scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Fact Check: हाथों के बल केदारनाथ मंदिर की परिक्रमा कर रहे पुजारी के वीडियो को पीएम मोदी के नाम किया जा रहा वायरल

एक वायरल वीडियो में बर्फबारी के बीच हाथों के बल चलकर केदारनाथ मंदिर की परिक्रमा करते व्यक्ति को दिखाया गया है। सोशल मीडिया यूजर्स प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम के साथ इस वीडियो को शेयर कर रहे हैं। दावा किया जा रहा है यह वीडियो पीएम मोदी की युवावस्था का है, जब वह 26 वर्ष के थे।
Written by: जनसत्ता ऑनलाइन
नई दिल्ली | March 22, 2024 19:01 IST
fact check  हाथों के बल केदारनाथ मंदिर की परिक्रमा कर रहे पुजारी के वीडियो को पीएम मोदी के नाम किया जा रहा वायरल
वायरल दावा फर्जी है। (PC- X)
Advertisement
अंकिता देशकर

लाइटहाउस जर्नलिज्म को इंटरनेट पर वायरल हो रहा एक वीडियो मिला जिसमें एक व्यक्ति अपने हाथों के बल चलकर केदारनाथ मंदिर की परिक्रमा करता हुआ दिखाई दे रहा है। 3 मिनट 47 सेकेंड के वीडियो को शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है कि वीडियो में दिख रहा शख्स प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं। हालांकि जांच के बाद पता चला कि वीडियो में दिख रहा शख्स केदारनाथ का पुजारी है।

क्या वायरल हो रहा है?

फेसबुक यूजर 'देशप्रेमी जगदीश चन्द्र' ने वीडियो को अपने वॉल पर शेयर किया है।

Advertisement

https://www.facebook.com/100014997452866/videos/785203316271852

अन्य यूजर्स भी इस वीडियो को इसी दावे के साथ शेयर कर रहे हैं।

कैसे हुई पड़ताल?

हमने InVid टूल में वीडियो अपलोड किया, ऐसा करने से जो कीफ्रेम मिले उन्हें गूगल रिवर्स इमेज सर्च में डाला। हमें फेसबुक पेज ताज़ा ख़बर पर 5 अगस्त, 2021 को अपलोड किया गया एक वीडियो मिला। वीडियो की क्वालिटी 'वायरल वीडियो' की क्वालिटी से अच्छी है। वीडियो को गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है। लेकिन वीडियो पर लिखा है, 'श्री केदारनाथ ज्योतिर्लिंग द्वारा बनाया गया।'

इसके बाद हमने "Parikrama On Hands Around Kedarnath Temple" कीवर्ड से गूगल सर्च किया। इससे हमें इंडिया टीवी के यूट्यूब चैनल पर 3 साल पहले पोस्ट किया गया एक वीडियो मिला।

Advertisement

कैप्शन में लिखा है: अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर हाथ के बल चलते हुए केदारनाथ मंदिर के पुजारी। यह वीडियो कनक न्यूज़ द्वारा भी प्रसारित किया गया था।

Advertisement

हमने पाया कि वीडियो एएनआई से लिया गया था और पुजारी का नाम संतोष त्रिवेदी है।

चूंकि अच्छी क्वालिटी वाली वीडियो पर लिखा है, "श्री केदारनाथ ज्योतिर्लिंग द्वारा बनाया गया" तो हमने "श्री केदारनाथ ज्योतिर्लिंग" शीर्षक वाले फेसबुक पेजों और ग्रुप्स की खोज की। फेसबुक पर कीवर्ड सर्च का भी उपयोग किया।

हमें यह वीडियो श्री केदारनाथ ज्योतिर्लिंग नामक एक पेज मिला, जिसके 1.4 मिलियन फॉलोवर्स हैं।

https://www.facebook.com/watch/?v=494497048443826

कैप्शन में बताया गया कि वीडियो में परिक्रमा करते दिख रहे शख्स आचार्य संतोष त्रिवेदी हैं।

निष्कर्ष: केदारनाथ मंदिर के पुजारी संतोष त्रिवेदी का हाथों के बल चलकर परिक्रमा करने का वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो को शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है कि वीडियो में दिख रहा व्यक्ति भारत के पीएम नरेंद्र मोदी हैं। वायरल दावा झूठा है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो