scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

'पंचायत' में सचिव जी के साथ नजर आने वाले 'विकास' बड़े पर्दे पर आएंगे नजर , फिल्म का किया ऐलान

'पंचायत' वेब सीरीज में नजर आ चुके चंदन रॉय जल्द ही बड़े पर्दे पर नजर आएंगे। हाल ही में उनकी फिल्म तिरिछ का पोस्टर रिलीज हुआ है।
Written by: एंटरटेनमेंट डेस्‍क | Edited By: Sneha Patsariya
नई दिल्ली | Updated: May 01, 2024 13:47 IST
 पंचायत  में सचिव जी के साथ नजर आने वाले  विकास  बड़े पर्दे पर आएंगे नजर   फिल्म का किया ऐलान
चंदन रॉय (image: chandan/instagram)
Advertisement

OTT प्लेटफार्म्स पर अपनी धमक दिखा चुके 'पंचायत' वेब सीरीज के विकास यानी चंदन रॉय जल्द ही एक फीचर फिल्म में नजर आने वाले हैं। इस फिल्म का पोस्टर दिल्ली के PVR प्लाजा में एक प्रेस कांफ्रेंस में रिलीज किया गया। चंदन रॉय इस फिल्म में लीड रोल में नजर आएंगे। ये फिल्म मशहूर उपन्यासकार उदय प्रकाश की लिखी कहानी “तिरिछ” पर आधारित है और इस फिल्म को निर्देशित करेंगे युवा फिल्मकार संजीव के झा। पोस्टर लॉन्च के अवसर पर ये तीनों लोग मौजूद थे।

लीड रोल में नजर आएंगे चंदन रॉय

पोस्टर लॉन्च के दौरान चंदन रॉय ने कहा कि "मैने ये कहानी स्कूल के दिनों में पढ़ी थी लेकिन मैं ये सोच नहीं पा रहा था कि इस कहानी पर फिल्म कैसे बनेगी लेकिन जब निर्देशक और स्क्रीनप्ले राइटर संजीव के झा ने मुझे इस कहानी के एक दर्जन शेड्स समझाए तो मुझे लगा कि इस मौके को हाथ से नहीं जाने देना चाहिए। फिर कहानी जो सामने आई उसने मुझे और उत्साहित किया।"

Advertisement

क्या होगी फिल्म की कहानी

फिल्म के निर्देशक संजीव के झा ने कहा कि "ये फिल्म एक तरफ पिता-पुत्र के अनकहे रिश्ते की कहानी भी बयान करती है तो दूसरी तरफ समाज को एक नए नजरिए से देखती जो एक तरह से एक जान गंवा रहे वैसे इंसान की कहानी है जिसे पता नहीं चल रहा कि उसके साथ क्या हो रहा है। संजीव ने इससे पहले सिद्धार्थ मल्होत्रा और परिणीति चोपड़ा स्टारर 'जबरिया जोड़ी' और अमित साध अभिनीत 'बैरोट हाउस' जैसी फ़िल्में लिखी हैं। संजीव की लिखी मराठी फिल्म 'सूमी' ने पिछले साल दो नेशनल अवार्ड हासिल किए थे।"

फिल्म बनाना काफी चैलेंज हो सकता है

अपनी कहानी और संजीव के बारे में बात करते हुए उपन्यासकार उदय प्रकाश ने कहा कि "मुझे अपनी कहानी 'तिरिछ' बहुत पसंद है लेकिन मुझे लगता था कि इस कहानी पर फिल्म बनाना काफी चैलेंज हो सकता है लेकिन संजीव के झा की लगन और सोचने के तरीके से लगा कि इसे संजीव जैसा निर्देशक बेहतर तरीके से पर्दे पर उतार सकता है।"

दरअसल 'तिरिछ' छिपकली की तरह का एक प्राणी है जो सांप की तरह या उससे ज्यादा जहरीला होता है, और ये होता भी है या नहीं इस पर हमेशा से विवाद रहा है। ये कहानी सच और मिथक के बीच पिसते इंसान और उसके तिल तिल मरने की कहानी है। चालीस साल पहले लिखी गई ये कहानी गांव और शहर के बीच के द्वंद्व को भी दर्शाती है। ऐसी कहानी को पर्दे पर देखना निश्चित ही दिलचस्प होगा।

Advertisement

ऐसे मिला था चंदन को 'पंचायत' का ऑफर

बता दें चंदन रॉय का 'पंचायत' में काम मिलने के पीछे एक दिलचस्प किस्सा जुड़ा है। चंदन ने एक इंटरव्यू में बताया था कि "मैं उन दिनों मुंबई के अंधेरी वेस्ट के आराम नगर में ऑडिशन के लिए चक्कर लगाया करता था। एक दिन मुझे पता चला कि ‘कास्टिंग बे’ नाम की एक एजेंसी किसी वेब सीरीज़ के लिए ऑडिशन ले रही है। मैं भी वहां गया। एक व्यक्ति ने मुझे पहले ऊपर से नीचे तक देखा और फिर कहा रात 2 बजे आना। मैं रात में पहुंच गया। वो व्यक्ति मुझे देखकर चौक गए और बोले कि तुम आ गए। फिर उन्होंने मेरा ऑडिशन लिया और 'पंचायत' वेब सीरीज के लिए मेरा सिलेक्शन हो गया।"

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 चुनाव tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो