scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

'बख्शे नहीं जाएंगे…', DNA जांच की याचिका खारिज के बाद सामने आया रवि किशन का पहला रिएक्शन, बोले- 'न्याय तंत्र पर पूरा भरोसा है'

Ravi Kishan First Reaction: रवि किशन का डीएनए टेस्ट करवाने की मांग की याचिका को कोर्ट की ओर से खारिज कर दिया गया है। इसके बाद अब भोजपुरी स्टार और सांसद का पहला रिएक्शन सामने आया है।
Written by: एंटरटेनमेंट डेस्‍क | Edited By: Rahul Yadav
नई दिल्ली | April 26, 2024 17:26 IST
 बख्शे नहीं जाएंगे…   dna जांच की याचिका खारिज के बाद सामने आया रवि किशन का पहला रिएक्शन  बोले   न्याय तंत्र पर पूरा भरोसा है
कोर्ट के फैसले के बाद रवि किशन का रिएक्शन। (Photo- Ravi kishan/Insta)
Advertisement

भोजपुरी एक्टर और बीजेपी सांसद रवि किशन (Ravi Kishan) बीते कुछ दिनों से अपनी पर्सनल लाइफ को लेकर चर्चा में हैं। महिला शिनोवा शुक्ला ने खुद को रवि किशन की पत्नी होने का दावा किया है। साथ ही बेटी ने भी खुद को अभिनेता की बेटी बताया था। ऐसे में कोर्ट में इस बात को साबित करने के लिए महिला की ओर से डीएनए टेस्ट की डिमांड की थी। ऐसे में अब कोर्ट की ओर से इस याचिका को खारिज कर दिया गया है। साथ ही कोर्ट ने महिला को फटकार भी लगाई है। इसी बीच अब एक्टर का पहला रिएक्शन भी सामने आया है। उन्होंने कहा कि उनकी इमेज धूमिल करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा।

रवि किशन की टीम की ओर से उनका स्टेटमेंट जारी किया गया है। इसमें उनकी तरफ से गया कि इस केस में जिन-जिन लोगों ने छवि धूमिल करने का प्रयास किया है, उन सबको जेल जाना होगा और रवि किशन की मानहानि का हर्जाना भी भरना होगा। भोजपुरी स्टार का मानना है कि ये कोई साधारण आरोप नहीं था और इसे लोकसभा चुनावों के ठीक पहले पब्लिक में उछालकर एक बेहद गलत संदेश फैलाया गया और इससे लोगों के मन में तरह-तरह के विचार उत्पन्न होते लेकिन, समय रहते हुए ही माननीय अदालत ने दूध का दूध और पानी का पानी कर दिया।

Advertisement

महिला ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके किया था दावा

आपको बता दें कि कुछ ही दिनों पहले ही एक महिला अपर्णा सोनी उर्फ अपर्णा ठाकुर ने लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके मेगास्टार रवि किशन पर सनसनीखेज आरोप लगाते हुए कहा था कि रवि किशन उनकी बेटी शिनोवा के बायलोजिकल पिता हैं और इस महिला ने इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया का इस्तेमाल करते हुए प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक इन झूठे आरोपों के साथ पहुंचने की कोशिश की थी, जिसके बाद सांसद रवि किशन मुश्किलों में घिरते हुए नजर आए थे लेकिन, आज मुंबई के दिंडोशी कोर्ट से आए इस केस के फैसले से रवि किशन को बहुत बड़ी राहत मिली है। अभी डिटेल जजमेंट की कॉपी बाहर नहीं आई है लेकिन, रवि किशन के करीबियों का कहना है कि इस पूरे मामले में बड़ी साजिश रची गई थी, जिसका भंडाफोड़ आज अदालत में हो गया है और अब इस मामले में दोषियों को अंदर जाने के लिए तैयार रहना होगा।

लोकसभा चुनाव में जुटे हैं रवि किशन

देशभर में दूसरे चरण का 88 लोकसभा सीटों पर चुनाव हो रहे हैं। लोकसभा चुनाव सात चरणों में होने हैं। रवि किशन को भारतीय जनता पार्टी की टिकट पर गोरखपुर से फिर से सांसद का उम्मीदवार घोषित किया गया। इसी बीच महिला के दावे ने राजनीतिक गलियारों में खलबली मचा दी। अब कोर्ट के फैसले के बाद उनके फैंस और पार्टी ने राहत की सांस ली है। कोर्ट में डीएनए टेस्ट के लिए लगाई अर्जी पर स्पस्ट शब्दों में कहा गया कि प्रथम दृष्टया से ऐसा कुछ भी प्रतीत नहीं होता इसलिए यह डीएनए टेस्ट की याचिका खारिज की जाती है। एक्टर के करीबियों का कहना है कि ये आरोप केवल रवि किशन बदनाम करने के लिए लगाए गए हैं। ऐसे में देखना होगा कि अब रवि किशन पर क्या एक्शन लेते हैं।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो