होमताजा खबरचुनावराष्ट्रीयमनोरंजनIPL 2024
राज्य | उत्तर प्रदेशउत्तराखंडझारखंडछत्तीसगढ़मध्य प्रदेशमहाराष्ट्रपंजाबनई दिल्लीराजस्थानबिहारहिमाचल प्रदेशहरियाणामणिपुरपश्चिम बंगालत्रिपुरातेलंगानाजम्मू-कश्मीरगुजरातकर्नाटकओडिशाआंध्र प्रदेशतमिलनाडु
वेब स्टोरीवीडियोआस्थालाइफस्टाइलहेल्थटेक्नोलॉजीएजुकेशनपॉडकास्टई-पेपर

लापरवाही पड़ सकती है भारी! शरीर में अचानक दिखने वाले ये बदलाव हो सकते हैं Brain Stroke का संकेत

अचानक कुछ भी बोलने के लिए शब्द बनाने में कठिनाई महसूस होना या किसी की बातों को समझने में परेशानी होना स्ट्रोक का चेतावनी संकेत हो सकता है।
Written by: हेल्थ डेस्क | Edited By: Shreya Tyagi
नई दिल्ली | April 23, 2024 17:21 IST
समय-समय पर बिना वजह चक्कर आने जैसा महसूस होना या पर्याप्त आराम करने के बाद भी बिना वजह सिर में तेज दर्द होना भी ब्रेन स्ट्रोक का चेतावनी संकेत हो सकता है। (P.C- Freepik)
Advertisement

ब्रेन स्ट्रोक, जिसे आम भाषा में दिमाग का दौरा भी कहा जाता है, एक बेहद गंभीर और जानलेवा स्थिति है। दिमाग के एक हिस्से में रक्त प्रवाह के बाधित होने या कम होने या दिमाग की नसों में क्लॉटिंग होने पर किसी व्यक्ति को इस तरह की स्थिति का सामना करना पड़ सकता है। ब्लड फ्लो कम होने पर ब्रेन टिशू को ऑक्सीजन और पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं, जिससे स्ट्रोक जैसी गंभीर स्थिति पैदा हो जाती है।

वहीं, आमतौर पर स्ट्रोक अचानक आता है। हालांकि, दिमाग में इस तरह के गंभीर बदलाव होने पर शरीर में कुछ आम लक्षण नजर आने लगते हैं। यहां हम आपको ऐसे ही कुछ लक्षणों के बारे में बता रहे हैं, जिनकी समय रहते पहचान और सही इलाज के साथ खतरे को अधिक बढ़ने से रोका जा सकता है।

Advertisement

शरीर में ये 10 बदलाव नजर आते ही हो जाएं सावधान

अचानक कमजोरी या सुन्नता महसूस होना

स्ट्रोक के सबसे आम लक्षणों में से एक अचानक कमजोरी या सुन्नता का महसूस होना। इस संकेत पर ध्यान दें। अगर आपको पहले के मुकाबले पिछले कुछ दिनों से बिना वजह अधिक थकान हो रही है या खासकर शरीर की एक ओर सुन्नता का एहसास है, तो इसे लेकर लापरवाही बिल्कुल न बरतें। ब्रेक स्ट्रोक के मामले में सुन्नता चेहरे, बांह या पैर को प्रभावित कर सकती है।

बोलने या चीजों को समझने में परेशानी होना

अचानक कुछ भी बोलने के लिए शब्द बनाने में कठिनाई महसूस होना या किसी की बातों को समझने में परेशानी होना स्ट्रोक का चेतावनी संकेत हो सकता है। ऐसा ब्रेन के ठीक तरह से काम न कर पाने के चलते होता है। इस स्थिति में भी बिना अधिक देरी किए हेल्थ एक्सपर्ट्स से सलाह लेना जरूरी हो जाता है।

नजर का कमजोर हो जाना

अचानक दृष्टि में परिवर्तन होना, एक या दोनों आंखों से कम दिखाई देने लगना या चीजों को देखने में बहुत अधिक ध्यान केंद्रित करने की जरूरत महसूस होना भी आने वाले स्ट्रोक का संकेत हो सकता है। अगर आप इस तरह का लक्षण महसूस कर रहे हैं, तो इसे लेकर एक्सपर्ट्स से सलाह जरूर लें।

बार-बार चक्कर आना

समय-समय पर बिना वजह चक्कर आने जैसा महसूस होना, पर्याप्त आराम करने के बाद भी बिना वजह सिर में तेज दर्द होना, चलने या खड़े होने में कठिनाई होना, अपने पैरों में अस्थिरता महसूस होना आदि भी ब्रेन स्ट्रोक का चेतावनी संकेत हो सकता है।

चेहरे का झुकना

इन सब से अलग अगर आपको अपने चेहरे में कुछ असामान्य बदलाव नजर आ रहे हैं, विशेष रूप से चेहरा एक ओर लटका जैसा महसूस हो रहा है, तो ये स्ट्रोक का संकेत है। इस स्थिति में आपको चेहरे का एक हिस्सा झुका हुआ या ढीला दिखाई दे सकता है, साथ ही मुस्कुराने या चेहरे के भाव बनाने में कठिनाई भी महसूस हो सकती है। ये तमाम लक्षण नजर आने पर लापरवाही बरतना सेहत पर भारी पड़ सकता है।

Disclaimer: आर्टिकल में लिखी गई सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य जानकारी है। किसी भी प्रकार की समस्या या सवाल के लिए डॉक्टर से जरूर परामर्श करें।

Advertisement
Tags :
Brainhealth awarenesshealth news
विजुअल स्टोरीज
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।