scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

IPL 2024: MI के कप्तान हार्दिक पांड्या की खराब रणनीति पर भड़के ब्रेट ली, बताया बुमराह से कहां करवानी थी गेंदबाजी

मुंबई की लगातार दूसरी हार के बाद ब्रेट ली ने हार्दिक पांड्या की रणनीति पर सवाल उठाए और बताया कि बुमराह से कहां गेंदबाजी करवानी थी।
Written by: खेल डेस्‍क
March 28, 2024 17:43 IST
ipl 2024  mi के कप्तान हार्दिक पांड्या की खराब रणनीति पर भड़के ब्रेट ली  बताया बुमराह से कहां करवानी थी गेंदबाजी
Bumrah and Hardik Pandya (Source- AP Photo)
Advertisement

IPL 2024: हार्दिक पांड्या की कप्तानी में आईपीएल 2024 के पहले दो मुकाबले में मुंबई इंडियंस को हार का सामना करना पड़ा। मुंबई को इस सीजन के अपने दूसरे लीग मैच में हैदराबाद की टीम ने 31 रन के अंतर से हरा दिया। इस मैच में हैदराबाद ने आईपीएल इतिहास का सबसे बड़ा स्कोर (277 रन) बनाया और इसके जवाब में मुंबई की टीम ने 246 रन बनाए, लेकिन जीत के लक्ष्य को हासिल नहीं कर पाई।

मुंबई की इस हार के बाद ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली इस टीम की रणनीति से नाखुश नजर आए। उन्होंने इस मैच में जसप्रीत बुमराह के इस्तेमाल पर पर कप्तान हार्दिक पांड्या पर सवाल उठाए जिन्होंने पॉवरप्ले के दौरान बुमराह से सिर्फ एक ओवर गेंदबाजी करवाई और बाकी के ओवर्स क्वेना मफाका और अन्य बॉलर से करवाए।

Advertisement

मुंबई ने गेंदबाजी में की गलती

हैदराबाद के खिलाफ हुए मैच में हार्दिक पांड्या ने बुमराह से 10 ओवर में सिर्फ एक ओवर गेंदबाजी करवाई और उन्हें 13वें ओवर के दौरान वापस लाया गया जब हैदराबाद की तरफ से क्रीज पर एडेन मार्करम और हेनरिक क्लासेन बल्लेबाजी कर रहे थे और इस टीम ने 3 विकेट के नुकसान पर 173 रन बना लिए थे। बुमराह को इस मैच में कोई भी विकेट नहीं मिल पाया, लेकिन उन्होंने अपने 4 ओवर के स्पैल में 36 रन दिए और उनका इकॉनामी रेट अन्य गेंदबाजों के मुकाबले सबसे कम था।

ब्रेट ली ने कहा कि हार्दिक पांड्या को पहले ओवर में बुमराह को गेंदबाजी देनी चाहिए थी और जब उन्हें चौथा ओवर दिया गया तब तक हैदराबाद ने खेल सेट कर लिया था और पहले तीन ओवर में इस टीम ने 40 रन बना लिए थे। ब्रेट ली ने कहा कि मुंबई इंडियंस ने गेंदबाजी में गलती की और बुमराह को पहला ओवर फेंकने के लिए देना चाहिए था। पिछले दो मैचों में बुमराह को बाद में लाया गया। मुंबई ने अपने पहले मैच में भी जब बुमराह को गेंदबाजी तब विरोधी टीम 42 रन बना चुकी थी और दूसरे मैच में भी स्कोर कुछ ऐसा ही था। यानी गेम पूरी तरह से सेट हो चुका था और जब वह वापस आए तब क्रीज पर मार्करम और क्लासेन थे। उनके लिए तब कोई फर्क नहीं पड़ रहा था कि कौन गेंदबाजी कर रहा है। अगर बुमराह पहले आते तो फर्क पड़ सकता था।

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो