scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Fact check: अखिलेश यादव पर जनता ने जूते-चप्पल नहीं, फूल-मालाएं फेंकी, वायरल वीडियो फर्जी है

(यह फैक्‍ट-चेक मूल रूप से आजतक फैक्ट चेक द्वारा क‍िया गया है। यहां इसे शक्ति कलेक्टिव के सदस्‍य के रूप में पेश क‍िया जा रहा है।)
नई दिल्ली | Updated: May 10, 2024 19:55 IST
fact check  अखिलेश यादव पर जनता ने जूते चप्पल नहीं  फूल मालाएं फेंकी  वायरल वीडियो फर्जी है
वायरल वीडियो फर्जी है। (PC: X)
Advertisement

आजतक फैक्ट चेक: लोकसभा चुनाव के बीच सोशल मीडिया पर समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव का एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो के जरिए कहा गया है कि प्रचार के दौरान उन पर जनता ने जूते-चप्पल फेंके। वीडियो में दिखता है कि अखिलेश एक बस के ऊपर खड़े होकर जनता का अभिवादन कर रहे हैं और जनता उनकी तरफ कुछ फेंक रही है। अखिलेश के साथ एक महिला भी नजर आ रही हैं। वीडियो पर लिखा है 'कन्नौज से लाइव'।

क्या है दावा?

इस वीडियो को शेयर करते हुए एक एक्स यूजर ने लिखा, "कान्नौज .. टोटी चोर अखिलेश. का चप्पल जूता से स्वागत"। इस पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है।

Advertisement

वीडियो को इसी कैप्शन के साथ यूजर्स फेसबुक पर भी शेयर कर रहे हैं।

जांच पड़ताल:

वायरल दावे के बारे में सर्च करने पर हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली कि अखिलेश यादव पर जनता ने जूते-चप्पल फेंके। हमने देखा कि वायरल वीडियो पर एक इंस्टाग्राम एकाउंट "vikashyadavauraiyawale" का नाम लिखा है। इस एकाउंट पर सर्च पर हमें ये वीडियो यहां 5 मई 2024 को अपलोड हुआ मिला। इस पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है।

जब हमने वायरल वीडियो को स्लो मोशन में देखा तो पाया कि अखिलेश यादव की तरफ फूल और मालाएं फेंकी जा रही हैं, न कि जूते- चप्पल। नीचे दी गई तस्वीरों में इन मालाओं को देखा जा सकता है। पूरे वीडियो में कहीं भी जूते-चप्पल नजर नहीं आ रहे हैं।

Advertisement

कब और कहां का है वीडियो?

Advertisement

वीडियो में "कन्नौज से लाइव" लिखा हुआ है, इस जानकारी के आधार पर खोजने पर हमें अखिलेश यादव के यूपी के कन्नौज में हुए रोड शो की खबरें मिलीं। दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के मुताबिक, 27 अप्रैल 2024 को अखिलेश यादव ने कन्नौज में रोड शो किया था। अखिलेश, कन्नौज लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं।

इस आधार पर हमने समाजवादी पार्टी का यूट्यूब चैनल देखा। हमें 27 अप्रैल 2024 का एक वीडियो मिला जिसमें अखिलेश के साथ वायरल वीडियो वाली महिला को देखा जा सकता है। इस वीडियो में महिला ने वही कपड़े पहने हैं जैसा कि वायरल वीडियो में दिख रहा है।

वीडियो में 6:35 के मार्क पर अखिलेश यादव के भाषण से पता चलता है कि ये महिला औरैया जिले के बिधूना की विधायक रेखा वर्मा हैं। वीडियो के टाइटल में बताया गया है कि ये भाषण अखिलेश ने रसूलाबाद कस्बे में दिया था। हमने वायरल वीडियो के बारे में विधायक रेखा वर्मा से बात की। उन्होंने भी यही कहा कि वीडियो 27 अप्रैल का है और रसूलाबाद में हुए रोड शो का है। रसूलाबाद कस्बा, कन्नौज सीट में ही आता है।

हमें अखिलेश यादव के इस रोड शो की कई ग्राउन्ड रिपोर्ट्स भी मिलीं लेकिन किसी में भी में उन पर जूते-चप्पल से हमले की बात नहीं कही गई है।

निष्कर्ष: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के वायरल वीडियो में कहा जा रहा है कि प्रचार के दौरान उन पर जनता ने जूते-चप्पल फेंके, लेकिन वीडियो में अखिलेश यादव की तरफ जो चीज फेंकी जा रही है वो जूते-चप्पल नहीं, बल्कि फूल-मालाएं हैं।

(यह फैक्‍ट-चेक मूल रूप से आजतक फैक्ट चेक द्वारा क‍िया गया है। यहां इसे शक्ति कलेक्टिव के सदस्‍य के रूप में पेश क‍िया जा रहा है।)

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो