scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Fact Check: सरकार या राजनीतिक दलों के खिलाफ सोशल मीडिया पोस्ट लिखने पर नहीं चलाया जाएगा मुकदमा

आदर्श आचार संहिता के निर्देशों में हमें कहीं भी नहीं मिला कि सरकार या राजनेता या राजनीतिक दलों के खिलाफ सोशल मीडिया पोस्ट लिखने वाले लोगों पर मुकदमा चलाया जाएगा।
Written by: जनसत्ता ऑनलाइन
नई दिल्ली | Updated: March 22, 2024 17:07 IST
fact check  सरकार या राजनीतिक दलों के खिलाफ सोशल मीडिया पोस्ट लिखने पर नहीं चलाया जाएगा मुकदमा
वायरल दावा फर्जी है। (PC- X)
Advertisement
अंकिता देशकर

लाइटहाउस जर्नलिज्म को विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर शेयर किया जा रहा एक पोस्ट मिला, जिसमें दावा किया जा रहा है कि 'मंत्रालय' व्हाट्सएप, फेसबुक, ट्विटर आदि जैसे प्लेटफार्मों की निगरानी करेगा। यह भी दावा किया गया कि सरकार या किसी प्रमुख व्यक्ति के खिलाफ सोशल मीडिया पोस्ट करने पर सजा होगी। हालांकि हमने अपनी जांच में य पाया कि दावा गलत है।

क्या वायरल हो रहा है?

X यूजर RAMGEECRR ने वायरल पोस्ट को अपने वॉल पर शेयर किया है।

Advertisement

अन्य यूजर्स भी इसी तरह की पोस्ट को विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर शेयर कर रहे हैं।

https://www.facebook.com/groups/632182062360303/posts/731510012427507/
https://www.facebook.com/groups/839912463476705/posts/1587152582086019/
https://www.facebook.com/challa.ssj.ram.phani/posts/pfbid02iuo7xBt9bMjdNiqyJxc4WQbYArgvAQtxf1ZNLgFwcRNkutUyRqkF9ubgws22ntswl

कैसे हुई पड़ताल?

हमने कुछ कीवर्ड को गूगल पर सर्च कर पड़लात की शुरुआत की। हमें कोई ऐसी न्यूज रिपोर्ट नहीं मिली, जिसमें यह बताया गया हो कि चुनाव की घोषणा होने के बाद सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा सोशल मीडिया प्लेटफार्मों को मॉनिटर करेगा।

इसके बाद हम भारत निर्वाचन आयोग की वेबसाइट पर गए। वहां आचार संहिता के पालन के संबंध में राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों को लेकर जो गाइडलाइन जारी की गई है, उसे देखा।

Advertisement

MCC
स्क्रीनशॉट

आदर्श आचार संहिता के निर्देशों में हमें कहीं भी नहीं मिला कि सरकार या राजनेता या राजनीतिक दलों के खिलाफ सोशल मीडिया पोस्ट लिखने या शेयर करने वालों पर मुकदमा चलाया जाएगा।

Advertisement

हमें एक रिपोर्ट मिली जिसमें सुझाव दिया गया था कि आदर्श आचार संहिता और उसके राजनीतिक विज्ञापन से जुड़े नियम सोशल मीडिया पर भी लागू होंगे।

News
स्क्रीनशॉट

जांच के अगले चरण में हमने नागपुर के पुलिस आयुक्त डॉ. रविंदर सिंगल से कॉन्टेक्ट किया। उन्होंने हमें बताया कि विभाग को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर पोस्ट करने वाले लोगों के खिलाफ मुकदमा चलाने के संबंध में ऐसी कोई जानकारी नहीं मिली है।

निष्कर्ष: सरकार या राजनीतिक हस्तियों के खिलाफ लिखने वाले लोगों के खिलाफ मुकदमा चलाने के लिए कोई 'मंत्रालय' सोशल मीडिया अकाउंट्स की निगरानी नहीं कर रहा है, वायरल दावा गलत है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो