scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

अमेरिका में 27 साल के भारतीय की जलकर मौत, मीडिया कंपनी में थे रिपोर्टर, पार्थिव शरीर को भारत लाने की तैयारी

अमेरिका के मैनहेटन के एक बिल्डिंग में आग लग लगी। जिसमें 27 साल के भारतीय नागरिक की मौत हो गई।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Jyoti Gupta
Updated: February 25, 2024 11:49 IST
अमेरिका में 27 साल के भारतीय की जलकर मौत  मीडिया कंपनी में थे रिपोर्टर  पार्थिव शरीर को भारत लाने की तैयारी
अमेरिका में भारतीय की जलकर मौत। (Linkedin)
Advertisement

अमेरिका में एक भारतीय की मौत का मामला सामने आया है। न्यूयार्क के मैनहेटन में एक आवासीय इमारत में आग लगने से यहां पत्रकार के रूप में काम करने वाले 27 साल के भारतीय नागरिक की जलकर मौत हो गई। शख्स का नाम फाजिल खान है।

आग मैनहेटन के हार्लेम में 2, सेंट निकोलस पैलेस पर छह मंजिला रिहाइशी इमारत में लगी था। आग लगने के कारण फाजिल खान की मौत हो गई जबकि 17 अन्य लोग घायल हो ग

Advertisement

लिथियम-आयन बैटरी के कारण लगी आग

मामले में न्यूयॉर्क नगर अग्निशमन विभाग ने कहा कि "विनाशकारी" आग लिथियम-आयन बैटरी के कारण लगी। खान न्यूयॉर्क में स्थित मीडिया कंपनी ‘द हेचिंगर रिपोर्ट’ के पत्रकार थे। न्यूयॉर्क में भारत के महावाणिज्य दूतावास ने खान की मृत्यु पर शोक व्यक्त किया और कहा कि वह उनके शव को भारत में उनके परिवार को वापस भेजने के लिए हर संभव सहायता प्रदान कर रहा है।

पार्थिव शरीर को भारत लाने की तैयारी

महावाणिज्य दूतावास ने शनिवार को एक पोस्ट में कहा, “न्यूयॉर्क के हार्लेम में आग की घटना में 27 साल के भारतीय नागरिक फाजिल खान की मौत के बारे में जानकर दुख हुआ।" महावाणिज्य दूतावास ने आगे कहा कि वह खान के परिवार और दोस्तों के संपर्क में है। हम उनके पार्थिव शरीर को भारत वापस लाने में हर संभव सहायता करेंगे।” बता दें कि पिछले कुछ दिनों के अंदर अमेरिका में भारतीयों की मौत का मामला बढ़ता जा रहा है।

Advertisement

भारतीय छात्रा जाह्नवी कंडुला को कुचलने वाले पुलिस वाले को नहीं मिलेगी सजा

अमेरिका में भारतीय छात्रा जाह्नवी कंडुला की मौत के मामले में आरोपी पुलिस अधिकारी को कोई सजा नहीं मिलेगा। इस पर भारत ने सवाल उठाया है। भारत ने अमेरिका से मामले में दोबारा रिव्यू करने को कहा है। जांच अधिकारियों की तरफ से कहा गया था कि आरोपी पुलिसवाले के खिलाफ पर्याप्त सबूत नहीं मिले हैं सूबतों के अभाव के कारण आरोपी अधिकारी पर मुकदमा नहीं चलाया जाएगा।

Advertisement

मामले में किंग काउंटी अभियोजक अटॉर्नी की दलील के बाद सिएटल में भारत के वाणिज्य दूतावास ने अधिकारियों के समक्ष यह मामला उठाया है। सिएटल में पिछले साल 23 जनवरी को रोड क्रास करते समय 23 वर्षीय कंडुला को अधिकारी केविन डेव द्वारा चलाए जा रहे एक पुलिस वाहन ने टक्कर मार दी थी, जिसके बाद कंडुला की मौत हो गई थी। हादसे के समय वाहन की रफ्तार 119 किलोमीटर प्रतिघंटा से ज्यादा थी। घटना के वक्त पुलिस अधिकारी के शरीर पर लगे कैमरे का ऑडियो वायरल होने के बाद सवाल उठे थे, जिसमें उनका सहकर्मी डेनियल ऑडेरर इस हादसे को लेकर हंसता हुआ सुनाई दिया था।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो