scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

'एनिमल' में रणबीर कपूर के कैरेक्टर पर बिफरे शैलेश लोढ़ा, बोले- किसने कहा अल्फा मर्द…

'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' फेम शैलेश लोढ़ा ने हाल ही में रणबीर कपूर की 'एनिमल' पर अपनी प्रतिक्रिया दी है।
Written by: एंटरटेनमेंट डेस्‍क | Edited By: Sneha Patsariya
नई दिल्ली | February 19, 2024 13:59 IST
 एनिमल  में रणबीर कपूर के कैरेक्टर पर बिफरे शैलेश लोढ़ा  बोले  किसने कहा अल्फा मर्द…
शैलेश लोढ़ा (image: instagram, twitter)
Advertisement

टीवी का फेमस शो 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' में बीते काफी समय से विवादों में बना हुआ है। शो के कई कलाकारों ने मेकर्स पर गंभीर आरोप लगाए थे, तो वहीं कई कलाकार शो को अलविदा कह चुके हैं। इन्हीं में से एक हैं शो में तारक मेहता का किरदार निभा चुके शैलेश  लोढ़ा। लगभग दो साल पहले उन्होंने शो को छोड़ दिया था और मेकर्स पर फीस नहीं देने और अन्य अनियमितताओं के आरोप लगाए थे।

शैलेश लोढ़ा सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहते हैं। शो से बाहर आने के बाद एक्टर अपने बयानों के कारण चर्चा में बने रहते हैं। शैलेश हमेशा से ही अपने बेबाक अंदाज के लिए जाने जाते हैं। वह पॉलिटिक्स, टीवी और बॉलीवुड सहित अन्य इशुज पर खुलकर बात करते नजर आते हैं। अब हाल ही में एक्टर ने बीते साल रिलीज हुई रणबीर कपूर की ब्लॉकबस्टर फिल्म 'एनिमल' पर अपनी प्रतिक्रिया दी है।

Advertisement

'एनिमल' पर बिफरे शैलेश लोढ़ा

दरअसल शैलेश लोढ़ा हाल ही में आज तक एक कार्यक्रम का हिस्सा बने थे, जहां उन्होंने कई मुद्दों पर खुलकर बात की। इसी बीच एक्टर ने संदीप वांगा रेड्डी की फिल्म एनिमल पर भी तंज कसा। हालांकि इस फिल्म की कहानी और डायलॉग को लेकर काफी विवाद हो चुके हैं। इस फिल्म को महिला विरोधी बताया गया था। इसके बावजूद फिल्म ने 900 करोड़ से अधिक का कारोबार किया है।

अब शैलेश लोढ़ा ने रणबीर कपूर के कैरेक्टर अल्फा मेल रणविजय को लेकर कटाक्ष किया है। उन्होंने कहा कि इन दिनों ये अल्फा मेल काफी ट्रेंड कर रहा है कि अल्फा मर्द रोता नहीं है।

Advertisement

रोना दुनिया का सबसे बड़ा गिफ्ट है

शैलेश लोढ़ा ने कहा कि "किसने कहा है कि आदमी रो नहीं सकता या उसे नहीं रोना चाहिए। बिल्कुल रोना चाहिए। मेरा मानना है जो इंसान रोता नहीं है, वह संवेदना हीन है। उसके अंदर की फीलिंग्स खत्म हो गई है या फिर वो इंसान नहीं है। मैं रोता हूं। फिल्में देखकर रोता हूं। सड़क पर कुछ दुखद देख लेता हूं तो रो देता हूं। रोना दुनिया का सबसे बड़ा गिफ्ट है। इंसान को रोना चाहिए।"

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो