scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

JLF 2024: जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में गुलजार के शब्दों ने बांधा समां, इत्र की महक पर कह डाली ये बात

JLF 2024: जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल 1 फरवरी से शुरू हो चुका है और 5 फरवरी तक चलेगा। इसमें देश विदेश से 550 से अधिक लेखक और वक्ता आए हैं। गुलजार ने पहले दिन अपनी पंक्तियों से समां बांधा।
Written by: एंटरटेनमेंट डेस्‍क | Edited By: अभिषेक गुुप्ता
नई दिल्ली | Updated: February 02, 2024 13:15 IST
jlf 2024  जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में गुलजार के शब्दों ने बांधा समां  इत्र की महक पर कह डाली ये बात
गुलजार (फोटो-ट्विटरpriyankacmsk)
Advertisement

JLF 2024: जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल का आगाज हो चुका है। 1 फरवरी को शुरू हुआ ये फेस्टिवल 5 फरवरी तक चलने वाला है। साहित्य के इस महाकुंभ में देश-विदेश से 550 से अधिक लेखक, वक्ता आदि शामिल हो रहे हैं। इस फेस्टिवल का उद्घाटन राजस्थान की उप मुख्यमंत्री दिया कुमारी ने किया। भारत के जाने माने गीतकार गुलजार ने समां बांधा। उन्होंने अपने किताब का विमोचन भी किया गया।

बाल-ओ-पारः द बीटिंग हार्ट ऑफ पोएट्री सेशन में गुलजार ने रक्षअन्दा जलील और पवन वर्मा के साथ बातचीत की। रक्षाअन्दा और गुलजार ने उनकी किताब पर साथ में काम किया। गुलजार ने बताया कि कोरोना काल में उन्होंने वीडियो कॉल के माध्यम से रक्षअन्दा जलील के साथ जुड़कर किताब पर काम किया। उन्होंने ये भी बताया किताब के लिए उन्होंने वीडियो कॉल करना सीखा।

Advertisement

इस दौरान पवन वर्मा ने ट्रांसलेशन के बारे में बात की। उन्होंने कहा कि ट्रांसलेशन इत्र को एक बोतल से निकालकर दूसरी बोतल में डालने जैसा है। जिसमें थोड़ा इत्र बिखर जाता है। इसपर गुलजार ने कहा,"इत्र भले ही थोड़ा बिखर जाए लेकिन खुखबू नहीं जाती।"

गुलजार ने अपनी लिखी खूबसूरत पंक्तियां भी सुनाई। जो थी…"जिस्म सौ बार जले तब भी मिट्टी का ढेला,
रूह एक बार जले तो कुंदन ही होगी और फिर वह एक बाद सुनाते चले गए…मैं गमला ढूंढ रहा हूं, मुझे एक लफ्ज बोना है। मैं अक्सर जिक्र सुनता हूं मगर मानी नहीं आते, उगे तो शायद उसका कोई रंग. निकले या कोई पहचान खुशबू की कोई पत्ती या कोंपल निकले तो आकार से शायद समझ आए…"

Advertisement

इस फेस्टिवल में शास्‍त्रीय गायिका कलापिनी कोमकली ने भी राग भैरवी गाई। इसके बाद मीरा और कबीर के भजन से माहौल भक्तिमय हो गया।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो