scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

पाकिस्तान के 'पक्के दोस्त' का उइगर मुस्लिमों पर अत्याचार जारी, चीन को लेकर अमेरिका की रिपोर्ट में चौंकाने वाले खुलासे

चीनी सरकार ने 2017 से 2023 तक दस लाख से अधिक उइगर और अन्य मुस्लिम समूहों के सदस्यों को मनमाने ढंग से गिरफ्तार और हिरासत में लिया है।
Written by: न्यूज डेस्क
नई दिल्ली | Updated: April 23, 2024 08:49 IST
पाकिस्तान के  पक्के दोस्त  का उइगर मुस्लिमों पर अत्याचार जारी  चीन को लेकर अमेरिका की रिपोर्ट में चौंकाने वाले खुलासे
चीन में उइगर मुस्लिमों के साथ अन्याय हो रहा है।
Advertisement

इस्लामिक देश पाकिस्तान के पक्के दोस्त चीन को लेकर अकसर खबर आती रहती है कि वह अपने देश में रह रहे उइगर मुस्लिमों के साथ अन्याय कर रहा है। अब अमेरिका की एक रिपोर्ट आई है, जिसमे उसने कहा है कि चीनी सरकार ने 2017 से 2023 तक दस लाख से अधिक उइगर और अन्य मुस्लिम समूहों के सदस्यों को मनमाने ढंग से गिरफ्तार और हिरासत में लिया है।

शिनजियांग प्रांत में बढ़ रहा अत्याचार

मंगलवार को अमेरिका द्वारा जारी '2023 Country Reports on Human Rights Practices' में कहा गया कि चीन में मुख्य रूप से उइगर मुस्लिमों के खिलाफ अत्याचार के मामले बढे हैं। ज्यादातर मामले चीन के शिनजियांग प्रांत में हुए हैं।

Advertisement

अमेरिका की रिपोर्ट में मानवाधिकार मुद्दों को लेकर चीन की मनमानी को दर्शाया गया है। इसमें सरकार द्वारा जबरन गायब करना, सरकार द्वारा अत्याचार, जबरदस्ती चिकित्सा या मनोवैज्ञानिक एक्सरसाइज, कठोर जेल की सजा शामिल है। इसी तरह से 2017 के बाद से दस लाख से अधिक उइगर और अन्य मुस्लिम समूहों के सदस्यों को नजरबंदी शिविरों, जेलों में रखा गया है।

लोगों को बोलने की आजादी नहीं

रिपोर्ट में कहा गया है कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता और मीडिया की स्वतंत्रता पर प्रतिबंध के कारण वहां की स्थिति ठीक नहीं। पत्रकारों, वकीलों, लेखकों, ब्लॉगर्स, याचिकाकर्ताओं और अन्य लोगों के खिलाफ आपराधिक मुकदमा चलाना और साइट ब्लॉकिंग सहित कई तरीकों से लोगों को परेशान किया जाता है।

Advertisement

इसके अलावा चीन में मानवाधिकारों के हनन में उइगर सहित राष्ट्रीय, नस्लीय और जातीय अल्पसंख्यक समूहों के सदस्यों को निशाना बनाकर हिंसा से जुड़े अपराध भी शामिल हैं। यहां इन सदस्यों के खिलाफ जबरन श्रम और व्यक्तियों की तस्करी जैसे अपराध भी शामिल है।

Advertisement

चीन ने अत्याचार रोकने के लिए नहीं उठाए कोई कदम

रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकार ने उन अधिकारियों की पहचान करने या उन्हें दंडित करने के लिए विश्वसनीय कदम नहीं उठाया, जिन्होंने मानवाधिकारों का उल्लंघन किया है। ऐसी कई रिपोर्ट आई हैं कि चीनी सरकार या उसके एजेंटों ने 2023 के दौरान कई गैरकानूनी हत्याओं को अंजाम दिया था। रिपोर्ट के अनुसार कई मामलों में बहुत कम या कोई विवरण उपलब्ध नहीं था। फांसी के कोई सार्वजनिक आंकड़े नहीं उपलब्ध हैं।

ईद पर 26 की मौत

चीन के शिनजियांग प्रांत में नजरबंदी शिविरों में हिरासत में मौतों की कई खबरें आईं। रेडियो फ्री एशिया ने बताया कि शिनजियांग के मारालबेशी काउंटी में तुमशुक जेल ने ईद-उल-फितर की छुट्टी से पहले करीब 26 उइगर कैदियों के शव उनके परिवारों को सौंप दिए। इसके अलावा बड़े पैमाने पर कई कारणों से लोग गायब होते रहे।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 चुनाव tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो