scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

17000 रेंट, 2 लाख का सैलरी पैकेज, जब सोहा अली खान को करनी पड़ी थी कॉरपोरेट जॉब, फिल्म के लिए छोड़ी नौकरी तो काटने पड़े थे बेरोजगारी में दिन

सोहा अली खान ने हाल ही में एक इंटरव्यू में अपने स्ट्रगल के दिनों को याद किया और बताया कि वो भले ही स्टार किड रहीं मगर उन्हें कॉरपोरेट जॉब करनी पड़ी थी। जब फिल्मों से ऑफर मिला तो नौकरी छोड़ दी थी, जिसके बाद उन्हें बेरोजगारी में दिन काटने पड़े थे।
Written by: एंटरटेनमेंट डेस्‍क | Edited By: Rahul Yadav
नई दिल्ली | Updated: May 16, 2024 16:47 IST
17000 रेंट  2 लाख का सैलरी पैकेज  जब सोहा अली खान को करनी पड़ी थी कॉरपोरेट जॉब  फिल्म के लिए छोड़ी नौकरी तो काटने पड़े थे बेरोजगारी में दिन
सोहा अली खान ने शेयर किया रिजेक्शन का किस्सा। (Photos- Soha Ali Khan/Insta)
Advertisement

बॉलीवुड में स्टारकिड्स को लेकर सवाल उठते रहे हैं कि उन्हें इंडस्ट्री में काम के लिए स्ट्रगल नहीं करना पड़ता है। आसानी से काम मिल जाता है, जिसकी वजह वो आसानी से अपना नाम कमा लेते हैं। स्टारकिड्स होने के नाते वो बिना स्ट्रगल किए नेम और फेम दोनों ही आसानी से कमा लेते हैं। लेकिन, स्टार्स और किड्स का मानना है कि ऐसा बिल्कुल नहीं है। उन्हें भी मेहनत करनी पड़ती है। ऐसे में अब पटौदी खानदान की बेटी और सैफ अली खान की बहन ने खुलासा किया है कि वो फिल्मों में आने से पहले कॉरपोरेट जॉब करनी पड़ी थी, जहां केवल 2 लाख रुपए सालाना पैकेट था और उनके घर का रेंट 17 हजार था। उन्हें फिल्म के लिए काफी स्ट्रगल करना पड़ा था और बेरोजगारी तक के दिन काटे हैं। चलिए बताते हैं उन्होंने क्या कुछ कहा है।

दरअसल, सोहा अली खान ने हाल ही में कर्ली टेल्स से बातचीत की है। इस दौरान उन्होंने हिंदी फिल्म से जुड़ा एक दिलचस्प किस्सा सुनाया। सोहा ने बताया कि फिल्मों कदम रखने से पहले उन्होंने कॉरपोरेट जॉब की थी। नो बैंक में नौकरी करती थीं क्योंकि उनके घर में वो पहली लड़की थीं, जिसके पास कॉरपोरेट की डिग्री थी। उन्होंने बताया कि वो अपनी लाइफ में घरवालों सैफ अली खान और मां शर्मिला टैगोर से थोड़ा अलग कुछ करना चाहती थीं।

Advertisement

पोस्ट ग्रैजुएशन के बाद मिला 2 लाख का पैकेज

सोहा ने बताया था कि उन्हें पहली जॉब कॉरपोरेट में मिली, जहां दो लाख का सालाना पैकेज था। ये पोस्ट ग्रैजुएट होने के बाद की सैलरी थी। उन दिनों एक्ट्रेस हर महीने 17 हजार रुपए मुंबई में अपने घर का रेंट पे कर रही थीं। उन्होंने कहा कि उन्हें नहीं पता कि लोग रॉयल फैमिली से होने के नाते क्या सोचते हैं लेकिन, उनके पास भी ज्यादा पैसे नहीं होते हैं। उन्होंने फिल्म से बाहर किए जाने का किस्सा भी बताया। सोहा ने बताया कि जब नौकरी छोड़ी तो घरवालों को इसकी जानकारी नहीं थी और ना ही उन्होंने किसी को बताया था। सोहा ने फिल्म के लिए नौकरी छोड़ दी थी। लेकिन अंतिम वक्त पर उन्हें इस प्रोजेक्ट से डायरेक्टर ने निकालकर बाहर कर दिया था।

3 महीने तक घरवालों को नहीं लगने दी भनक

सोहा ने बताया कि फिल्मों में आने का फैसला उनका खुद का था, जो कि उनके परिवार की इच्छाओं के खिलाफ था। उन्होंने 3 महीने तक घरवालों को भनक तक नहीं लगने दी थी कि एक्ट्रेस ने अपनी जॉब छोड़ दी थी और किसी फिल्म में काम कर रही थीं। एक्ट्रेस बताती हैं कि डायरेक्टर एक फेमस चेहरे के साथ काम करना ज्यादा पसंद करते थे और उनके पास उस समय काम नहीं था। वो सोच में पड़ गई थीं क्या और कैसे सब कुछ करें। ऐसे में उन्होंने लोगों को सलाह दी थी कि बिना किसी कॉन्ट्रैक्ट या साइनिंग अमाउंट के अपनी जॉब ना छोड़ें। इसे जोखिम भरा बताया।

Advertisement

आपको बता दें कि 60-70 के दशक की टॉप एक्ट्रेस रहीं शर्मिला टैगोर की बेटी सोहा अली खान ने फिल्म 'ये दिल मांगे मोर' से करियर की शुरुआत की थी। इसमें उनके साथ एक्टर शाहिद कपूर थे। फिल्मों में सोहा का करियर कुछ खास नहीं रहा है। भाई सैफ अली खान और मां के जैसे वो अपनी खास पहचान नहीं बना पाईं और ना ही इंडस्ट्री में लंबा टिक पाईं। अब वो पर्दे से दूर अपनी शादीशुदा जिंदगी को इन्जॉय करती हैं। उन्होंने एक्टर कुणाल खेमू के साथ शादी की है और इस शादी से उनकी एक बेटी भी है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो