scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

करीना कपूर की फिल्म 'क्रू' में गाना 'चोली के पीछे' देख भड़कीं ईला अरुण, बोलीं- मैं उन्हें किसी भी हाल में…

ईला अरुण ने हाल ही में बताया कि फिल्म 'क्रू' के 'चोली के पीछे' गाने को लेकर उनसे परमिशन नहीं ली गई थी।
Written by: एंटरटेनमेंट डेस्‍क | Edited By: Sneha Patsariya
नई दिल्ली | March 28, 2024 15:33 IST
करीना कपूर की फिल्म  क्रू  में गाना  चोली के पीछे  देख भड़कीं ईला अरुण  बोलीं  मैं उन्हें किसी भी हाल में…
ईला अरुण (image: youtube, ila/instagram)
Advertisement

करीना कपूर और कृति सेनन स्टारर फिल्म ' क्रू' इन दिनों चर्चा में बनी हुई है। फिल्म को रिलीज होने में अब महज एक ही दिन बाकी है। कल यानी 29 मार्च को यह फिल्म बड़े पर्दे पर रिलीज होने जा रही है। फिल्म की एडवांस बुकिंग शुरू हो चुकी है। फिल्म के ट्रेलर को काफी पसंद किया गया है।

फिल्म का गाना 'चोली के पीछे' भी लोगों के बीच खूब चर्चा में है। ईला अरुण की आवाज में गाया गया इसका ओरिजनल गाना बॉलीवुड के आइकॉनिक सॉन्ग में से एक रहा है। 'खलनायक' फिल्म के इस गाने को माधुरी दीक्षित पर फिल्माया गया था। हालांकि इस गाने पर काफी विवाद हुआ था।

Advertisement

अब यह गाना नए अंदाज में  'क्रू' से रिलीज हुआ है, जिस पर गायिका ईला अरुण भड़क गई हैं। उन्होंने बताया है कि नए गाने को लॉन्च करने से पांच मिनट पहले उन्हें बताया गया था। इस पूरे एक्सपीरिएंस से उन्हें झटका लगा था।

ईला अरुण ने 'क्रू' के गाने पर जताई नाराजगी

ईला अरुण ने हाल ही में इंडिया टुडे से हुई बातचीत में कहा कि "मुझे पता नहीं था कि 'चोली के पीछे' को रीक्रिएट किया गया है। गाना लॉन्च करने से महज 5 मिनट पहले उन्होंने मुझे फोन किया। ऐसे में उन्हें बधाई देने के अलावा मैं और क्या कर सकती थी? मैं उन्हें किसी भी हाल ही में मना नहीं कर सकती थी।  मैं हैरान रह गई, लेकिन उनसे ये नहीं पूछ सकी कि आखिर उन्होंने ऐसा क्यों किया। मैं इस गाने को लेकर कोई विवाद नहीं खड़ा करना चाहती। लेकिन लेकिन उनसे पूछ ही नहीं पाई कि उन्होंने ऐसा क्यों किया। तो इस गाने को लेकर मेरा रिएक्शन बिल्कुल वैसा ही है, जैसा अलका याग्निक का है।"

Advertisement

अपने गाने खुद बनाने चाहिए

गायिका ने आगे कहा कि "यह गाना आइकॉनिक था। कंपनियां मानती हैं कि पुराने गानों के रीक्रिएट करने से ये गाने नई और यंग जनता तक पहुंचते हैं, लेकिन ऐसा करने की क्या जरूरत है। यंग डायरेक्टर को अपने गाने खुद बनाने चाहिए। पुराने और प्रतिष्ठित गानों को क्यों खराब कर रहे हैं और अगर ऐसा किया जा रहा है कि ओरिजिनल आर्टिस्ट को भी इसमें काम मिलना चाहिए और प्रॉफिट का कुछ हिस्सा उन्हें भी मिलना चाहिए।"

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो