scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

क्या हैं पानी पीने के 7 बेस्ट टाइम? एक्सपर्ट ने बताया सोकर उठने से लेकर नहाने से पहले तक, कब-कब है जरूरी

खाना खाने से करीब आधे घंटे पहले पिया गया पानी पाचन एंजाइमों के उत्पादन को उत्तेजित कर पेट को भोजन के लिए तैयार करने में मदद करता है। वहीं, ऐसा माना जाता है कि नहाने से पहले पानी पीना आपके रक्त को अस्थायी रूप से पतला कर सकता है, जिससे आपके हृदय के लिए पंप करना आसान हो जाता है।
Written by: हेल्थ डेस्क | Edited By: Shreya Tyagi
नई दिल्ली | April 06, 2024 16:11 IST
क्या हैं पानी पीने के 7 बेस्ट टाइम  एक्सपर्ट ने बताया सोकर उठने से लेकर नहाने से पहले तक  कब कब है जरूरी
सोने से पहले पानी पीने से ये सोते समय जलयोजन के स्तर को बनाए रखने में मदद करता है और सुबह शुष्क मुंह या सिरदर्द जैसे निर्जलीकरण के लक्षणों को रोक सकता है। (P.C- Freepik)
Advertisement

आज के समय में लोग अपनी सेहत के प्रति अधिक सजग हो रहे हैं। खुद को फिट रखने के लिए वे तमाम तरह के नुस्खे अपनाने को तैयार रहते हैं। इसी कड़ी में अच्छी सेहत के लिए खासकर सोशल मीडिया पर एक से बढ़कर एक ट्रिक्स का तांता लगा रहता है। कई सोशल मीडिया इंफ्लुएंसर्स, डाइटिशियन, न्यूट्रिशनिस्ट अपने सोशल मीडिया हैंडल पर आए दिन कई तरह की टिप्स शेयर करते नजर आ जाते हैं।

हाल ही में पोषण विशेषज्ञ सिमरन वोहरा ने भी अपने इंस्टाग्राम हैंडल पर एक पोस्ट शेयर की है। इस पोस्ट में न्यूट्रिशनिस्ट ने दिन में पानी पीने के 7 सबसे बेहतर समय के बारे में बताया है। न्यूट्रिशनिस्ट के मुताबिक, इन 7 समय पर पानी पीने से आपकी सेहत को एक साथ कई फायदे मिल सकते हैं। आइए एक नजर डालते हैं न्यूट्रिशनिस्ट की पोस्ट पर साथ ही जानेंगे कि क्या वाकई सिमरन वोहरा का बताया गया समय ही पानी पीने के लिए उचित है-

Advertisement

क्या है पानी पीने का बेस्ट टाइम?

  • पोस्ट के मुताबिक, व्यक्ति को रोज सोकर उठने के बाद पानी पीना चाहिए। इस समय पानी आंतरिक अंगों को सक्रिय करने में मदद करता है।
  • वर्कआउट के बाद पानी पीना चाहिए, ये हृदय गति को सामान्य करने में मदद करता है।
  • भोजन से 30 मिनट पहले पानी पीना चाहिए। ये पाचन में मदद करता है।
  • स्नान करने से पहले पानी पीने से रक्तचाप को कम करने में मदद मिलती है।
  • रात को सोने से पहले पानी पीने पर शरीर में किसी भी तरल पदार्थ की कमी को पूरा करने में मदद मिलती है।
  • जब आप थकान महसूस कर रहे हों, तो पानी पीना बेस्ट हो सकता है। इस समय पिया गया पानी आपके सिस्टम को रिचार्ज करने में मदद करता है।
  • इन सब से अलग बीमार होने की स्थिति में पानी पीना जरूरी है। पानी शरीर को हाइड्रेट रखकर ठीक से काम करने के लिए एनर्जी प्रदान करता है।

क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स?

वहीं, पोषण विशेषज्ञ सिमरन वोहरा की इस पोस्ट को लेकर इंडियन एक्सप्रेस संग हुई एक खास बातचीत के दौरान वॉकहार्ट हॉस्पिटल्स, मीरा रोड के कंसल्टेंट गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिस्ट डॉ. प्रतीक टिबड़ेवाल ने बताया, 'किसी भी व्यक्ति के लिए पूरे दिन हाइड्रेटेड रहना जरूरी है। बताए गए इन 7 समय पर पानी पीना यकीनन फायदेमंद हो सकता है। हालांकि, इससे अलग भी व्यक्ति को अपने शरीर की बात को सुनना चाहिए। आप अपनी व्यक्तिगत जरूरतों को ध्यान में रखकर पानी का सेवन सुनिश्चित कर सकते हैं।'

न्यूट्रिशनिस्ट द्वारा बताया गया समय कैसे हो सकता है फायदेमंद?

सबसे पहले उठने के बाद

डॉ. टिबड़ेवाल के मुताबिक, सुबह सोकर उठने के बाद पानी का सेवन आपके चयापचय को शुरू करता है, घंटों की नींद के बाद आपके शरीर को हाइड्रेट करता है और विषाक्त पदार्थों को खत्म करने में मदद करता है।

Advertisement

वर्कआउट के बाद

डॉ. टिबड़ेवाल बताते हैं, जब आप व्यायाम करते हैं तो आपके शरीर से पसीने के जरिए पानी बाहर निकल जाता है। ऐसे में वर्कआउट के बाद पानी पीने से खोए हुए तरल पदार्थों की भरपाई करने में मदद मिलती है, जलयोजन स्तर बहाल होता है और आपकी हृदय गति वापस सामान्य हो जाती है। इसके अतिरिक्त ये मांसपेशियों की रिकवरी में भी सहायता करता है और निर्जलीकरण को रोकता है।

भोजन से 30 मिनट पहले

खाना खाने से करीब आधे घंटे पहले पिया गया पानी पाचन एंजाइमों के उत्पादन को उत्तेजित कर पेट को भोजन के लिए तैयार करने में मदद करता है। डॉ. टिबड़ेवाल ने कहा, इस समय पानी का सेवन तृप्ति की भावना को बढ़ाकर आपको ओवरईटिंग से भी बचाता है।

नहाने से पहले

डॉ. टिबड़ेवाल बताते हैं, ऐसा माना जाता है कि नहाने से पहले पानी पीना आपके रक्त को अस्थायी रूप से पतला कर सकता है, जिससे आपके हृदय के लिए पंप करना आसान हो जाता है। हालांकि, यह चिकित्सा उपचार का विकल्प नहीं है।

बिस्तर पर जाने से पहले

सोने से पहले पानी पीने से ये सोते समय जलयोजन के स्तर को बनाए रखने में मदद करता है और सुबह शुष्क मुंह या सिरदर्द जैसे निर्जलीकरण के लक्षणों को रोक सकता है।

जब आप थका हुआ महसूस कर रहे हों

निर्जलीकरण थकान की भावनाओं में योगदान कर सकता है। डॉ. टिबड़ेवाल के मुताबिक, जब आप थकान महसूस कर रहे हों, तो पानी पीने से आपके शरीर को हाइड्रेट करने में मदद मिल सकती है। थकान से बचने के लिए पूरे दिन हाइड्रेटेड रहना महत्वपूर्ण है।

जब आप बीमार हों

बीमारी की स्थिति में जलयोजन महत्वपूर्ण है क्योंकि यह आपके शरीर के प्राकृतिक कार्यों का समर्थन करता है। डॉ. टिबड़ेवाल बताते हैं, पानी शरीर के इष्टतम तापमान को बनाए रखने में मदद करता है, जोड़ों को चिकनाई देता है, पाचन में सहायता करता है और कोशिकाओं तक पोषक तत्वों और ऑक्सीजन के परिवहन की सुविधा प्रदान करता है।

इस तरह इन 7 समय पर पिया गया पानी सेहत को कई तरह से फायदा पहुंचा सकता है।

Disclaimer: आर्टिकल में लिखी गई सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य जानकारी है। किसी भी प्रकार की समस्या या सवाल के लिए डॉक्टर से जरूर परामर्श करें।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 चुनाव tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो