scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Ramadan 2024: इफ़्तारी के बाद गुब्बारे की तरह फूल जाता है पेट और सांस तक लेने में होती है परेशानी? एसिडिटी और ब्लोटिंग से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये आसान टिप्स

खाने के बाद पेट फूलने की स्थिति को ब्लोटिंग कहा जाता है। ब्लोटिंग होने पर व्यक्ति को पेट में गैस बनना, हवा पास न होना, दर्द, सूजन आदि समस्याओं का सामना करना पड़ता है।
Written by: हेल्थ डेस्क
नई दिल्ली | Updated: March 19, 2024 11:25 IST
ramadan 2024  इफ़्तारी के बाद गुब्बारे की तरह फूल जाता है पेट और सांस तक लेने में होती है परेशानी  एसिडिटी और ब्लोटिंग से छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये आसान टिप्स
इफ्तारी का समय नजदीक आते-आते प्यास का एहसास अधिक बढ़ जाता है। ऐसे में दिन भर प्यासा रहने के बाद लोग रोज़ा खोलते वक्त एक साथ बहुत सारा पानी पी लेते हैं। इसके चलते ब्लोटिंग के साथ-साथ उल्टी मतली की परेशानी उन्हें परेशान कर सकती है। (P.C- Freepik)
Advertisement

रमजान का पाक महीना जारी है। गौरतलब है कि इस्लाम धर्म में रमजान के महीने का बेहद महत्व है। इस पूरे महीने मुस्लिम समुदाय के लोग अल्लाह की इबादत करते हुए उनके नाम का रोज़ा रखते हैं। रोज़े के दौरान लोग केवल सुबह सूर्योदय से पहले सुहूर यानी सहरी के समय और सूरज ढलने के बाद शाम को इफ़्तार में ही कुछ भी खा या पी सकते हैं। इससे अलग दिनभर पानी तक पीने की अनुमति नहीं होती है। यानी आपको पूरे दिन भूखा और प्यासा रहना पड़ता है। ऐसे में अधिकतर लोग खासकर इफ़्तारी में कुछ भी खाने के बाद बाद पेट फूलने की शिकायत से परेशान रहते हैं।

लोगों की शिकायत होती है कि दिनभर भूखा रहने के बाद इफ़्तारी में वे जब भी कुछ खाते हैं, तो अचानक उनका पेट बहुत अधिक मोटा होने लगता है। कई बार ये समस्या इतनी बढ़ जाती है कि व्यक्ति को सांस तक लेने में परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसके साथ ही सीने में जलन, उल्टी मतली का एहसास भी परेशानी का कारण बन जाता है।

Advertisement

वहीं, अगर आप भी इस तरह की परेशानी का सामना कर रहे हैं, तो ये आर्टिकल आपके लिए मददगार साबित हो सकता है। दरअसल, खाने के बाद इस तरह पेट फूलने की स्थिति को ब्लोटिंग कहा जाता है। ब्लोटिंग होने पर व्यक्ति को पेट में गैस बनना, हवा पास न होना, दर्द, सूजन आदि समस्याओं का सामना करना पड़ता है। वहीं, सीने में जलन और असहजता का एहसास एसिडिटी के चलते हो सकता है। इसी कड़ी में यहां हम आपको कुछ खास टिप्स बता रहे हैं, जिन्हें अपनाकर आप इन तमाम परेशानियों से निजात पा सकते हैं। आइए जानते हैं इनके बारे में-

पानी

इफ्तारी का समय नजदीक आते-आते प्यास का एहसास अधिक बढ़ जाता है। ऐसे में दिन भर प्यासा रहने के बाद लोग रोज़ा खोलते वक्त एक साथ बहुत सारा पानी पी लेते हैं। इसके चलते ब्लोटिंग के साथ-साथ उल्टी मतली की परेशानी उन्हें परेशान कर सकती है। ऐसे में एक साथ बहुत सारा पानी पीने से बचें। अगर प्यास का एहसास ज्यादा है तो आप नारियल पानी या छाछ पी सकते हैं। इससे आपकी प्यास भी शांत होगी और आपको पेट से जुड़ी परेशानियों का सामना भी नहीं करना पड़ेगा।

Advertisement

खाने को चबाकर खाएं

अक्सर भूख का एहसास अधिक होने पर इफ़्तार के समय लोग खाने को जल्दी-जल्दी खाना शुरू कर देते हैं। बता दें कि ये आदत भी ब्लोटिंग या एसिडिटी का कारण बन सकती है। दरअसल, खाने का पाचन आपके मुंह से ही शुरू हो जाता है। वहीं, जल्दबाजी में खाने से, खाना ठीक तरह से डाइजेस्ट नहीं हो पाता है। यही वजह है कि एक्सपर्ट्स खाने को धीरे-धीरे अच्छी तरह चबाकर खाने की सलाह देते हैं। ऐसा करने पर पाचन तेजी से होता है, साथ ही इससे खाने से पूरा पोषण प्राप्त किया जा सकता है और इस तरह आपको पेट फूलने की दिक्कत नहीं होती है।

Advertisement

सौंफ खाएं

खाने के बाद एक चम्मच सौंफ खाने से आपको ब्लोटिंग की परेशानी से राहत मिल सकती है। सौंफ माउथ फ्रेशनर की तरह तो काम करती ही है, इसके अलावा खाना के बाद सौंफ का सेवन पाचन को भी बढ़ावा देता है। सौंफ के सेवन से गैस्ट्रिक एंजाइमों का उत्पादन करने में मदद मिलती है, जो पाचन प्रक्रिया को मजबूत बनाते हैं। इसके अलावा सौंफ में भरपूर मात्रा में फाइबर मौजूद होता है, फाइबर से भरपूर चीजें पाचन को बढ़ावा देती हैं, जिससे भी गैस और ब्लोंटिग की परेशानी से राहत मिल जाती है।

गुनगुना पानी पिएं

खाने के तुरंत बाद पानी पीने से बचें। इससे अलग आप इफ़्तारी करने के करीब 10 मिनट बाद गुनगुना पानी पी सकते हैं। गुनगुना या गर्म पानी भी पाचन को बढ़ावा देता है। ऐसे में ब्लोटिंग से आराम पाने के लिए आप गुनगुना पानी पी सकते हैं।

खाने के बाद वॉक जरूर करें

इन सब से अलग खाना खाने के तुरंत बाद बैठें नहीं, इससे पाचन प्रक्रिया धीमी हो जाती है। इससे अलग थोड़ी देर वॉक पर जरूर जाएं। खाने के बाद वॉक करने से खाना जल्दी और अच्छी तरह से पचता है और आपको पेट फूलने की शिकायत नहीं होती है।

Disclaimer: आर्टिकल में लिखी गई सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य जानकारी है। किसी भी प्रकार की समस्या या सवाल के लिए डॉक्टर से जरूर परामर्श करें।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो