scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

IPL 2024: सैलरी टाइम पर आती है परफॉर्मेंस नहीं, RCB के खराब प्रदर्शन पर ग्लेन मैक्सवेल को पूर्व भारतीय क्रिकेटर ने लताड़ा

आईपीएल 2024 में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु का प्रदर्शन काफी खराब रहा है। टीम 4 में 3 मैच हारी है। इनमें से 2 मैच घरेलू मैदान पर हारी है।
Written by: खेल डेस्‍क | Edited By: Tanisk Tomar
नई दिल्ली | April 03, 2024 18:42 IST
ipl 2024  सैलरी टाइम पर आती है परफॉर्मेंस नहीं  rcb के खराब प्रदर्शन पर ग्लेन मैक्सवेल को पूर्व भारतीय क्रिकेटर ने लताड़ा
आरसीबी की टीम (Source- AP Photo)
Advertisement

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (RCB) में हमेशा से अंतरराष्ट्रीय सितारे रहे हैं, लेकिन जब टीम को उनकी सबसे ज्यादा जरूरत होती है तो वे अक्सर क्लिक करने में चूक जाते हैं। इंडियन प्रीमियर लीग 2024 (IPL 2024) में भी ऐसा देखने को मिला है। मैक्सवेल फेल रहे हैं। आरसीबी ने इस सीजन में अपने चार आईपीएल मैचों में से तीन हारे हैं और मैक्सवेल ने चार पारियों में अब तक केवल 31 रनों का योगदान दिया है। कप्तान फाफ डु प्लेसिस भी चार मैचों में सिर्फ 65 रन बनाकर प्रभाव छोड़ने में नाकाम रहे।

पूर्व भारतीय क्रिकेटर मनोज तिवारी ने मैक्सवेल के निराशाजनक प्रदर्शन के लिए उनकी आलोचना की है। अनुज रावत के साथ तुलना करते हुए, तिवारी ने बताया कि रावत संघर्ष करते हैं तो समझा जा सकता है क्योंकि वह एक उभरते क्रिकेटर हैं, मैक्सवेल जैसे खिलाड़ियों का लगातार खराब प्रदर्शन हैरान करने वाला है। उन्होंने कंगारू क्रिकेटर पर चुटकी लेते हुए कहा कि इनकी सैलरी टाइम पर आ जाती है, लेकिन प्रदर्शन नहीं।

Advertisement

अनुज रावत को लेकर क्या बोले मनोज

मनोज तिवारी ने क्रिकबज को लेकर कहा, "आरसीबी को हमेशा देखा गया है कि वह एक हैवी बैटिंग टीम रही है, लेकिन इस समय ना बल्लेबाज रन बना रहे हैं और ना गेंदबाज उभर कर आ रहे हैं। आप मध्यक्रम में देखें अनुज रावत, पहले मैच में इतना बढ़िया प्रदर्शन रहा था उनका, लेकिन टेम्परामेंट वाइज वो पारी को पेस नहीं दे पा रहे हैं।"

मैक्सवेल को लेकर क्या बोले मनोज

मनोज तिवारी ने आगे कहा, " समझ सकते हैं कि उभरते हुए खिलाड़ी हैं, लेकिन ऐसे हालात में इतने बड़े खिलाड़ियों के साथ वक्त बिताने के बाद भी अगर आप नहीं सीख पा रहे हैं, तो इसका मतलब है कि ध्यान कहीं और जा रहा है। खासकर बड़े बल्लेबाजों को जब टीम रिटेन करती है, जैसे ग्लेन मैक्सवेल, सैलरी तो इनकी टाइम टू टाइम आ जाती है लेकिन परफॉर्मेंस नहीं आती है।"

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो