scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

IPL 2024: दिल्ली में जन्में, घरेलू क्रिकेट मुंबई से खेले, कोलकाता के लिए पहली पारी में छाप छोड़ी; जानें कौन हैं अंगकृष रघुवंशी

अंगकृष रघुवंशी ने 11 साल की उम्र में गुड़गांव छोड़ दिया। अपने कौशल को निखारने के लिए मुंबई चले गए। उन्होंने 2022 अंडर-19 विश्व कप में 278 रन बनाए। यश ढुल की कप्तानी में भारत चैंपियन बना।
Written by: खेल डेस्‍क | Edited By: Tanisk Tomar
नई दिल्ली | Updated: April 04, 2024 17:02 IST
ipl 2024  दिल्ली में जन्में  घरेलू क्रिकेट मुंबई से खेले  कोलकाता के लिए पहली पारी में छाप छोड़ी  जानें कौन हैं अंगकृष रघुवंशी
कोलकाता नाइट राइडर्स के बल्लेबाज अंगकृष रघुवंशी। (फोटो - IPL)
Advertisement

इंडियन प्रीमियर लीग 2024 (IPL 2024) में बुधवार (3 अप्रैल) को भारत के एक और युवा प्रतिभा से परिचय हुआ। दिल्ली में जन्मे अंगकृष रघुवंशी ने इम्पैक्ट प्लेयर के तौर पर रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) के खिलाफ कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) के लिए आईपीएल में डेब्यू किया था। उस मैच में उन्हें बल्लेबाजी का मौका नहीं मिला था। रघुवंधी को बुधवार को दिल्ली कैपिटल्स (DC) के खिलाफ बल्लेबाजी का मौका मिला।

IPL 2024 DC vs KKR Live Score: Watch Here

Advertisement

अंगकृष ने अपनी फ्रेंचाइजी के लिए पहली ही पारी में एक धमाकेदार पारी खेली। 25 गेंदों पर 50 रन ठोक दिए। 4 चौकों और 3 छक्कों की मदद से इस पारी ने सुनील नरेन के साथ 104 रन की पार्टनरशिप कर मैच दिल्ली को बैकफुट पर धकेल दिया। अंगकृष का सफर किसी फिल्मी पटकथा से कम नहीं है। यह तीन महानगरों के इर्द-गिर्द घूमती दिखाई देती है। वह दिल्ली में जन्में, क्रिकेट में करियर बनाने के लिए मुंबई पहुंचे और कोलकाता के लिए पहली पारी में छाप छोड़ी।

भाई को हुआ कैंसर तो अस्पताल में सोए

रघुवंशी ने 11 साल की उम्र में गुड़गांव छोड़ दिया और अपने कौशल को निखारने के लिए मुंबई चले गए। ओपनर बल्लेबाज ने 2022 अंडर-19 विश्व कप में 278 रन बनाए थे। तब यश ढुल की कप्तानी में भारत चैंपियन बना था। अंगक्रिश के छोटे भाई कृष्ण एक टेनिस खिलाड़ी हैं। वह बचपन में ब्लड कैंसर से जूझे थे। तब अंगकृष अस्पातल में सोया करते थे। वह अपने भाई अकेला नहीं छोड़ते थे। इससे वह मानसिक रूप से काफी मजबूत हुए।

भाई के इलाज ने मानसिक रूप से मजबूत बनाया

अंगकृष की मां ने मलिका रघुवंशी ने द इंडियन एक्सप्रेस को बताया, " अंगकृष अस्पतालों में हमारे साथ सोता था। वो पांच साल सबसे भयानक थे। वह अपने छोटे भाई को कभी अकेला नहीं छोड़ता था। हां, हमने उसे सब कुछ मुहैया कराया है, लेकिन कृष्ण के इलाज की प्रक्रिया ने उसे मानसिक रूप से मजबूत बना दिया।"

Advertisement

अभिषेक नायर हैं अंगकृष के कोच

अंगकृष रघुवंशी ने 2023 में मुंबई के लिए लिस्ट ए और टी20 में डेब्यू किया। 18 वर्षीय खिलाड़ी ने सीके नायडू ट्रॉफी में शानदार प्रदर्शन किया। उन्होंने नौ मैचों में 765 रन बनाए। घरेलू व्हाइट बॉल क्रिकेट में बहुत बढ़िया प्रदर्शन नहीं हुआ, लेकिन नीलामी में केकेआर ने उन्हें चुना, जहां उनके बचपन के कोच अभिषेक नायर सहयोगी स्टाफ के सदस्य हैं।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो