scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

कनाडा सरकार के सालाना बजट में इस योजना पर शुरू हो गई बहस, मुस्लिम तुष्टिकरण का लगा आरोप, जानें क्या है स्कीम

कनाडा सरकार का कहना है कि विदेशियों के लगातार जमीन खरीदने से देश के लोगों के सामने समस्या आ गई है। कनाडा में जमीनें महंगी होती जा रही हैं। सरकार पहले अपने लोगों को गृहस्वामी बनाएगी।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: संजय दुबे
नई दिल्ली | Updated: April 18, 2024 12:49 IST
कनाडा सरकार के सालाना बजट में इस योजना पर शुरू हो गई बहस  मुस्लिम तुष्टिकरण का लगा आरोप  जानें क्या है स्कीम
पीएम जस्टिन ट्रूडो।(फोटो-इंडियन एक्‍सप्रेस)।
Advertisement

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो के एक फैसले से देश में हड़कंप मचा हुआ है। विपक्ष भी उनकी कड़ी आलोचना कर रहा है। उन्होंने अपने वार्षिक बजट में मुसलमानों के लिए हलाल गिरवी (Halal Mortgage) यानी हलाल लोन का ऐलान किया है। इसे वहां के लोग मुस्लिमों को रियायत देन वाला कदम बताते हुए तुष्टिकरण की नीति पर चलने की बात कह रहे हैं। सरकार का कहना है कि लोगों के वित्तीय सुविधाओं का दायरा बढ़ाया जा रहा है। दूसरी तरफ सरकार ने विदेशियों को उनके देश में जमीन खरीदने पर दो साल के लिए रोक लाने की बात कही है। सरकार चाहती है कि पहले अपने देश के लोगों को वह गृहस्वामी बनने का मौका देगी।

विदेशियों को जमीन खरीदने पर भी लगाई रोक

सरकार का यह बजट 16 अप्रैल को कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो और वित्त मंत्री क्रिस्टिया फ्रीलैंड ने ओंटारियो स्थित पार्लियामेंट हिल में पेश किया है। इस बजट में ही उन्होंने मुसलमानों से जुड़े हलाल गिरवी योजना की बात कही थी। इसके साथ ही सरकार ने अपने देश में विदेशियों के जमीन लेने पर दो साल के लिए रोक लगा दी। सरकार का कहना है कि विदेशियों के लगातार जमीन खरीदने से देश के लोगों के सामने समस्या आ गई है। कनाडा में जमीनें महंगी होती जा रही हैं। सरकार पहले अपने लोगों को गृहस्वामी बनाएगी।

Advertisement

इसी को ध्यान में रखते हुए अगले 2 साल यानी 1 जनवरी 2027 तक के लिए विदेशी लोगों के जमीन खरीदने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। हालांकि यह प्रतिबंध नया नहीं है। 1 जनवरी 2023 से 1 जनवरी 2025 तक के लिए विदेशी लोगों के जमीन खरीदने पर प्रतिबंध पहले से ही लगा हुआ है। सरकार ने केवल इसे और बढ़ाया है।

हलाल गिरवी क्या है?

इस्लामी, यहूदी धर्म और ईसाई धर्म में सूदखोरी और ब्याज वसूलने पर रोक है। इस्लाम के मुताबिक उधार लिया जा सकता है, लेकिन इस पर ब्याज वसूलना पाप है। इसी को ध्यान में रखते हुए वहां की सरकार ने मुसलमानों के लिए हलाल गिरवी योजना की शुरुआत की है। सोशल मीडिया पर कई लोगों ने इसको लेकर कई तरह की बातें कह रहे हैं। उनका मानना है कि इससे केवल समाज के एक वर्ग को फायदा होगा। इसीलिए सरकार ने हलाल गिरवी स्कीम ले आई है।

Advertisement

सरकार के इस कदम को लेकर कनाडा के लोगों ने सोशल मीडिया पर कई तरह की प्रतिक्रिया दी है। उनका कहना है यह खतरनाक है और इससे धार्मिक व्यवस्था के हिसाब से नियम बनाने के नई परंपरा शुरू हो जाएगी।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 चुनाव tlbr_img2 Shorts tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो