scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

तेज सिर दर्द, हाई फीवर होने पर तुरंत कराएं डेंगू का टेस्ट, वरना बन सकता है जानलेवा, जानिए कौन-कौन से मेडिकल टेस्ट की मदद से करें इलाज

National Dengue Day 2024: डेंगू के टेस्ट और बीमारी की गंभीरता को देखते हुए ठीक ढंग से इलाज कराएं। किसी भी तरह की लापरवाही न करें, क्योंकि इसके कारण आपकी जानपर बन सकती है।
Written by: Shivani Singh
नई दिल्ली | Updated: May 16, 2024 17:56 IST
तेज सिर दर्द  हाई फीवर होने पर तुरंत कराएं डेंगू का टेस्ट  वरना बन सकता है जानलेवा  जानिए कौन कौन से मेडिकल टेस्ट की मदद से करें इलाज
National Dengue Day 2024: डेंगू के लक्षण, कारण, टेस्ट और निदान (PC-Freepik)
Advertisement

National Dengue Day 2024: गर्मी बढ़ने के साथ-साथ देश सबित दुनिया के कई हिस्सों में डेंगू (Dengue) के मामले तेजी से बढ़ने लगते हैं। मच्छरों से फैलने वाली ये बीमारी काफी खतरनाक मानी जाती है। जिसके कारण हर साल हजारों लोग अपनी जान गंवा देते हैं। गर्मी के मौसम से लेकर बारिश तक डेंगू के मामले तेजी से बढ़ने लगते हैं। बता दें कि डेंगू एडीज एजिप्टी नामक मच्छर के काटने से फैलता है।  इसके लक्षण 2-7 दिनों तक दिखाई देते हैं। इसके लक्षण फ्लू की तरह होते है जिसके कारण व्यक्ति इस पर ज्यादा ध्यान नहीं देते हैं। ऐसे में यह और भी ज्यादा गंभीर हो जाता है। ऐसे कई मामले देखने को मिले है कि शरीर में प्लेटलेट्स की मात्रा तेजी से से गिरने से व्यक्ति की जान पर बन आती है। इसलिए जरूरी है कि इस बारे में समय रहते पता करके इसका इलाज कराया जा सकता है। आइए जानते हैं न्यूबर्ग डायग्नोस्टिक्स के सलाहकार रोगविज्ञानी डॉ. आकाश शाह से कि कब डेंगू का टेस्ट करना है जरूरी। इसके साथ ही जानें किन टेस्ट के द्वारा पाएं सटिक जानकारी और इसका निदान।

बता दें कि हर साल 16 मई को राष्ट्रीय डेंगू दिवस ( National Dengue Day) मनाया जाता है। जिससे लोगों को इसके प्रति जागरूक कर सके। इस साल की थीम की बात करें, तो 'डेंगू रोकथाम: सुरक्षित कल के लिए हमारी जिम्मेदारी'। है। सही उपचार शुरू करने और गंभीर समस्याओं को रोकने के लिए समय पर इसका निदान करना आवश्यक है। डेंगू बुखार की जांच के लिए कब और कैसे परीक्षण करवाना है, यह समझना डेंगू बुखार वाले क्षेत्र विशेष में रहने वाले या उन क्षेत्रों को यात्रा करने वाले लोगों के लिए आवश्यक है।

Advertisement

कब कराएं डेंगू का टेस्ट

डेंगू के दिखे लक्षण (Symptoms Of Dengue)

डेंगू बुखार के लक्षणों से गुजर रहे व्यक्तियों को तुरंत चिकित्सीय सहायता लेनी चाहिए। सामान्य संकेतों और लक्षणों की बात करें, तो तेज बुखार, भयानक सिरदर्द, जोड़ों और मांसपेशियों में दर्द, दाने, मतली, उल्टी और थकान शामिल हैं। बता दें कि लक्षणों की शुरुआत आमतौर पर संक्रमित मच्छर द्वारा काटे जाने के 4 से 10 दिन बाद होती है।

हो कोई ट्रेवल हिस्ट्री

जिन क्षेत्रों में डेंगू बुखार फैला हुआ है। अगर उस स्थान की आपने यात्रा की है और  वहां से लौटने के दो सप्ताह के अंदर कुछ लक्षण दिखाई देते हैं, तो आपको तुरंत ही जांच करानी चाहिए।

स्थानीय संचरण

ऐसे क्षेत्रों में जहां डेंगू बुखार अक्सर पाया जाता है या फैल रहा है। स्वास्थ्य सेवा प्रदाता अकारण हुए किसी बुखार या डेंगू जैसे लक्षणों वाले व्यक्तियों के लिए परीक्षण की सिफारिश कर सकते हैं, भले उन्होंने कोई यात्रा न भी की हो।

Advertisement

पुष्टि किए गए मामलों से संपर्क करें

अगर आप डेंगू बुखार से पीड़ित किसी व्यक्ति के संपर्क में आए हैं, तो लक्षणों की निगरानी जरूर करें। अगर आपको डेंगू के एक भी लक्षण नजर आते हैं, तो तुरंत ही डॉक्टर से संपर्क करके जांच कराएं।

Advertisement

डेंगू का कैसे कराएं टेस्ट

किसी डॉक्टर के पास जाएं

 अगर आपको संदेह है कि आपको डेंगू बुखार है या आप इस वायरस के संपर्क में आए हैं, तो किसी डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं। कई बार बिना टेस्ट के ही डॉक्टर आपके लक्षणों, चिकित्सा इतिहास और यात्रा इतिहास का मूल्यांकन करके बेहतरीन इलाज कर देते हैं।

डेंगू के लिए ब्लड टेस्ट

डेंगू बुखार के बारे में सटीक जानकारी ब्लड टेस्ट के द्वारा आसानी से मिल सकती है, जो संक्रमण की प्रतिक्रिया में प्रतिरक्षा प्रणाली द्वारा उत्पादित डेंगू वायरस या एंटीबॉडी की उपस्थिति का पता लगाता है। सामान्य टेस्ट में NS1 एंटीजन परीक्षण और सेरोलॉजिकल परीक्षण (IgM और IgG एंटीबॉडी)
शामिल हैं।

ऐसी स्थिति में हो जाए एडमिट

डॉ अजय शाह के मुताबिक  अगर किसी व्यक्ति को डेंगू बुखार के गंभीर मामलों में, विशेष रूप से भयंकर पेट दर्द, लगातार उल्टी, रक्तस्राव, या रक्त-प्रवाह में कमी के संकेत जैसे लक्षण नजर आते हैं,तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। हो सके तो हॉस्पिटल में एडमिट हो जाना चाहिए।

डेंगू का सही उपचार (Precution For Dengue)

इस बारे में डॉ अजय शाह बताते हैं कि अभी तक डेंगू बुखार का कोई विशिष्ट उपचार नहीं है, लेकिन संक्रमण के जोखिम को कम करने के लिए मच्छरों के काटने से बचाव करना आवश्यक है। खासकर ऐसे समय में जब मच्छरों के काटने का चरम समय होता है। ऐसे में खुद को काटने से बचाने के लिए, कीट निरोधकों का प्रयोग करें, लंबी आस्तीन की शर्ट और पैंट पहनें। इसके अलावा मच्छरदानी या क्रीम का इस्तेमाल करें।

डेंगू बुखार का जल्द पता लगाने और तत्काल चिकित्सीय देखभाल से डेंगू बुखार से जुड़ी गंभीर समस्याओं के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है। बीमारी के संकेतों और लक्षणों के बारे में जानकारी रखकर और आवश्यकता पड़ने पर समय पर परीक्षण कराकर आप अपने स्वास्थ्य और तंदुरुस्ती की रक्षा के लिए सक्रिय कदम उठा सकते हैं।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 चुनाव tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो