scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

खालिस्तानी नेता की हत्या की सुपारी लेने के आरोपी भारतीय नागरिक को चेक गणराज्य ने अमेरिका भेजा, आज होगी कोर्ट में पेशी

गुप्ता का प्रर्त्यपण ऐसे समय में हुआ है जब अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन वार्षिक आईसीईटी संवाद के लिए नई दिल्ली की यात्रा पर आने वाले हैं। सुलिवन अपने भारतीय राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के समक्ष इस मुद्दे को उठा सकते हैं।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: संजय दुबे
नई दिल्ली | Updated: June 17, 2024 10:08 IST
खालिस्तानी नेता की हत्या की सुपारी लेने के आरोपी भारतीय नागरिक को चेक गणराज्य ने अमेरिका भेजा  आज होगी कोर्ट में पेशी
खालिस्तानी नेता गुरपतवंत सिंह और भारतीय नागरिक निखिल गुप्ता। (फोटो- सोशल मीडिया)
Advertisement

खालिस्तानी अलगाववादी नेता गुरपतवंत सिंह पन्नून (Gurpatwant Singh) की कथित तौर पर हत्या की सुपारी लेने वाले भारतीय नागरिक निखिल गुप्ता (Nikhil Gupta) को चेक गणराज्य (Czech Republic) ने अमेरिका भेज दिया है। अमेरिकी सरकार ने चेक सरकार से उसके प्रत्यर्पण का अनुरोध किया था। उसे पिछले साल अमेरिका के ही अनुरोध पर गिरफ्तार किया गया था। ‘द वाशिंगटन पोस्ट’ अखबार की रिपोर्ट में निखिल गुप्ता के प्रत्यर्पण की खबर जारी करते हुए बताया है ‘‘गुप्ता को दो दिन पहले न्यूयॉर्क लाया गया है।’’ पुलिस उसे सोमवार को न्यूयॉर्क की एक संघीय अदालत में पेश कर सकती है। फिलहाल वह ब्रूकलिन में संघीय मेट्रोपॉलिटन हिरासत केंद्र में बंद है। उसे वहां बंदी के तौर पर रखा गया है।

Advertisement

भारत ने साजिश में हाथ होने से किया है इनकार

गुप्ता का प्रर्त्यपण ऐसे समय में हुआ है जब अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन वार्षिक आईसीईटी संवाद के लिए नई दिल्ली की यात्रा पर आने वाले हैं। सुलिवन अपने भारतीय राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के समक्ष इस मुद्दे को उठा सकते हैं।

Advertisement

आरोप है कि हत्या के लिए15,000 डॉलर एडवांस दिया गया था

‘द वाशिंगटन पोस्ट’ अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, संघीय अभियोजकों का आरोप है कि गुप्ता ने पन्नून की हत्या के लिए एक शख्स को सुपारी दी थी। इस काम के लिए उसे 15,000 डॉलर एडवांस में दिया था। उनका आरोप है कि इस काम में भारत सरकार का एक अधिकारी भी शामिल था, हालांकि उन्होंने उसका नाम नहीं बताया।

खालिस्तानी अलगाववादी नेता गुरपतवंत सिंह पन्नून की हत्या की साजिश मामले में किसी भी रूप में शामिल होने के आरोपों से भारत ने इनकार किया है। निखिल गुप्ता ने भी अपने वकील के जरिए कोर्ट को बताया है कि घटना में उसका कोई हाथ नहीं है। आरोप पूरी तरह से गलत है। उसे बेवजह फंसाया जा रहा है।

Advertisement

इससे पहले कनाडा के अधिकारियों ने अपनी जमीन पर खालिस्तानी आतंकवादी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या में भारत का हाथ का आरोप लगाया था। भारत में विभिन्न आतंकी आरोपों में वांछित कनाडाई नागरिक हरदीप सिंह निज्जर की 18 जून 2023 को सरे में एक गुरुद्वारे के बाहर गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 खेल tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो