scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Fact Check: वायरल वीडियो नेपाल से अयोध्या तक निकाले गए जुलूस का नहीं है

जिस वायरल वीडियो को नेपाल से अयोध्या तक निकाले गए जुलूस का बताया जा रहा है, वह दरअसल ग्रेटर नोएडा में निकाले गए जुलूस का वीडियो है।
Written by: जनसत्ता ऑनलाइन
नई दिल्ली | Updated: January 24, 2024 16:06 IST
fact check  वायरल वीडियो नेपाल से अयोध्या तक निकाले गए जुलूस का नहीं है
वायरल दावा फर्जी है। (PC- X)
Advertisement

लाइटहाउस जर्नलिज्म को सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा एक वीडियो मिला। वीडियो को शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है कि लोगों ने नेपाल में सीता के मायके से अयोध्या राम मंदिर तक जुलूस निकाला है। हमने अपनी पड़ताल में पाया कि वीडियो नेपाल से अयोध्या तक निकाले गए जुलूस का नहीं है, बल्कि ग्रेटर नोएडा का है।

क्या वायरल हो रहा है?

ट्विटर यूजर माधव खुराना ने वायरल दावे को अपने वॉल पर शेयर किया है।

Advertisement

दूसरे यूजर्स भी यही वीडियो इसी दावे के साथ शेयर कर रहे हैं।

Advertisement

कैसे हुई पड़ताल?

हमने वीडियो को InVid टूल में अपलोड किया, जिससे कुछ कीफ्रेम मिले। कीफ्रेम को रिवर्स इमेज सर्च में डालने पर एक फेसबुक रील मिला, जिसमें बताया गया है कि वीडियो ग्रेटर नोएडा का है।

FB
स्क्रीनशॉट

हमें एक न्यूज रिपोर्ट में वीडियो का स्क्रीनशॉट भी मिला। नवभारत टाइम्स की एक रिपोर्ट में बताया गया है कि यह वीडियो उस कार्यक्रम का है जब बागेश्वर धाम सरकार धीरेंद्र शास्त्री ग्रेटर नोएडा आए थे। स्क्रीनशॉट

NBT

हमें इस आयोजन और छह महीने पहले निकाली गई कलश यात्रा के बारे में एक समाचार रिपोर्ट भी मिली।

वीडियो 9 जुलाई, 2023 को अपलोड किया गया था।

हमने 22 जनवरी, 2024 को प्राण प्रतिष्ठा समारोह के दौरान अयोध्या में आए जुलूसों से जुड़ी समाचार रिपोर्टों की भी जांच की। हमें इंडिया टुडे पर एक वीडियो रिपोर्ट मिली, जिसमें भारत में नेपाल के दूत डॉ. शंकर प्रसाद शर्मा अयोध्या में राम मंदिर के उद्घाटन पर खुशी व्यक्त करते नजर आ रहे हैं।

खबरो में यह भी उल्लेख किया गया था कि नेपाल के जनकपुर से लगभग 500 लोग 3000 उपहार लेकर अयोध्या के लिए एक बड़े जुलूस के रूप में निकले थे। उपहार में आभूषण, रसोई के बर्तन, कपड़े और बहुत कुछ शामिल था। हमें इस बारे में एक समाचार रिपोर्ट भी मिली।

Times Now
स्क्रीनशॉट

रिपोर्ट में उल्लेख किया गया है: भक्ति भाव में, भगवान राम के लगभग 500 अनुयायियों ने नेपाल के जनकपुर धाम राम जानकी मंदिर से अयोध्या तक की यात्रा की। विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) ने जनकपुर से अयोध्या तक की यात्रा का आयोजन किया। उनके काफिले में श्री राम और माता जानकी के लिए 3,000 से अधिक उपहार थे, जिनमें धन, कपड़े, फल, मिठाइयाँ, सोना और चांदी शामिल थे।

निष्कर्ष: जिस वायरल वीडियो को नेपाल से अयोध्या तक निकाले गए जुलूस का बताया जा रहा है, वह दरअसल ग्रेटर नोएडा में निकाले गए जुलूस का वीडियो है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो