपा के अध्‍यक्ष रहे। 1998 में वह कोयंबटूर से सांसद बने। वह राज्‍य से सांसद बनने वाले पहले भाजपाई हैं। 1999 में भी वह कोयंबटूर से ही सांसद चुने गए, लेक‍िन, 2004, 2014 और 2019 में हार गए थे।

खेल के शौकीन हैं सी.पी. राधाकृष्‍णन

सीपी राधाकृष्‍णन की खेल में भी काफी रुच‍ि रही है। खास कर टेबल टेन‍िस, क्र‍िकेट और वॉलीबॉल में। कॉलेज के द‍िनों में वह टेबल टेन‍िस चैंप‍ियन हुआ करते थे। वह लॉन्‍ग रनर भी थे। उन्‍होंने 1978 में मदुरै यून‍िवर्स‍िटी के वीओसी कॉलेज से बीबीए क‍िया है। उन्‍होंने पॉल‍िटि‍कल सांइस में र‍िसर्च क‍िया है और 'सामंतवाद का पतन' व‍िषय पर पीएचडी की है।

2023 में राज्‍यपाल बनाए जाने पर उन्‍होंने कहा था क‍ि इस पद पर न‍ियुक्‍त‍ि राजनीत‍ि में तरक्‍की है। उन्‍होंने अपनी न‍ियुक्‍त‍ि को केंद्र सरकार द्वारा तम‍िलनाडु का सम्‍मान बताया था।

Advertisement

परिवार में कौन-कौन?

सी.पी. राधाकृष्‍णन का जन्‍म चार मई, 1957 को त‍िरुप्‍पुर में हुआ था। उनके प‍िता स्‍व. सी.के. पोन्‍नुसामी और मां के जानकी हैं। जनसंघ का सदस्‍य बनने के 11 साल बाद 22 नवंबर, 1985 को उन्‍होंने आर सुमत‍ि से शादी की थी। उनके एक बेटी और एक बेटा है।

2024 का लोकसभा चुनाव लड़ते वक्‍त सी.पी. राधाकृष्‍णन ने जो हलफनामा द‍िया था, उसके मुताब‍िक उनकी और पत्‍नी की चल-अचल संपत्‍त‍ि का मूल्‍य करीब 67 करोड़ रुपए था। उनके पास 1.38 करोड़ रुपए के सोने व हीरे के आभूषण थे।

राधाकृष्‍णन हैं झारखंड के 11वें राज्‍यपाल, राज्‍य में 23 साल में 11 सीएम भी हुए

18 फरवरी, 2023 को सी.पी. राधाकृष्‍णन ने झारखंड के 11वें राज्‍यपाल के रूप में शपथ ली थी। झारखंड 23 साल पुराना राज्‍य है, लेक‍िन इस दौरान यहां के लोगों ने 11 सीएम देख ल‍िए हैं। भाजपा के रघुवर दास इकलौते मुख्‍यमंत्री रहे ज‍िन्‍होंने पूरे पांच साल शासन चलाया। 11 में से पांच बार मुख्‍यमंत्री की कुर्सी सोरेन पर‍िवार के पास रही है। तीन बार श‍िबू सोरेन और दो बार हेमंत सोरेन मुख्‍यमंत्री बने। अर्जुन मुंडा भी तीन बार मुख्‍यमंत्री बने। इनके अलावा बाबू लाल मरांडी और मधु कोड़ा मुख्‍यमंत्री रहे। 23 साल में छह नेता ही राज्‍य के मुख्‍यमंत्री बन पाए हैं। अगर चंपई सोरेन मुख्‍यमंत्री बने तो वह इस कुर्सी पर बैठने वाले सातवें नेता होंगे।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो