scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Houthi Rebels: अमेरिका-ब्रिटेन का यमन में हूती विद्रोहियों पर बड़ा हवाई हमला, बढ़ सकता है तनाव

अमेरिका और ब्रिटेन ने हूती विद्रोहियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। फिलिस्तीनियों के समर्थन में व्यापारिक जहाजों को निशाना बनाए जाने के बाद अमेरिका और ब्रिटेन ने इसके खिलाफ ताबड़तोड़ हवाई हमले किए हैं।
Written by: न्यूज डेस्क
January 12, 2024 11:00 IST
houthi rebels  अमेरिका ब्रिटेन का यमन में हूती विद्रोहियों पर बड़ा हवाई हमला  बढ़ सकता है तनाव
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर। फोटो- (इंडियन एक्‍सप्रेस)।
Advertisement

लाल सागर में फिलिस्तीनियों के समर्थन में व्यापारिक जहाजों को निशाना बनाए जाने के बाद अब अमेरिका और ब्रिटेन ने जवाबी हमला शुरू कर दिया है। यमन में एक साथ कई हूती विद्रोहियों के ठिकानों पर अमेरिका और ब्रिटेन ने हवाई हमले किए हैं। इन हमलों में हूती विद्रोहियों को भारी नुकसान हुआ है। दोनों देशों ने हूती विद्रोहियों के ठिकानों पर बमबारी की है। जानकारी के मुताबिक हूती ठिकानों पर टॉमहॉक मिसाइलों और लड़ाकू जेट विमानों से हमला कर उसके लॉजिस्टिक हब, वायु रक्षा प्रणाली और हथियारों के जखीरे को निशाना बनाया गया है। माना जा रहा है कि इन हवाई हमलों के बाद पश्चिम एशिया में तनाव बढ़ सकता है।

पहली बार हूती विद्रोहियों पर कार्रवाई

अमेरिका और ब्रिटेन ने हूती विद्रोहियों के खिलाफ पहली बार कार्रवाई की है। यह कार्रवाई हूती विद्रोहियों के उस हमले के बाद की गई है जिसमें उसने मालवाहक जहाजों को अपना निशाना बनाया था। इन हमलों के बाद हूती विद्रोहियों के खिलाफ चेतावनी भी जारी की गई थी। अमेरिका की ओर से बयान सामने आया था कि अगर मालवाहक जहाजों को हूती विद्रोहियों की ओर से निशाना बनाया गया तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि पिछले दिनों भारत ने भी अपने 5 युद्धपोत लाल सागर में तैनात कर दिए हैं।

Advertisement

20 देशों ने मिलकर शुरू किया ऑपरेशन प्रॉस्पेरिटी गार्जियन

हूती विद्रोहियों के खिलाफ कई देश एकजुट हो गए हैं। लाल सागर में हूतियों के हमलों को रोकने के लिए यूके, यूएस, ऑस्ट्रेलिया, बहरीन, बेल्जियम, कनाडा, डेनमार्क, जर्मनी, इटली, जापान, नीदरलैंड, न्यूजीलैंड, दक्षिण कोरिया और सिंगापुर ने मिलकर ऑपरेशन प्रॉस्पेरिटी गार्जियन लॉन्च किया है। इसमें हूती के ठिकानों को लगातार निशाना बनाया जा रहा है। इन देशों की ओर से चेतावनी दी गई है कि अगर हूती विद्रोहियों के हमले जारी रहे तो उसके खिलाफ कई बड़े हमले किए जाएंगे।

इनपुट-एजेंसी

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो