scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

आंखों की इस समस्या से जूझ रहे थे Raghav Chadha, करवानी पड़ी Vitrectomy! जानें क्यों पड़ी इसकी जरूरत

राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा की आंखों (raghav chadha eye) की सर्जरी हुई है। खबरों की मानें तो उन्हें Retinal detachment की समस्या थी जिसके लिए उन्हें Vitrectomy करवानी पड़ी। आइए, जानते हैं इस मेडिकल स्थिति के बारे में विस्तार से।
Written by: pallavi kumari
नई दिल्ली | May 02, 2024 13:36 IST
आंखों की इस समस्या से जूझ रहे थे raghav chadha  करवानी पड़ी vitrectomy  जानें क्यों पड़ी इसकी जरूरत
Raghav chadha eye hindi: राघव चड्ढा Retinal detachment की समस्या से परेशान थे। उन्हें Vitrectomy करवानी पड़ी। जानते हैं इस मेडिकल स्थिति के बारे में। (P.C. Indian Express)
Advertisement

राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा को अपनी आंखों (Raghav chadha eye hindi) की सर्जरी करवानी पड़ी है। खबरों की मानें तो पिछले कई दिनों से वो अपनी आंखों को लेकर परेशान थे और रेटिनल डिटैचमेंट की समस्या से जूझ रहे थे। समय के साथ उनकी स्थिति इतनी गंभीर हो गई कि उन्हें यूके जाकर आंखों की सर्जरी करवानी पड़ी। पर समझने वाली बात ये है कि आखिरकार रेटिनल डिटैचमेंट (Retinal Detachment) है क्या जिसके लिए उन्हें आंखों की सर्जरी करवानी पड़ी! ये स्थिति कितनी गंभीर और इसके लिए Vitrectomy की जरूरत क्यों पड़ी? जानते हैं इन तमाम चीजों के बारे में विस्तार से।

रेटिनल डिटैचमेंट क्या है-What is Retinal Detachment?

National Eye Institute के अनुसार रेटिनल डिटेचमेंट आंखों से जुड़ी समस्या है जो तब होती है जब आपकी रेटिना (Retina) यानी कि आपकी आंख के पीछे जो लाइट सेंसिटिव परत है, वो अपनी जगह से खिसक जाती है। यानी कि इसे ऐसे समझें कि रेटिना अपनी नॉर्मल पॉजिशन से दूर खींच गई है।

Advertisement

इसकी वजह से आप कई लक्षणों को महसूस कर सकते हैं जैसे कि
-सफाई से कुछ भी न दिखना
-आंखों में बहुत सारे नए फ्लोटर्स यानी छोटे-छोटे काले धब्बे दिखाई देना
-किसी को रोशनी से आंखों का चमक जाना और दिक्कत महसूस करना
-गंभीर स्थिति में आंखों की रोशनी भी जा सकती है।

Vitrectomy क्या है?

विट्रोक्टोमी (vitrectomy in hindi) आंख की एक सर्जरी है जो आपके आईबॉल पर जमा किसी भी प्रकार के तरल पदार्थ को निकाल देती है। यह गंदे तरल पदार्थ को हटाने और आपकी रेटिना (retina) या मैक्युला (macula) की रिपेयरिंग करने के लिए किया जाता है। इसमें गंदे तरल पदार्थ को हटाकर, नया और साफ तरह पदार्थ डाला जाता है।

Advertisement

कब पड़ती है इसकी जरूरत?

रेटिनल डिटैचमेंट में ये सर्जरी, रेटिना को उसकी जगह पर लाने और इसकी रिपेयरिंग के लिए की जाती है। इसमें रेटिना को उसकी जगह पर लाने के लिए विट्रीस ह्यूमर जेल को हटा दिया जाता है। इसके बाद सर्जरी के दौरान डैमेज टिशूज को हटाए जाते हैं और रेटिना डिटेचमेंट की लेजर रिपेयरिंग की जाती है। इसलिए, राघव चड्ढा को अपनी आंखों की विट्रोक्टोमी करवानी पड़ी।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 चुनाव tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो