scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

गोवाः स्मृति ईरानी की बेटी के बार के मामले में नया मोड़, जानिए स्थानीय शख्स ने आबकारी विभाग को लिखी चिट्ठी में क्या कहा

स्थानीय परिवार जो कैफ़े का मालिक है, उसने राज्य उत्पाद शुल्क को सूचित किया है कि संपत्ति विशेष रूप से इनका व्यवसाय है और इसमें कोई अन्य व्यक्ति शामिल नहीं है।
Written by: मयुरा जानवलकर | Edited By: Nitesh Dubey
Updated: July 30, 2022 09:36 IST
गोवाः स्मृति ईरानी की बेटी के बार के मामले में नया मोड़  जानिए स्थानीय शख्स ने आबकारी विभाग को लिखी चिट्ठी में क्या कहा
केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Express Photo by Tashi Tobgyal)
Advertisement

कांग्रेस द्वारा आरोप लगाया गया था कि गोवा के असगाओ में सिली सोल्स कैफे और बार केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की बेटी द्वारा चलाया जाता था। साथ ही आरोप लगाया गया था कि एक मृत व्यक्ति के नाम पर धोखाधड़ी से बार के लाइसेंस का नवीनीकरण किया था। वहीं अब एक स्थानीय परिवार जो प्रतिष्ठान का मालिक है, उन्होंने राज्य उत्पाद शुल्क को सूचित किया है कि संपत्ति विशेष रूप से इनका व्यवसाय है और इसमें कोई अन्य व्यक्ति शामिल नहीं है।

आबकारी आयुक्त द्वारा जारी एक कारण बताओ नोटिस का जवाब देते हुए मालिकों मेरलिन एंथोनी डी गामा और उनके बेटे डीन डी गामा ने यह भी कहा कि उन्होंने गोवा उत्पाद शुल्क अधिनियम के किसी भी प्रावधान का उल्लंघन में काम नहीं किया है। वकील एरेस रोड्रिग्स द्वारा दायर एक शिकायत पर कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था, जिसमें आरोप लगाया गया था कि कैफे के शराब लाइसेंस को जून में एक एंथनी डी गामा के नाम पर नवीनीकृत किया गया था, जिसकी मई 2021 में मृत्यु हो गई थी। उसका मृत्यु प्रमाण पत्र बृहन्मुंबई नगर निगम द्वारा जारी किया गया था।

Advertisement

22 जून को जवाब में कहा गया कि 20 अगस्त 2021 से परिवार की ओर से पावर ऑफ अटॉर्नी रखने वाले मर्लिन और डीन ने शराब लाइसेंस के नवीनीकरण के लिए आवेदन किया था, जो एंथनी के नाम पर था, और मृत्यु प्रमाणपत्र भी जमा किया था। इसमें कहा गया है कि डीन को एक अंडरटेकिंग देने के लिए कहा गया था कि लाइसेंस छह महीने के भीतर ट्रांसफर कर दिया जाएगा।

डी गामा परिवार ने कहा कि शिकायत और उन्हें जारी कारण बताओ नोटिस के कारण प्रतिवादी संख्या 1 जो 75 वर्ष से अधिक आयु का है,उसे तनाव, गंभीर मानसिक यातना और पीड़ा झेलना पड़ा है। साथ ही प्रतिवादी संख्या 2 जो एक जो एक छोटे बच्चे की देखभाल करते हैं, वह भी तनाव में हैं।

Advertisement

23 जुलाई को कांग्रेस नेताओं ने स्मृति ईरानी की बेटी द्वारा कथित रूप से चलाए जा रहे "अवैध रेस्तरां और बार" को लेकर उनके इस्तीफे की मांग की थी। बाद में उन्होंने एक कथित इंटरव्यू की एक वीडियो क्लिप का हवाला दिया जिसमें ईरानी की बेटी का "युवा उद्यमी" के रूप में साक्षात्कार किया गया था और सिली सोल्स कैफे एंड बार को उनके रेस्तरां के रूप में पेश किया गया था।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो